1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. खेल
  4. क्रिकेट
  5. बांग्लादेश के पूर्व कप्तान मशरफे मुर्तजा का बड़ा आरोप, कहा- बोर्ड ने संन्यास के लिए उकसाया

बांग्लादेश के पूर्व कप्तान मशरफे मुर्तजा का बड़ा आरोप, कहा- बोर्ड ने संन्यास के लिए उकसाया

बांग्लादेश के पूर्व कप्तान मशरफे मुर्तजा ने बोर्ड पर संन्यास लेने के लिए उकसाने का आरोप लगाया है। मुर्तजा ने कहा कि एक-दो टूर्नामेंटों में खराब प्रदर्शन के बाद बोर्ड ने मुझे संन्यास के लिए उकसाया और साथ ही उन्होंने मुझे विदाई मैच का प्रस्ताव भी दिया।

India TV Sports Desk India TV Sports Desk
Published on: June 05, 2020 19:25 IST
बांग्लादेश के पूर्व...- India TV Hindi
Image Source : GETTY IMAGES बांग्लादेश के पूर्व कप्तान मशरफे मुर्तजा का बड़ा आरोप, कहा- बोर्ड ने संन्यास के लिए उकसाया

बांग्लादेश के पूर्व कप्तान मशरफे मुर्तजा ने बोर्ड पर संन्यास लेने के लिए उकसाने का आरोप लगाया है। मुर्तजा ने कहा कि एक-दो टूर्नामेंटों में खराब प्रदर्शन के बाद बोर्ड ने मुझे संन्यास के लिए उकसाया और साथ ही उन्होंने मुझे विदाई मैच का प्रस्ताव भी दिया। मुर्तजा ने आगे कहा कि उन्हें अपनी उपलब्धियों के प्रति सम्मान की कमी से ठेस पहुंची हैं।

उन्होंने ‘क्रिकबज’ से कहा, ‘‘ईमानदारी से कहूं तो ऐसा लग रहा है कि मुझे विदाई देने की जल्दबाजी है और यह निश्चित रूप से दुखद है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘पहले उन्हें मेरे लिए विदाई मैच का आयोजन करना था और यह सामान्य मैच नहीं था। एक सामान्य द्विपक्षीय सीरीज की बात कुछ और है और एक विशेष मैच की व्यवस्था करना कुछ और है।’’

फेहलुकवेओ का मानना, वर्ल्ड कप जीतने से ज्यादा दूर नहीं है दक्षिण अफ्रीकी टीम

उन्होंने आगे कहा, ‘‘इसके बाद वे इस मैच पर दो करोड़ बांग्लादेश टका खर्च करना चाहते थे। नैतिक दृष्टिकोण से यह विचार सही नहीं है क्योंकि हमारे प्रथम श्रेणी के क्रिकेट खिलाड़ियों को पर्याप्त भुगतान नहीं हो रहा है।’’

36 साल का यह गेंदबाज बांग्लादेश के सबसे सफल कप्तान में से एक है। विश्व कप (2019) में हालांकि उनका प्रदर्शन बेहद की खराब रहा था, जहां पूरे टूर्नामेंट में वह सिर्फ एक विकेट ले सके थे। हाल ही में कोच रसेल डोमिंगो ने कहा था कि वह अपनी भविष्य की योजना में मुर्तजा को नहीं देखते हैं। मुर्तजा ने कहा, ‘‘अचानक से मुझे बाहर निकालने की कोशिश की जाने लगी है। मुझे केवल इतना पता है कि मैंने अपना पूरा जीवन क्रिकेट को दिया है। इससे मैं आहत हूं।’’ 

उन्होंने कहा, "अगर पैसा मुख्य मापदंड था, तो मैं कई चीजें कर सकता था और तब जब मेरा करियर इतनी सारी चोटों से जूझ रहा था।" उन्होंने कहा, "मुझे आठ करोड़ बांग्लादेशी टका की पेशकश हुई लेकिन मैं आईसीएल में खेलने के लिए नहीं गया। मैंने ऐसा नहीं किया। मैंने पूरे जी-जान से क्रिकेट खेला है और शायद मैं ऐसा महान खिलाड़ी नहीं बन पाया। लेकिन कम से कम मैं किसी तरह के सम्मान की उम्मीद करता हूं।”

मुर्तजा ने ये भी स्वीकार किया कि उन्होंने पिछले साल लॉर्ड्स में पाकिस्तान के खिलाफ विश्व कप मैच के बाद संन्यास लेने के बारे में बहुत सोचा था। उन्होंने कहा, "मैं इंग्लैंड में खेले गए विश्व कप में बांग्लादेश के आखिरी मैच के बाद संन्यास लेना चाहता था लेकिन ऐसा नहीं हुआ। मैं इस बात की गहराई में नहीं जाना चाहता कि मैंने वहां ऐसा क्यों नहीं किया लेकिन मैंने अपना इरादा टाल दिया।

(With PTI inputs)

 

 

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन
Write a comment

लाइव स्कोरकार्ड

X