दुष्यंत चौटाला ने अंतरराज्यीय परिवहन के लिए दिल्ली-यूपी के साथ संयुक्त योजना बनाने पर जोर दिया

दिल्ली सरकार ने सोमवार को शहर की सीमाएं एक सप्ताह के लिए सील करने का निर्देश दिया था। हरियाणा ने भी दिल्ली के साथ लगी अपनी सीमाएं सील कर दी थीं और कहा था कि दिल्ली से लोगों की आवाजाही की वजह से राज्य में कोरोना वायरस के मामलों में इजाफा हुआ है।

Bhasha Written by: Bhasha
Published on: June 04, 2020 21:31 IST
Highway- India TV Hindi News
Image Source : PTI Representational Image

चंडीगढ़. लोगों के अंतरराज्यीय परिवहन के लिए दिल्ली और उत्तर प्रदेश के साथ संयुक्त रणनीति बनाने की वकालत करते हुए हरियाणा के उप मुख्यमंत्री दुष्यंत सिह चौटाला ने बृहस्पतिवार को कहा कि कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में तीनों राज्यों को साथ आना चाहिए।

उप मुख्यमंत्री ने सुझाव दिया कि तीनों राज्यों को कोरोना वायरस महामारी के बीच बेहतर अंतरराज्यीय परिवहन के लिए साझा कार्यक्रम तैयार करने के लिहाज से एक वरिष्ठ अधिकारी की नियुक्ति करनी चाहिए। चौटाला ने एक विज्ञप्ति में कहा, ‘‘कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए तीनों राज्यों को मिलकर काम करना होगा।’’

चौटाला की जेजेपी पार्टी हरियाणा में भाजपा के साथ गठबंधन में है। उनका बयान ऐसे दिन आया है जब उच्चतम न्यायालय ने कहा कि तीनों राज्यों की सरकारों को बैठक बुलानी चाहिए और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में अंतरराज्यीय परिवहन के लिए साझा नीति बनाने तथा पोर्टल शुरू करने पर विचार करना चाहिए।

दिल्ली सरकार ने सोमवार को शहर की सीमाएं एक सप्ताह के लिए सील करने का निर्देश दिया था। हरियाणा ने भी दिल्ली के साथ लगी अपनी सीमाएं सील कर दी थीं और कहा था कि दिल्ली से लोगों की आवाजाही की वजह से राज्य में कोरोना वायरस के मामलों में इजाफा हुआ है। शीर्ष अदालत में हरियाणा का पक्ष रख रहे वकील ने कहा कि राज्य ने अपनी सीमाओं पर परिवहन पर लगी पाबंदियों को हटा दिया है। चौटाला ने विज्ञप्ति में कहा कि हरियाणा साझा नीति बनाने के लिए तैयार है। 

Latest India News

raju-srivastava