Saturday, February 24, 2024
Advertisement

इस अफ्रीकी देश में सेना के बैरकों पर बंदूकधारियों ने एक साथ बोला बड़ा हमला, राष्ट्रपति ने लगाया देशव्यापी कर्फ्यू

सूडान के बाद एक और पश्चिम अफ्रीकी देश में चरमपंथियों ने हिंसा भड़का दी है। बंदूकधारियों ने पश्चिम अफ्रीकी देश सिएरा लियोन की राजधानी में सैन्य बैरकों पर हमला कर दिया है। इसके बाद राष्ट्रपति ने देश भर में कर्फ्यू लगा दिया है। हालात को संभालने में सेना जुट गई है।

Dharmendra Kumar Mishra Edited By: Dharmendra Kumar Mishra @dharmendramedia
Published on: November 26, 2023 18:51 IST
सिएरा लियोन के राष्ट्रपति, जूलियस मैडा बायो - India TV Hindi
Image Source : AP सिएरा लियोन के राष्ट्रपति, जूलियस मैडा बायो

अफ्रीकी देशों में अशांति और अस्थिरता का आलम लगातार बढ़ता ही जा रहा है। सूडान के बाद अब एक नया अफ्रीकी देश चरमपंथियों की आग में जल उठा है। चरमपंथियों ने इस देश की सैन्य बैरकों पर जबरदस्त हमला बोला है। सैकड़ों-हजारों की संख्या में बंदूकधारियों ने सिएरा लियोन में सैन्य बैरकों को निशाना बनाया है। इससे असुरक्षा और अशांति बढ़ गई है। मामले की गंभीरता को समझते हुए सिएरा लियोन के राष्ट्रपति जूलियस मैडा बायो ने राष्ट्रव्यापी कर्फ्यू लगाए जाने का ऐलान कर दिया है। कर्फ्यू के बाद सेना की सतर्कता बढ़ा दी गई है। 
 
यह एक पश्चिम अफ्रीकी देश है। इसकी राजधानी में बंदूकधारियों द्वारा सैन्य बैरकों पर हमला किए जाने के बाद रविवार को देशव्यापी कर्फ्यू की घोषणा की गई। राष्ट्रपति ने सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’पर अपने पोस्ट में कहा कि अज्ञात बंदूकधारियों ने राजधानी फ्रीटाउन में बैरकों के भीतर एक सैन्य शस्त्रागार पर सुबह हमला कर दिया। उन्होंने कहा कि सुरक्षा बलों ने बंदूकधारियों को खदेड़ दिया और ‘शांति व्यवस्था कायम कर दी गई है।’

पहले भी 11 वर्षों तक गृहयुद्ध की चपेट में रह चुका है सिएरा लियोन

राष्ट्रपति जूलियस मैडा बायो ने कहा, ‘‘, देशव्यापी कर्फ्यू घोषित कर दिया गया है और नागरिकों को घरों के अंदर रहने की सलाह दी जाती है।  बायो को जून में दूसरे कार्यकाल के लिए चुना गया था । मुख्य विपक्षी दल ने देश के चुनाव आयोग पर परिणामों में हेर फेर करने का आरोप लगाया था। देश में दो दशक पहले 11 साल तक गृह युद्ध चला था और उसके समाप्त होने पर यह राष्ट्रपति पद के लिए यह पांचवां चुनाव था। गृह युद्ध में हजारों लोग मारे गए थे और देश की अर्थव्यवस्था नष्ट हो गई थी। (एपी) 
 

यह भी पढ़ें

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Around the world News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement