1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. धर्म
  4. त्योहार
  5. Ravivar ke Upay: रविवार के दिन इन उपायों को करने से नहीं होगी पैसों की कमी, मिलेगा भगवान सूर्य का भी आशीर्वाद

Ravivar ke Upay: रविवार के दिन इन उपायों को करने से नहीं होगी पैसों की कमी, मिलेगा भगवान सूर्य का भी आशीर्वाद

Ravivar ke Upay: जानिए जीवन में सुख-समृद्धि लाने और पैसों की तंगी दूर करने के लिए आपको रविवार के दिन कौन से उपाय करने चाहिए।

Poonam Shukla Written By: Poonam Shukla
Published on: August 06, 2022 22:23 IST
Ravivar ke Upay- India TV Hindi News
Image Source : RAVIVAR KE UPAY Ravivar ke Upay

Ravivar ke Upay:आज श्रावण शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि और रविवार का दिन है। दशमी तिथि आज रात 11 बजकर 50 मिनट तक रहेगी | आज सुबह 10 बजकर 3 मिनट तक ब्रह्म योग रहेगा। उसके बाद एन्द्र योग लग जायेगा। सबसे पहले बात करेंगे ब्रह्म योग की अगर आपको कोई शांतिपूर्वक कार्य करना हो, तो ब्रह्म योग में करने से आपको शुभ फलों की प्राप्ति होगी। साथ ही अगर आपका किसी से झगड़ा हुआ हो, तो उसे सुलझाने के लिए भी ब्रह्म योग बहुत ही अच्छा है। अब बात करेगे ऐन्द्र योग की  ऐन्द्र योग के दौरान राज्य पक्ष के कार्यों में अथवा सरकारी कामों में सफलता जरूर मिलती है |साथ ही आज शाम 4 बजकर 30 मिनट तक अनुराधा नक्षत्र रहेगा। आकाशमंडल में स्थित 27 नक्षत्रों की गिनती में से अनुराधा सत्रहवां नक्षत्र है।

अनुराधा नक्षत्र के स्वामी शनिदेव हैं, जो कि कर्मफल दाता हैं। शनिदेव सबके कर्मों का हिसाब रखते हैं, उनकी दृष्टि से कोई भी नहीं बच सकता है। शनिदेव अच्छे के साथ जितने अच्छे हैं, बुरे के साथ उतने ही बुरे हैं। शनिदेव किसी से खुश होते हैं, तो उसके ऊपर अपनी सारी कृपा बरसाते हैं, और अगर कोई गलत काम करता है, तो उसे बिल्कुल भी नहीं छोड़ते। इसके अलावा अनुराधा नक्षत्र का संबंध मौलश्री के पेड़ से बताया गया है। मौलश्री के पेड़, उसकी लकड़ी से बनी माला और अनुराधा नक्षत्र व्यक्ति को स्वतंत्रता प्रदान करने वाले हैं, ये उन्मुक्त जीवन की प्रेरणा देते हैं और बंधनों से मुक्ति में सहायक होते हैं। ये बन्धन चाहें पूर्व जन्म के कर्मों के हों या इस जन्म के, चाहें कर्म के हों, धर्म के हों, श्रम के हों, भ्रम के हों, भय के हों या विचार के हों। ‘सर्व बन्धनान् प्रमुच्यते अनुराधा’ अर्थात् जो सभी बन्धनों से मुक्त कर दे, वो अनुराधा है और इस नक्षत्र की वनस्पति मौलश्री में भी ऐसी ही प्रोपर्टीज़ देखने को मिलती हैं।

Vastu Tips: घर के मंदिर में इस दिशा में रखनी चाहिए पूजा की थाली, बनी रहेगी मां लक्ष्मी की कृपा

मौलश्री की अरोमा बहुत-सी स्वास्थ्य संबंधी परेशानियों को दूर करने में सहायक है। रजनीश ओशो को मौलश्री के वृक्ष के नीचे ही ज्ञान प्राप्त हुआ था।जिन लोगों का जन्म अनुराधा नक्षत्र में हुआ हो उन लोगों को आज के दिन अनुराधा नक्षत्र के दौरान मौलश्री के पेड़ की उपासना करनी चाहिए। साथ ही मौलश्री के पेड़, उसकी लकड़ियों, फल या पत्तियों को किसी प्रकार का नुकसान नहीं पहुंचाना चाहिए और न ही उन्हें किसी उपयोग में लेना चाहिए।

इन उपायों को करने से मिल सकता है मनोवांछित फल

  1. अगर आपका बिजनेस कुछ समय से धीमी गति से चल रहा है तो उसकी गति को तेज करने के लिये आज आपको शनिदेव के मंत्र का जाप करना चाहिए। मंत्र है- शं ह्रीं शं शनैश्चराय नमः। इस मंत्र का 11 बार जाप करे और जाप के वक्त हाथ में थोड़े-से उड़द के दाने रखले। जब जाप पूरा हो जाये तो उन उड़द के दानों को बहते जल में प्रवाहित कर दें।
  2. अगर आप अपने पुत्र के साथ संबंधों को मजबूत करना चाहते हैं तो आज आपको शनिदेव का ध्यान करते हुए इस मंत्र का सात बार जाप करना चाहिए। मंत्र है ऊँ ऐं ह्रीं श्रीं शनैश्चराय नमः।
  3. अगर आप कोर्ट की किसी दलील में फंसे हुए हैं, बहुत कोशिशों के बाद भी उससे बाहर नहीं निकल पा रहे हैं तो उससे बाहर निकलने के लिये आज के दिन आपको शनिदेव का मंत्र  ऊँ शं शं शन्यै नमः। का 21 बार जाप करें 
  4. अगर आपके घर को किसी की काली नजर लग गई है, जिससे आपके परिवार के सदस्यों की तरक्की नहीं हो पा रही हैं तो इसके लिये आज के दिन सुबह स्नान आदि के बाद आपको शनिदेव के इस मंत्र का 31 बार जप करना चाहिए। मंत्र है- ऊँ श्रीं शं श्रीं शनैश्चराय नमः। और जाप के बाद एक नीला फूल लेकर गंदे नाले में प्रवाहित कर दें ।
  5. अगर आपके जीवन में परेशानियों का अंत नहीं हो रहा है, एक के बाद एक परेशानियां आती जा रही हैं तो उनसे छुटकारा पाने के लिये आज के दिन आपको एक कटोरी में सरसों का तेल लेकर और उसको अपने सामने रखकर, उस पर शनिदेव के तंत्रोक्त मंत्र का जप करना चाहिए। मंत्र है- ऊँ प्रां प्रीं प्रौं स: शनैश्चराय नम:।
  6. अगर आप पढ़ाई-लिखाई के क्षेत्र में मजबूत बने रहना चाहते हैं तो इसके लिये आज के दिन आपको शनिदेव के इसमंत्र का जाप करना चाहिए। मंत्र इस प्रकार है- ऊँ ऐं शं ह्रीं शनैश्चराय नमः आपको इस मंत्र का 21 बार जाप करना चाहिए और जाप के वक्त हाथ में काले तिल लेकर रखने चाहिए। जब जाप पूरा हो जाये तो उन तिलों को अपने पास संभालकर रख लें और शनिवार के दिन उन्हें पीपल के पेड़ के नीचे रख आयें। 
  7. अगर आप ऑफिस में अपना वर्चस्व कायम करना चाहते हैं तो इसके लिये आज के दिन आपको शनिदेव के इस मंत्र का जाप करना चाहिए। मंत्र इस प्रकार है-  शं ऊँ शं नमः। आपको इस मंत्र का एक माला, यानी 108 बार जाप करना चाहिए।
  8. अगर आप अपने जीवन में हर प्रकार से आजादी पाना चाहते हैं तो इसके लिये आज के दिन आपको मौलश्री के पेड़ की उपासना करनी चाहिए। साथ ही उसको हाथ जोड़कर प्रणाम करना चाहिए, लेकिन अगर आपको कहीं आस-पास मौलश्री का पेड़ न मिले तो उसकी फोटो इंटरनेट से डाउनलोड करके, उसके दर्शन कर लें। चाहें तो उस फोटो का प्रिंट निकलवाकर अपने घर में भी लगा लें।
  9. अगर आप अपने कामों की तरक्की सुनिश्चित करना चाहते हैं तो इसके लिये आज के दिन आपको अपनी इच्छानुसार साबुत उड़द की दाल लेकर आदरपूर्वक किसी लोहार या बढ़ई को गिफ्ट करनी चाहिए। 
  10. अगर आप अपने करियर को सफल बनाना चाहते हैं तो इसके लिये आज के दिन आपको शनि के इस मंत्र का जाप करना चाहिए। मंत्र इस प्रकार है- ऊँ ऐं श्रीं ह्रीं शनैश्चराय नमः।आपको इस मंत्र का सात बार जाप करना चाहिए।
  11. अगर आप अपने अटके हुये कामों को जल्द से जल्द पूरा करना चाहते हैं तो इसके लिये आज के दिन आपको दाहिने हाथ में थोड़े से काले तिल लेने चाहिए और उस हाथ के नीचे अपने दूसरे हाथ का सहारा देना चाहिए। अब शनि के इस तंत्रोक्त मंत्र का जाप करना चाहिए- ऊँ प्रां प्रीं प्रौं स: शनैश्चराय नम:। इस मंत्र का 5 बार जाप करें और जाप के बाद हाथ में लिये उन तिलों को जल में प्रवाहित कर दें।
  12. अगर आपकी आर्थिक स्थिति कुछ ठीक नहीं चल रही है तो उसे ठीक करने के लिये आज के दिन आपको शनि देव के इस खास मंत्र का जाप करना चाहिए। मंत्र है- ऊँ श्रीं ह्रीं शं शनैश्चराय नमः।आपको शनिदेव का ध्यान करके इस मंत्र का 11 बार जाप करना चाहिए।

Kajari Teej 2022: कब है कजरी तीज, जानें शुभ मुहूर्त, पूजा विधि और महत्व

(डिस्क्लेमर: इस लेख में व्यक्त विचार लेखक के हैं। इंडिया टीवी इसकी सत्यता की पुष्टि नहीं करता। )