1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. एशिया
  5. कहां पैदा हुआ था कोरोना का वायरस? पता लगाने चीन के वुहान पहुंच गई है WHO की टीम

कहां पैदा हुआ था कोरोना का वायरस? पता लगाने चीन के वुहान पहुंच गई है WHO की टीम

कोरोना संक्रमण की वैक्सीन की खोज होने के बाद और महामारी की शुरुआत के एक साल से ज्यादा समय के बाद अब WHO की टीम चीन के वुहान पहुंची है। न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के मुताबकि 10 अंतरराष्ट्रीय विशेषज्ञों वाली विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ये टीम कोरोना वायरस की उत्पत्ति का पता लगाने के लिए चीन के वुहान पहुंची है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: January 14, 2021 11:56 IST
WHO team reaches wuhan china to investigate origins of coronavirus China: वुहान पहुंचीं WHO की टीम, - India TV Hindi
Image Source : INDIA TV WHO team reaches wuhan china to investigate origins of coronavirus / China: वुहान पहुंचीं WHO की टीम, कोरोना के origin का लगाएंगे पता

वुहान. कोरोना संक्रमण की वजह से पूरी दुनिया में लाखों लोगों की मौत हो चुकी है। अबतक करोड़ों लोग इस बीमारी के चपेट में आ चुके हैं। चीन के वुहान शहर से दुनियाभर में फैला ये वायरस अब भी पकड़ से बाहर है। कोरोना संक्रमण की वैक्सीन की खोज होने के बाद और महामारी की शुरुआत के एक साल से ज्यादा समय के बाद अब WHO की टीम चीन के वुहान पहुंची है। न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के मुताबकि 10 अंतरराष्ट्रीय विशेषज्ञों वाली विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ये टीम कोरोना वायरस की उत्पत्ति का पता लगाने के लिए चीन के वुहान पहुंची है।

पढ़ें- चलती ट्रेन से बाहर देख रही थी महिला, पति ने दे दिया धक्का, दो महीने पहले ही हुई थी शादी

 

चीन की आधिकारिक मीडिया ने खबर दी है कि डब्ल्यूएचओ के विशेषज्ञों की टीम कोविड-19 की उत्पत्ति का पता लगाने के लिए वुहान पहुंची है। यह टीम सिंगापुर से आयी है और इसमें 10 विशेषज्ञ हैं। चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग (एनएचसी) के मुताबिक डब्ल्यूएचओ की टीम काम शुरू करने के पहले महामारी नियंत्रण के लिए देश के दिशा-निर्देशों के तहत पृथक-वास प्रक्रिया को पूरा करेगी। विशेषज्ञों के 14 दिनों तक पृथक-वास में रहने और कोविड-19 की जरूरी जांच कराए जाने की संभावना है।

पढ़ें- दिल्ली में न घुस पाए कोई मुर्गी, अध्यापकों को बॉर्डर पर किया गया नियुक्त

एनएचसी के अधिकारियों ने बुधवार को बीजिंग में मीडिया को बताया कि वायरस की शुरुआत कहां से हुई, यह एक वैज्ञानिक सवाल है और उन्होंने सुझाव दिया कि इसके लिए विशेषज्ञों को दूसरे देशों का भी दौरा करना चाहिए। एनएचसी के एक अधिकारी ने बताया कि डब्ल्यूएचओ के विशेषज्ञ पृथक-वास की अवधि के दौरान चीन के चिकित्सा विशेषज्ञों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए बातचीत करेंगे। डब्ल्यूएचओ की टीम को दौरे के लिए देरी से अनुमति देने पर भी सवाल उठे।

पढ़ें- घने कोहरे की वजह से हुआ 'भयंकर हादसा', एक्सप्रेस-वे पर आगे चल रही स्लीपर बस में जा घुसी दूसरी बस

चीन वुहान में वायरस की शुरुआत संबंधी दावों को लगातार चुनौती देता रहा है। वुहान में जानवरों के बाजार से कोरोना वायरस की शुरुआत होने की धारणा को चीन लगातार खारिज करता आ रहा है। पिछले साल के आरंभ से ही वुहान में जानवरों के मांस का यह बाजार बंद है। चीनी के सीडीसी उपनिदेशक फेंग जिजियान ने कहा कि कोरोना वायरस के वाहक या कैसे यह वायरस जानवरों से इंसानों में पहुंचा, इन सवालों के जवाब उनके पास नहीं है। उन्होंने कहा कि चीन के चिकित्सा विशेषज्ञ वायरस के स्रोत का पता लगाने के प्रयास में डब्लयूएचओ के विशेषज्ञों की मदद करेंगे। फेंग ने कहा, ‘‘चीन वायरस के संबंध में अंतरराष्ट्रीय समुदाय के समन्वित अनुसंधान का आह्वान करता रहा है। डब्ल्यूएचओ की टीम के वुहान आने पर चीनी विशेषज्ञ उनके साथ मिलकर काम करेंगे।’’

 

पढ़ें- मायावती ने अपने जन्मदिन से एक दिन पहले BSP कैडर से कही ये बात

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन
Write a comment