Wednesday, June 19, 2024
Advertisement

इतनी सी हंसी इतनी सी खुशी, डिप्रेशन और एंग्जाइटी को रखेगी दूर, स्वामी रामदेव से जानिए योग की हैप्पीनेस थेरेपी

What Is Happiness Therapy: हंसना और खुश रहना 100 दवाओं से भी ज्यादा असरदार है। हैप्पीनेस एक थेरेपी है जो आपकी मेंटल हेल्थ के लिए जरूरी है। खुश रहने से डिप्रेशन और एंग्जाइटी को दूर किया जा सकता है। दिल को स्वस्थ रखने के लिए भी हैप्पीनेस जरूरी है।

Written By : Sajid Khan Alvi Edited By : Bharti Singh Published on: May 23, 2024 9:06 IST
Happiness- India TV Hindi
Image Source : FREEPIK Happiness

आजकल जिस देखो वो बस ज़िंदगी की जद्दोजहद में लगा है। किसी को पैसा कमाने का जुनून है, तो किसी को सोशल मीडिया पर फॉलोअर्स बढ़ाने का, तो किसी को चाहिए लैविश लाइफस्टाइल चाहिए। बहुत से लोगों के पास ये सबकुछ है बस नहीं है तो वो है खुशी और सुकून। जिंदगी की भागदौड़ के चक्कर में ना रिश्तों का ख्याल करते है और ना ही अपनी सेहत का। नतीजा अकेले तन्हा रह जाते हैं। शरीर को बीमारी का घर बना लेते हैं। जबकि तनावभरी ज़िंदगी में 100 मर्ज की एक दवा है थोड़ी देर की हंसी-खुश। इससे ओवरऑल हेल्थ परफेक्ट रहती है और पता है सबसे ज़्यादा फायदा दिल को पहुंचता है। हंसने से हार्ट डिजीज़ का खतरा काफी हद तक घट जाता है। 

जब आप दिल खोलकर हंसने से शरीर में ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है। जिससे हार्ट पर से प्रेशर घटता है। इसके अलावा नर्वस सिस्टम का इंफ्लेमेशन भी कम होता है। अगर ऐसा ना हो तो हार्ट अटैक का जोखिम काफी हद तक बढ़ जाता है। एक लेटेस्ट स्टडी के मुताबिक अगर आप अपने जीवन में हैप्पीनेस का लेवल बढ़ाते हैं, तो आपकी उम्र लंबी होगी। खुश रहने की आदत आपको सोसाइटी से भी जोड़ती है। लोगों के साथ मिलकर आप योगाभ्यास,डांस,स्विमिंग जैसी एक्टिविटी ज़्यादा और रेगुलर कर पाते हैं। जिससे ओल्ड एज में होने वाले दर्द, ज्वाइंट्स-बैक पेन और दूसरी कई परेशानियों से बच जाते हैं। 

इतना ही नहीं खुश रहने से ऐसे हार्मोन्स का सिक्रेशन होता है, जिससे चेहरे पर निखार आता है और खुश रहना कोई बहुत बड़ा टास्क भी नहीं है। क्योंकि हैप्पीनेस State of mind है। हजार तकलीफों के बाद भी आप चाहें तो खुश रह सकते हैं।  वहीं अगर हर वक्त परेशान और दुखी रहते हैं तो मेंटल प्रॉब्लम के साथ तमाम तरह की फिजिकल प्रॉब्लम शुरु होती हैं। तनाव बढ़ने से सिरदर्द, मसल्स पेन, पेट में ऐंठन, इनडायजेशन, नींद की कमी, सांस की दिक्कत होने लगती है। खुश कैसे रहा जाए इसके लिए स्वामी रामदेव से योगिक उपाय जानते हैं?

दिल की सेहत का X फैक्टर है खुशी

ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है

नसों में इंफ्लेमेशन कम होता है
हार्ट का प्रेशर घटता है

हंसने के फायदे

एंटीबॉडीज़ बनती है
इम्यून सेल्स एक्टिव
बीमारी से लड़ने में मदद
पेट की मसल्स की एक्सरसाइज़

कैसे खुश रहें

दूसरों की मदद करें
हर घंटे 10 सेकंड स्ट्रेचिंग करें
अपनों की मुस्कुराती तस्वीरें सामने रखें
मीठा खाने से बढ़ती है खुशी

गुस्से को कैसे कंट्रोल करें

थोड़ी देर टहलें
रोज योग करें
मेडिटेशन करें
गहरी सांस लें
संगीत सुनें
अच्छी नींद लें

गुस्सा खतरनाक रहें सावधान

गुस्से का पैटर्न समझें
क्रोध में आपा ना खोएं
आत्मनियंत्रण सीखें
गुस्से के लक्षण पहचानें

ये नुस्खे टेंशन भगाएंगे

दूध में हल्दी मिलाकर पीएं
दूध के साथ शिलाजीत फायदेमंद

पंचकर्म से पाएं हेल्दी माइंड 

बॉडी को डिटॉक्स करना
5 तरीके से सफाई करना
शरीर की अंदरूनी सफाई
आयुर्वेदिक औषधि से प्यूरीफाई

दूर होगा डिप्रेशन

8 घंटे की नींद लें 
कुछ देर धूप में बैठें
पार्क में टहलें 
हॉबीज़ को पूरा करें 
सिर की मसाज करें 
योग जरूर करें 
मेडिटेशन फायदेमंद 

 

Latest Health News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें हेल्थ सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement