1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. खेल
  4. आईपीएल 2021
  5. IPL 2021, CSK vs MI : सीएसके के खिलाफ मिली हार के बाद छलका पोलार्ड का दर्द, बताया कहां हुई टीम से चूक

IPL 2021, CSK vs MI : सीएसके के खिलाफ मिली हार के बाद छलका पोलार्ड का दर्द, बताया कहां हुई टीम से चूक

सीएसके की टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवर में 6 विकेट के नुकसान पर 156 रनों खड़ा किया था।

India TV Sports Desk India TV Sports Desk
Updated on: September 19, 2021 23:51 IST
IPL 2021, CSK vs MI, Kieron Pollard, Mumbai Indians, cricket, Sports- India TV Hindi
Image Source : IPLT20.COM Mumbai Indins 

इंडियन प्रीमियर लीग 2021 के दूसरे चरण में मुंबई इंडियन्स का आगाज हार के साथ हुआ। टीम को चेन्नई सुपरकिंग्स के हाथों 20 रन से हार का सामना करना पड़ा। इस करारी हार के साथ ही टीम की कप्तानी कर रहे कीरोन पोलार्ड ने अपनी निराशा जाहिर की।

मैच के बाद पोलार्ड ने कहा, ''सीएसके के लिए ऋतुराज गायकवाड़ ने बेहतरीन बल्लेबाजी की। टी-20 क्रिकेट में जब आपके विरोधी टीम का कोई बल्लेबाज इस तरह से बल्लेबाजी करता है तो वह देखना काफी मुश्किल होता है। हमने गेंदबाजी में जिस तरह से शुरुआत की थी वैसा अंत हमें नहीं मिल सका।''

यह भी पढ़ें- IPL 2021 : विराट कोहली सीजन-14 के बाद छोड़ेंगे आरसीबी की कप्तानी

उन्होंने कहा, ''बल्लेबाजी के लिए पिच बेहतरीन था, नई गेंद से कुछ हरकतें जरूर हो रही थी, यही कारण है की हमारे तेज गेंदबाजों ने शुरुआती विकेट निकाला लेकिन हमें जिस तरह का शुरुआत मिला और जारी नहीं रह पाया।''

इसके अलावा टीम की बल्लेबाजी प्रदर्शन को लेकर पोलार्ड ने कहा, ''हमने शुरुआत में जीस तरह से अपने तीन विकेट गंवाए वह काफी मुश्किल था। सौरव तिवारी ने अच्छी बल्लेबाजी की लेकिन लगातार अंतराल विकेट गिरते रहे जिसके कारण नतीजा हमारे पक्ष में नहीं रहा।''

यह भी पढ़ें- IPL 2021, CSK vs MI : दूसरे चरण के पहले ही मैच में ऋतुराज ने मचाया धमाल, किया यह बड़ा कारनामा

आपको बता दें की इस मुकाबले में सीएसके की टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 20 ओवर में 6 विकेट के नुकसान पर 156 रनों खड़ा किया था, जिसके जवाब में मुंबई की टीम ने 20 ओवर में 8 विकेट खोकर 136 रन ही बना ही सकी।

सीएसके के कप्तान एमएस धोनी ने मैच के बाद कहा, "मुझे लगता है कि 30/4 के स्कोर पर आप चाहते हो कि स्कोरबोर्ड पर बेहतर स्कोर चढ़े। वो काम हमारे लिए रुतुराज और ब्रावो ने किया। हमको बहुत अच्छी बल्लेबाजी करनी थी तभी हम 140 रन बना सकते थे लेकिन 160 रन बनाने लाजवाब है। विकेट काफी धीमा था। कई विकेट तो इसी कारण गिरे। मुझे सातवें और आठवें ओवर में जाना चाहिए था और वहां से मैच आगे ले जाना चाहिए था। आपको हमेशा लगता है कि आपको तेजी से खेलना चाहिए लेकिन इतने विकेट गिरने के बाद आप रिस्क नहीं लेना चाहते।"

88 रनों की नाबाद पारी खेलने वाले सीएसके के सलामी बल्लेबाज रुतुराज गायकवाड़ ने कहा, "बिलकुल मेरी बड़ी पारियों में से ये एक थी। जब माही भाई आसपास हों और सीएसके मैनेजमेंट आपके साथ हो तो आपको ज्यादा सोचने की जरूरत नहीं होती। श्रीलंका दौरा और यहां कर प्रैक्टिस ने मेरी काफी मदद की।"

Write a comment

Social Tracker