1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. खेल
  4. अन्य खेल
  5. आईसएल-5 : दिल्ली का किला भेदने की फिराक में एटीके, पहली जीत की तलाश में दोनों टीमें

आईसएल-5 : दिल्ली का किला भेदने की फिराक में एटीके, पहली जीत की तलाश में दोनों टीमें

एटीके ने इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) की शुरुआत कभी भी उतनी बुरी नहीं की है जितनी पांचवें सीजन में की है।

IANS IANS
Published on: October 16, 2018 20:17 IST
दिल्ली का किला भेदने की फिराक में एटीके- India TV Hindi
Image Source : DELHI DYNAMOS/TWITTER दिल्ली का किला भेदने की फिराक में एटीके

नई दिल्ली। एटीके ने इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) की शुरुआत कभी भी उतनी बुरी नहीं की है जितनी पांचवें सीजन में की है। पांच सीजन में पहली बार दो बार की विजेता बिना किसी अंक और बिना किसी गोल के है। बुधवार को जब वह जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में मेजबान दिल्ली डायनामोज के सामने होगी तो वह जीत की भूखी होगी। मैच से पूर्व एटीके के कोच स्टीव कोपेल ने कहा, "पिछली हार के बाद हम इस मैच के लिए तैयार हैं। पिछले मैच में हमने अपने आप को जीतने के ज्यादा मौके नहीं दिए थे। जाहिर सी बात है कि 30 मिनट बाद हमारा खिलाड़ी बाहर चला गया था। 11 खिलाड़ियों के सामने 10 खिलाड़ियों के साथ फुटबाल खेलना आसान नहीं होता। यह मैच हमारे लिए मौका है रास्ते पर वापस आने का।"

एटीके को सीजन के पहले मैच में केरला ब्लास्टर्स ने 2-0 से मात दी थी। इसके बाद उसे नार्थईस्ट युनाइटेड एफसी के हाथों 0-1 से मात मिली थी। यह टीम कोपेल की शैली को अपनाने में समय ले रही है। साथ ही टीम के अहम खिलाड़ी मैनुएल लैंजारोते और कालू उचे अभी तक प्रभाव नहीं छोड़ पाए हैं। एटीके ने पिछले लगातार दो मैच घर में खेले हैं, लेकिन यह मैच वह घर से बाहर खेल रही है। हो सकता है उस पर दबाव कम हो और वो अच्छा करे। 

एटीके का हालांकि आईएसएल में घर से बाहर रिकार्ड अच्छा नहीं रहा है। वह अपने पिछले तीन घर से बाहर खेले मैचों में हार झेल चुकी है। इस बार एटीके उस टीम के सामने है, जिसका घर में रिकार्ड अच्छा है। डायनामोज घर में लगातार छह मैचों में अपराजित रही है। उसने घर में 15 गोल किए हैं और आठ गोल खाए हैं। 

टीम के नए कोच जोसेफ गोमबाउ के खिलाड़ियों ने एफसी पुणे सिटी के खिलाफ खेले गए पहले मैच में कई मौके बनाए थे। इस मैच का नतीजा 1-1 से ड्रॉ रहा था। दिल्ली डायनामोज ने शानदार खेल दिखाते हुए आखिरी मिनटों में बराबरी का गोल किया था। गोमबाउ ने कहा, "एफसी पुणे सिटी के मैच के बाद, हमें इस मैच की तैयारी के लिए दो सप्ताह का समय मिला है। इस बीच कुछ खिलाड़ी चले गए थे क्योंकि उन्हें अपनी राष्ट्रीय टीम के साथ मैच खेलने जाना था, लेकिन अब हम खेलने को तैयार हैं।"

उम्मीद है कि इस मैच में मेजबान टीम गेंद को अधिकतर अपने पास रखेगी वहीं एटीके अपने मजबूत डिफेंस और काउंट अटैक पर भरोसे रहेगी। कोच ने कहा, "टीम इस समय अच्छी स्थिति में है। एटीके की टीम काफी अच्छी है। हमें काफी मेहनत करने की जरूरत है। मुझे लगता है कि यह अच्छा मैच होगा जिसमें हमें जीत मिलेगी।"

पिछले सीजन में दूसरी टीम से 13 गोल करने वाले कालू उचे के अलावा लैंजारोते को भी फॉर्म में आने की जरूरत है। इन दोनों के ऊपर डायनामोज के डिफेंस की ताकत गियानी जुल्वेरलोन को मात देने की जिम्मेदारी होगी। डायनामोज के पास काफी जगह है। लालइनजुआला चांग्ते, नंदकुमार को एटीके के फुलबैक को संभालना होगा। राल्ते दो येलो कार्ड के कारण प्रतिबंधित हैं तो देखना होगा कि कोपेल उनके स्थान पर किसे उतारते हैं। यह दो अलग-अलग फीलोसोफी रखने वाले रणनीतिकारों की लड़ाई है जो बेहद दिलचस्प मानी जा रही है। देखना होगा कि कौन जितता है?

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Other Sports News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन
Write a comment

लाइव स्कोरकार्ड

X