रूस बड़े हमले की तैयारी में, 5 लाख सैनिक बॉर्डर पर तैनात, घबराए यूक्रेन के रक्षामंत्री, 24 फरवरी को पूरा होगा जंग का एक साल

ऐसा माना जा रहा है कि रूस दो नए मोर्चों पर हमले की योजना बना रहा है। पूर्वी और दक्षिणी यूक्रेन उसके निशाने पर हैं। इसके लिए 5 लाख सैनिकों की बॉर्डर पर तैनाती की जा रही है। खुद यूक्रेन के रक्षामंत्री का कहना है कि 24 फरवरी के बाद रूस बड़ा हमला कर सकता है।

Deepak Vyas Written By: Deepak Vyas @deepakvyas9826
Published on: February 03, 2023 7:20 IST
रूस बड़े हमले की तैयारी में, 5 लाख सैनिक बॉर्डर पर तैनात- India TV Hindi
Image Source : FILE रूस बड़े हमले की तैयारी में, 5 लाख सैनिक बॉर्डर पर तैनात

Moscow: रूस और यूक्रेन की जंग को इसी महीने 24 फरवरी को एक साल पूरे हो जाएंगे। लेकिन हालात बिल्कुल नहीं बदले हैं। यह जंग अब और ज्यादा खतरनाक होने जा रही है। ऐसा माना जा रहा है कि रूस दो नए मोर्चों पर हमले की योजना बना रहा है। पूर्वी और दक्षिणी यूक्रेन उसके निशाने पर हैं। इसके लिए 5 लाख सैनिकों की बॉर्डर पर तैनाती की जा रही है। खुद यूक्रेन के रक्षामंत्री का कहना है कि 24 फरवरी के बाद रूस बड़ा हमला कर सकता है। यह हमले पूर्वी और दक्षिणी यूक्रेन में हो सकते हैं। 

यूक्रेन के रक्षा मंत्री ने कहा है कि रूस एक बड़े नए हमले की तैयारी कर रहा है। इसके साथ ही यूक्रेनी मंत्री ने चेतावनी दी है कि रूस का ये हमला 24 फरवरी तक शुरू हो सकता है। ओलेक्सी रेजनिकोव ने कहा कि मास्को ने हजारों सैनिकों को एकत्र किया है। 23 फरवरी को रूस अपना सैन्य दिवस मनाता है, ऐसे में आशंका है कि इस दिन भी रूस, यूक्रेन पर तगड़ा अटैक कर सकता है। रेजनिकोव ने कहा कि मॉस्को ने संभावित आक्रमण के लिए लगभग 5 लाख सैनिकों को जुटाया था। सितंबर में, रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने लगभग 3 लाख अनिवार्य सैनिकों की एक सामान्य लामबंदी की घोषणा की, जो उन्होंने कहा कि देश की "क्षेत्रीय अखंडता" सुनिश्चित करने के लिए आवश्यक था।

पुतिन ने डोनबास पर कब्जा करने का दिया आदेश, बोले यूक्रेन के रक्षामंत्री

रक्षा मंत्री अतिरिक्त एमजी-200 हवाई रक्षा राडार खरीदने के लिए एक सौदा करने के लिए फ्रांस में थे, जिसके बारे में उन्होंने कहा कि पंखों वाली और बैलिस्टिक मिसाइलों और विभिन्न प्रकार के ड्रोन सहित हवाई लक्ष्यों का पता लगाने के लिए सशस्त्र बलों की क्षमता में काफी वृद्धि होगी। रेज़्निकोव की टिप्पणी ऐसे समय में आई है जब यूक्रेन की खुफिया एजेंसियों का आरोप है कि राष्ट्रपति पुतिन ने अपनी सेना को वसंत ऋतु के अंत से पहले डोनबास पर कब्जा करने का आदेश दिया है।

बता दें कि जर्मनी, अमेरिका और ब्रिटेन द्वारा टैंक भेजने पर सहमत होने के बाद यूक्रेन ने हाल ही में हवाई हमलों से खुद को बचाने में मदद के लिए लड़ाकू विमानों की मांग फिर से शुरू की है। कीव के अधिकारियों ने पश्चिमी देशों से बार-बार अपील की है कि उसे लड़ाकू विमानों की आपूर्ति की जाए। उन्होंने कहा कि रूस की हवाई क्षेत्र में सर्वोच्चता को चुनौती देने तथा भविष्य के हमलों का जवाब देने के लिए यह जरूरी है। 

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Europe News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन