Sunday, July 07, 2024
Advertisement
  1. Hindi News
  2. पैसा
  3. मेरा पैसा
  4. Mutual Funds में निवेश को सुरक्षित रखने के ये उपाय हैं बेजोड़, इन बातों पर बिना देरी करें अमल

Mutual Funds में निवेश को सुरक्षित रखने के ये उपाय हैं बेजोड़, इन बातों पर बिना देरी करें अमल

म्यूचुअल फंड/आरटीए से मिले कम्यूनिकेशन/अलर्ट की समीक्षा करें। जरूरतों के मुताबिक कार्य करें, अगर आपके फोलियो में कोई संदेहजनक लेनदेन/परिवर्तन हुआ है तो रिपोर्ट करें।

Written By: Sourabha Suman @sourabhasuman
Updated on: June 25, 2024 8:00 IST
अपना ईमेल आईडी भरते समय हमेशा कैपिटल लेटर का इस्तेमाल करें।- India TV Paisa
Photo:FILE अपना ईमेल आईडी भरते समय हमेशा कैपिटल लेटर का इस्तेमाल करें।

अगर आप किसी भी निवेश से बेहतर रिटर्न चाहते हैं तो आपको निवेश की सुरक्षा पर भी सोचना चाहिए।  म्यूचुअल फंड में भी यही बात लागू होती है। आजकल तरह-तरह के फाइनेंशियल फ्रॉड हो रहे हैं। ऐसे में आपको निवेश के साथ-साथ सतर्क भी रहना पड़ता है। म्यूचुअल फंड निवेश की सुरक्षा के लिए cams ने कुछ जरूरी बातें बताई हैं, जो आपके म्यूचुअल फंड निवेश की सुरक्षा को चाक-चौबंद रखने में मददगार साबित होंगे। आइए, इन्हीं बिंदुओं पर यहां चर्चा करते हैं।

इन बातों पर बिना देरी करें अमल

  • यह सुनिश्चित करें कि आपका पर्सनल मोबाइल नंबर और ईमेल आईडी आपके फोलियो में रजिस्टर्ड है। आपके फोलियो में कोई भी लेन-देन रजिस्टर्ड मोबाइल/ईमेल आईडी पर नोटिफाई किया जाएगा।
  • अपना ईमेल आईडी भरते समय हमेशा कैपिटल लेटर का इस्तेमाल करें।
  • म्यूचुअल फंड/आरटीए से मिले कम्यूनिकेशन/अलर्ट की समीक्षा करें और जरूरतों के मुताबिक कार्य करें, यदि आपके फोलियो में कोई अनधिकृत लेनदेन/परिवर्तन हुआ है तो रिपोर्ट करें।
  • अपना ऑनलाइन लेनदेन पासवर्ड/पिन/ओटीपी किसी को न बताएं।
  • अपने विश्वसनीय वितरक और लेनदेन के आधिकारिक प्वाइंट्स पर अधिकृत कर्मचारियों के अलावा किसी को भी हस्ताक्षरित दस्तावेज न दें।
  • अपने हस्ताक्षर के साथ खाली लेनदेन अनुरोध न सौंपें जिसे तीसरे पक्ष द्वारा भरा जा सकता है।
  • लेनदेन जमा करने के बाद पावती पर जोर दें।
  • बैंक अधिदेश में परिवर्तन केवल आपके अनुरोध पर सहायक दस्तावेजों के साथ किया जाता है।
  • अपने बैंक अधिदेश के प्रमाण के रूप में जो चेक आप दे रहे हैं उसे रद्द करना सुनिश्चित करें।
  • अपना निवेश चेक/डीडी केवल म्यूचुअल फंड/योजना के पक्ष में जारी करें।
  • चेक जारी करते समय, चेक के पीछे फोलियो नंबर/आवेदन संख्या और फंड का नाम लिखना अच्छा अभ्यास है। चेक पर ओवर-राइटिंग/सफेद करने से बचें। आवेदन/चेक
  • निवेश के समय नामांकन प्रदान करें।
  • जहां जरूरी समझा जाए, वहां स्व-सत्यापित दस्तावेजी प्रमाण प्रदान करते समय, प्रस्तुत करने का कारण स्पष्ट करें।
  • इलेक्ट्रॉनिक भुगतान करने के लिए RTGS/IFSC कोड सहित बैंक अधिदेश (मैनडेट) जानकारी का पूरा विवरण प्रदान करें।
  • सिर्फ ऐसे वितरक/सलाहकार से जुड़ें जो AMFI/SEBI के साथ रजिस्टर्ड हों।
  • किसी योजना में सिर्फ़ इसलिए निवेश करने से बचें क्योंकि कोई आपको कमीशन, प्रोत्साहन, गिफ्ट आदि दे रहा है।
  • हर लेन-देन के लिए खातों का विवरण या महीने में एक बार समेकित खाता विवरण [CAS] पर ज़ोर दें।
  • संबंधित म्यूचुअल फंड से खातों का विवरण हासिल होने के बाद डेटा कैप्चर की प्योरिटी की जांच करें, विसंगतियों (यदि कोई हो) की रिपोर्ट करें और उन्हें तुरंत ठीक करवाएं।
  • आप कॉल, ऑनलाइन या किसी भी आधिकारिक ट्रांजैक्शन प्वाइंट पर विवरण के लिए अनुरोध कर सकते हैं।
  • अपने IDCW/रिडेम्पशन को ट्रैक करें और सुनिश्चित करें कि आपके IDCW/रिडेम्पशन की आय आपके खाते में जमा हो गई है।
  • अनक्लेम्ड किए गए IDCW/रिडेम्पशन की जांच करें और दस्तावेज़ी प्रमाण प्रस्तुत करके उसका दावा करें।
  • अपने फ़ोलियो/खाते को नियमित रूप से ट्रैक करें और सुनिश्चित करें कि जानकारी सटीक है।
  • अपनी शिकायतों/शिकायतों के निवारण के लिए उचित अधिकारियों से संपर्क करें।

Latest Business News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Personal Finance News in Hindi के लिए क्लिक करें पैसा सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement