1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. खेल
  4. क्रिकेट
  5. Exclusive | चौथे टेस्ट से पहले वीरू की कोहली को सलाह, 'रविंद्र जडेजा को मिले प्लेइंग इलेवन में मौका'

Exclusive | चौथे टेस्ट से पहले वीरू की कोहली को सलाह, 'रविंद्र जडेजा को मिले प्लेइंग इलेवन में मौका'

भारत और इंग्लैंड के बीच पांच मैचों की टेस्ट सीरीज का चौथा मैच 30 अगस्त यानी गुरुवार से साउथम्पटन में खेला जाएगा।

India TV Sports Desk India TV Sports Desk
Updated on: August 29, 2018 22:38 IST
टीम इंडिया- India TV
Image Source : PTI टीम इंडिया

नई दिल्ली। भारत और इंग्लैंड के बीच पांच मैचों की टेस्ट सीरीज का चौथा मैच 30 अगस्त यानी गुरुवार से साउथम्पटन में खेला जाएगा। इस मैच से पहले इंग्लैंड ने अपनी प्लेइंग इलेवन की घोषणा कर दी है। भारत के खिलाफ इंग्लैंड चौथे टेस्ट मैच में इंग्लैंड अपने दो स्पिनर्स के साथ उतरेगी। ऐसे में पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज और इंडिया टीवी क्रिकेट एक्सपर्ट वीरेंदर सहवाग का मानना है कि साउथम्प्टन में गुरुवार से शुरू हो रहे बेहद महत्वपूर्ण मैच में विराट कोहली रविंद्र जडेजा को अतिरिक्त स्पिनर के रूप में खिलाएं। सहवाग ने कोहली को सुझाव दिया है कि जडेजा को चौथे टेस्ट मैच में खिलाया जाना चाहिए। सहवाग ने इंडिया टीवी के शो 'क्रिकेट की बात' में कहा, "इंग्लैंड दो स्पिनरों के साथ खेल रहा है जिसका मतलब है कि स्पिनरों के लिए पिच से कुछ मदद मिलेगी। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि वे किस फॉर्मट में खेल रहे हैं, अपने यहां इंग्लैंड की टीम विकेट के बारे में हमसे बेहतर जानती है।" चौथे टेस्ट की पूर्व संध्या पर, कोहली ने संकेत दिए हैं कि वह साउथेम्प्टन में दो स्पिनर के साथ जा सकते हैं। उन्होंने मैच से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, "मुझे नहीं लगता केवल पेस विकल्प सही होगा।"

कोहली ने आगे कहा, "मुझे नहीं लगता कि सिर्फ तेज गेंदबाजों को खिलाना सही विकल्प होगा। यहां पर हमने जब पिछला मैच खेला था तो दूसरी पारी में स्पिनरों ने विकेट लिए थे। सतह बहुत मजबूत है और अगर पैरों के निशान बनने पर स्पिनर इसमें काफी बड़ा रोल निभा सकते हैं।" कोहली के इस बयान पर टिप्पणी करते हुए सहवाग ने कहा कि कोहली को प्लेइंग कंडीशन को ध्यान में रखकर प्लेइंग इलेवन चुननी चाहिए।

सहवाग ने कहा, "अगर कोहली सेम टीम के साथ जाता है तो टीम के पास चार तेज गेंदबाज होंगे। दूसरी ओर, इंग्लैंड तीन तेज गेंदबाजों और एक स्पिनर के साथ खेल रहा है। अगर विकेट स्पिन-फ्रेंडली हो जाता है, तो भारत शायद एक अतिरिक्त स्पिनर को मिस कर सकता है। इसलिए उन्हें रविंद्र जडेजा को लाना चाहिए। वह बल्लेबाजी भी कर सकता है।"

सहवाग को विश्वास है कि अगर इंग्लैंड गेंदबाजों के हिसाब से विकेट तैयार करता है तो भारतीय गेंदबाजी भी जवाब दे सकती है। सहवाग ने आगे कहा, "इंग्लैंड को पता है कि भारत का गेंदबाजी अटैक टेस्ट मैच में 20 विकेट लेने में सक्षम है। इसलिए वे साउथम्प्टन में विकेट को ज्यादा हरा नहीं रखेंगे। अगर वे गेंदबाजी के अनुकूल विकेट बनाते हैं, तो हमारे गेंदबाजों को भी फायदा होगा।" सहवाग ने आगे कहा कि भारत ने हारने के बाद वापसी की है। इंग्लैंड भी ऐसा करेगी। इसलिए भारत को सावधान रहना होगा। 

दशकों से इंग्लैंड में संघर्ष करने के बाद, भारत ने 1986 में लगातार दो टेस्ट मैच जीते थे। हालांकि सहवाग पूरी तरह से मानते हैं कि कोहली के नेतृत्व वाली भारतीय टीम इस बार इतिहास को फिर से लिख सकते हैं। वीरू का कहना है, "भारत ने आखिरी बार 1986 में इंग्लैंड में लगातार दो टेस्ट जीते थे। मेरा मानना है कि विराट कोहली की अगुआई वाली टेस्ट टीम इंग्लैंड में इतिहास को फिर से लिख सकती है।"

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन
Write a comment

लाइव स्कोरकार्ड

coronavirus
X