1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. हेल्थ
  4. कोरोना वायरस से डायबिटीज के मरीजों को कितना खतरा?, जानें एम्स के डॉक्टर से कैसे करें बचाव

कोरोना वायरस से डायबिटीज के मरीजों को कितना खतरा?, जानें एम्स के डॉक्टर से कैसे करें बचाव

डायबिटीज के मरीजों का ब्लड शुगर लेवल बढ़ने से काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में कोरोना वायरस जैसी महामारी फैली हुई है। जानें डायबिटीज के मरीजों के लिए कितना खतरनाक है कोरोना वायरस।

India TV Lifestyle Desk India TV Lifestyle Desk
Updated on: March 24, 2020 15:25 IST
Coronavirus diabetes- India TV
Coronavirus diabetes

विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार आमतौर पर कोरोना वायरस से हर उम्र के लोग संक्रमित हो सकते है। लेकिन बुजुर्गों की बात की जाए तो चूंकि उनकी प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होती है इसलिए वो जल्द इसकी चपेट में आ रहे हैं। इसके अलावा अस्थमा, डायबिटीज, दिल की बीमारियां भी कोरोना की जल्द गिरफ्त में आने का कारण बन सकती है। यानी जिन लोगों को ये बीमारियां हैं, कोरोना का खतरा उन्हें ज्यादा हो सकता है। बच्चों और युवाओं के साथ ऐसा कुछ नहीं कहा गया है।

हमारे देश में डायबिटीज के मरीज बहुत ज्यादा है। अगर किसी व्यक्ति की उम्र कम हो, शुगर कंट्रोल हो तो उसे कोरोना वायरस का रिस्क कम होगा। वहीं कोई बुजुर्ग व्यक्ति का डायबिटीज कंट्रोल नहीं हो रहा है तो उन्होंने कोरोना वायरस का खतरा बहुत ही अधिक है। ऐसे में आप अपना कैसे ख्याल रखें। जानें एम्स के डायबिटीज डॉक्टर निखिल टंडन से हर सवाल का जवाब। 

  • कोरोना वायरस से बचने के लिए अपना हाइजीन का पूरा ध्यान रखें। 
  • चेहरे को कम से कम छुएं। क्योंकि संक्रमित हाथों से चेहरे को छुना आपके लिए खतरनाक साबित हो सकता है। 
  • अगर कोई व्यक्ति संक्रमित है तो उससे 1 मीटर की दूरी बना कर रखें। 
  • अच्छी तरह से हाथों को साबुन के साथ धोएं। इसके साथ ही गीले हाथों से चेहरे को न छुएं। क्योंकि गीले हाथों में कोरोना वायरस का कुछ अंश  मौजूद हो सकता है।
  • अगर आपकी शुगर कंट्रोल नहीं हो रही है तो मेडिसीन लें। इसके अलावा आप योगासन, मेडिकेशन करें। इसके अलावा अपनी उम्र के हिसाब से घर में रहकर कोई वर्कआउट कर सकते हैं। 

बाहर से घर वापस लौटने पर बरतें ये जरूरी सावधानी, जानें डॉक्टरों की राय

  • भारत में 10 मौते में से 7 लोगों को डायबिटीज थी। इसका कारण है कि ऐसे लोगों को कोरोना वायरस का संक्रमण बहुत ही जल्दी होता है। 
  • हाई डायबिटीज के लोगों को सैल्फ आइसोलेशन के समय खून की लगातार जांच करें। इसके साथ ही इंसुलिन लेते रहें।
  • सैल्फ आइसोलेशन के दौरान अगर भूख कम लग रही है तो ज्यादा से ज्यादा लिक्विड लें।

ऑनलाइन सामान घर आए तो क्या सावधानी बरतें? चीन से वापस आईं भारतीय डॉक्टर की सलाह

  • अगर सैल्फ आइसोलेशन के दौरान डॉक्टर के संपर्क में रहें। उन्हें अपने डायबिटीज का पूरी रुटीन बताते रहें। 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। कोरोना वायरस से डायबिटीज के मरीजों को कितना खतरा?, जानें एम्स के डॉक्टर से कैसे करें बचाव News in Hindi के लिए क्लिक करें हेल्थ सेक्‍शन
Write a comment
coronavirus
X