1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. खेल
  4. आईपीएल 2022
  5. INDIA TV Exclusive : डेविड मिलर ने 3 लगातार छक्के क्या सोचकर मारे, जानिए पूरी कहानी

INDIA TV Exclusive : डेविड मिलर ने 3 लगातार छक्के क्या सोचकर मारे, जानिए पूरी कहानी

आखिरी ओवर में गुजरात टाइटंस को जीत के लिए 16 रन चाहिए थे। डेविड मिलर ने पहली तीन गेंदों पर लगातार तीन छक्के लगाकर मैच खत्म कर दिया।

Pankaj Mishra Written by: Pankaj Mishra @pankajplmishra
Published on: May 28, 2022 20:08 IST

Highlights

  • गुजरात टाइटंस ने डेविड मिलर को तीन करोड़ रुपये में अपने पाले में किया था
  • प्रसिद्ध कृष्णा की तीन गेंदों पर तीन छक्के लगाकर गुजरात को फाइनल में पहुंचाया
  • इंडिया टीवी से खास बातचीत में टीम और साथी खिलाड़ियों को लेकर किए खुलासे

 

David Miller Interview VIDEO : आईपीएल 2022 के क्वालीफायर में गुजरात टाइटंस की जीत के हीरो रहे डेविड मिलर इस साल आईपीएल में अपने प्रदर्शन से काफी खुश हैं। डेविड मिलर ने इंडिया टीवी को दिए एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में कहा कि क्वालीफायर-1 हमारे लिए सेमीफाइल मैच की तरह था, मैच को जीतने के लिए मेरे दिमाग में काफी बातें चल रही थी। आखिरी ओवर में गुजरात टाइटंस को जीत के लिए 16 रन चाहिए थे। लग रहा था कि मैच किसी भी ओर जा सकता है। लेकिन डेविड मिलर ने प्रसिद्ध कृष्णा की पहली तीन गेंदों पर लगातार तीन छक्के लगाकर मैच खत्म कर दिया और गुजरात टाइटंस को फाइनल में पहुंचा दिया। आखिरी ओवर से पहले डेविड मिलर के मन में क्या चल रहा था, इस पर मिलर ने कहा कि आखिरी ओवर में मेरा ध्यान शुरूआती गेंदों पर अटैक करने पर था, मैंने कृष्णा की पहली गेंद की लाइन लेंथ का फायदा उठाया और छक्का मार दिया। इसके बाद लगातार तेजी से रन बनाने की कोशिश की और तीन छक्के मार दिए। 

डे​विड मिलर को आती हैं हिंदी, लेकिन गुजराती नहीं 

इंडिया टीवी से खास बातचीत में ​डेविड मिलर ने कहा कि उन्हें हिंदी के कुछ शब्द आते हैं, लेकिन वे गुजराती नहीं जानते। उन्होंने कहा कि 2013 की शतकीय पारी ने मेरे अंदर काफी सारे बदलाव किए। बोले कि उस दौरान वे काफी यंग खिलाड़ी थे, मुझे उस पारी से  आगे बढ़ने का कॉन्फिडेंट मिला। मिलर ने बड़ी बात कहते हुए बताया कि क्वालीफायर में चेज करते हुए ये आईपीएल की बेस्ट पारी है। उन्होंने कहा कि 2013 के बाद से मेरे खेल में काफी बदलाव आया है। प्रेशर को कैसे हैंडल किया जाता है, ये मैंने इस दौरान काफी सीखा। मेरी कोशिश होती है कि जब भी क्रीज पर रहूं, अपना बेस्ट दूं। मुझे अपने क्रिकेट करियर के दौरान कभी कोई शिकायत नहीं रहीं। मिलर ने कहा कि मुझे खुशी है कि जब मैं खेलता हूं, तो क्रिकेट फैंस को मेरा गेम पसंद आता है। 200 से ज्यादा इंटरनेशनल गेम खेलना मेरे लिए गर्व की बात है। जब मैं अपना क्रिकेट करियर देखता हूं तो मुझे काफी अच्छा लगता है। 

David Miller

Image Source : INDIA TV
David Miller

डेविड मिलर ने बताई, गुजरात टाइटंस की मजबूती 
अपनी आईपीएल टीम गुजरात टाइटंस के बारे में बात करते हुए ​डेविड मिलर ने कहा कि एक दो चीजें हैं, जो GT को मजबूत बनाती हैं। पहली बात तो ये है कि  टीम प्रेशर में खेलना जानती है। टीम ने काफी क्लोज गेम में जाकर जीत हासिल की है, जिससे हमारा हौसला बढ़ा है। हमने चाहें पहले गेंदबाजी की या बल्लेबाजी, सभी खिलाड़ियों ने अपना 100 प्रतिशत दिया है। बोले कि हमने धीरे-धीरे अपनी मंजिल को आखिरी मुकाम तक पहुंचाया। अपनी टीम के साथी खिलाड़ियों के बारे में बात करते हुए डेविड मिलर ने कहा कि वह राशिद खान के साथ क्रिकेट खेल चुके हैं। राहुल के साथ पंजाब और राजस्थान में काफी क्रिकेट खेल चुका हूं। 

कप्तान हार्दिक पांड्या, आशीष नेहरा और आशीष कपूरी की जमकर की तारीफ 
टीम के कप्तान हार्दिक पांड्या की भी डेविड मिलर ने खूब तारीफ की। बोले कि हार्दिक पंड्या काफी कूल कैप्टन हैं, काफी हंबल भी हैं। युवा खिलाड़ियों के साथ वो काफी अच्छे तरीके से डील करते हैं। पहले सीजन में प्रेशर के साथ कप्तानी करना हार्दिक को काफी बेहतर बनाता है। एक लीडर के तौर पर हार्दिक काफी अच्छे डिसिजन लेते हैं।  साथ ही टीम के कोच आशीष नेहरा और आशीष कपूर काफी कूल किस्म के इंसान हैं। आईपीएल एक प्रेशर गेम है, लेकिन वो ड्रेसिंग रूम को चिल रखते हैं। फाइनल में अब गुजरात टाइटंस का मुकाबला राजस्थान रॉयल्स से होगा, इस पर उन्होंने कहा कि हमने राजस्थान रॉयल्स और आरसीबी दोनों को हराया है। दोनों टीमों की अपनी अपनी ताकत है, तो कहना थोड़ा मुश्किल है। हम फाइनल में अपना बेसिक्स गेम खेलेंगे, जैसे अबतक खेलते आए हैं। हमे कंडीशन और पिच के मिजाज को समझने की कोशिश करेंगे। आखिर में मजाक मजाक में डेविड मिलर ने कहा कि आप मुझे सीरियल किलर मिस्टर मिलर कह सकते हैं। 2013 में जब मैंने शतक लगाया था तो मुझे किलर मिलर का नाम मिला था।