Tuesday, May 21, 2024
Advertisement

बड़ी खबर: यूपी में बसपा को तगड़ा झटका, बरेली और आंवला लोकसभा सीट के उम्मीदवारों का नामांकन निरस्त

उत्तर प्रदेश में बसपा के आंवला और बरेली लोकसभा के दोनों प्रत्याशियों का नामांकन निरस्त हो गया है। इसकी वजह से अब बसपा इन दोनों सीटों पर चुनाव नहीं लड़ पाएगी।

Written By: Mangal Yadav @MangalyYadav
Updated on: April 20, 2024 15:02 IST
आंवला से बसपा प्रत्याशी आबिद अली के साथ पार्टी के नेता- India TV Hindi
Image Source : INDIA TV आंवला से बसपा प्रत्याशी आबिद अली के साथ पार्टी के नेता

बरेलीः उत्तर प्रदेश में बहुजन समाज पार्टी (बसपा) को बड़ा झटका लगा है। बसपा के आंवला लोकसभा और बरेली लोकसभा के दोनों प्रत्याशियों का नामांकन निरस्त हो गया है। मिली जानकारी के अनुसार, बरेली लोकसभा सीट से बसपा उम्मीदवार छोटेलाल गंगवार के कागजात में पायी गई कमी के कारण जिला निर्वाचन अधिकारी ने नामांकन निरस्त कर दिया। जबकि आंवला से दो बसपा प्रत्याशी होने की वजह से आबिद अली का पर्चा निरस्त कर दिया गया। दूसरे प्रत्याशी सत्यवीर सिंह के नामांकन की जांच चल रही है। बसपा ने उन्हें अपना प्रत्याशी मानने से इनकार कर दिया है। इसलिए उनका भी नामांकन रद्द होना लगभग तय है। 

बसपा ने फर्जी प्रत्याशी सत्यवीर सिंह के खिलाफ कार्रवाई की मांग की

वहीं, बसपा प्रमुख मायावती ने पत्र जारी कर कहा कि आंवला से आबिद अली उनकी पार्टी के अधिकृत प्रत्याशी हैं। बसपा के आंवला जिलाध्यक्ष राजीव कुमार सिंह ने रिटर्निंग ऑफिसर सीडीओ को पत्र लिखकर मामले की शिकायत की है। उन्होंने फर्जी बसपा प्रत्याशी सत्यवीर सिंह के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर कार्रवाई की मांग की है। 

सपा प्रत्याशी पर लगाया आरोप

आंवला के बसपा प्रत्याशी आबिद अली ने इस सब के पीछे सपा प्रत्याशी नीरज मौर्य का हाथ होने का आरोप लगाया है। आबिद ने कहा कि ये सब सपा प्रत्याशी नीरज मौर्य का षड्यंत्र है। हम इस मामले को लेकर हाई कोर्ट और सुप्रीम कोर्ट तक जाएंगे। बसपा कार्यकर्ताओं ने नीरज मौर्य के खिलाफ नारेबाजी भी की।

बसपा ने सत्यवीर सिंह के खिलाफ दर्ज कराई शिकायत

फर्जी सिंबल और लेटर को लेकर बसपा के कथित प्रत्याशी सत्यवीर सिंह के खिलाफ बसपा जिलाध्यक्ष ने कोतवाली में तहरीर दी है। बसपा प्रमुख मायावती के निर्देश के बाद बसपा नेताओं ने कोतवाली में डटे हुए हैं। पुलिस ने जांच के बाद मुकदमा दर्ज करने का आश्वासन दिया है। बसपा का कहना है कि पार्टी ने आबिद अली को अधिकृत प्रत्याशी घोषित किया है।

बसपा ने प्रशासन पर सत्ता के इशारे पर काम करने का आरोप

बसपा जिलाध्यक्ष राजीव कुमार सिंह का आरोप है कि सत्ता के दवाब में यहां के प्रशासनिक अधिकारी काम कर रहे हैं। हमारी बात नहीं जा रही है। हमने संबंधित अधिकारियों को इस संबंध में शिकायत की। सतबीर ने फर्जी तरीके से सिंबल लगाकर नामांकन दाखिल किया है। सतबीर बसपा के न तो प्रत्याशी हैं और न ही वो कभी पार्टी के सदस्य रहे हैं। वो पूरी तरह से फर्जी प्रत्याशी हैं।

रिपोर्ट- अनूप मिश्रा

 

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें उत्तर प्रदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement