1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. एयरफोर्स चीफ का बड़ा बयान, कहा- अब 5th जनरेशन के फाइटर प्लेन भी बनाएगा भारत

एयरफोर्स चीफ का बड़ा बयान, कहा- अब 5th जनरेशन के फाइटर प्लेन भी बनाएगा भारत

वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल राकेश कुमार सिंह भदौरिया ने शनिवार को कहा कि आठ राफेल विमान भारत पहुंच चुके हैं और तीन इस महीने के अंत तक पहुंचने की उम्मीद है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: January 23, 2021 22:47 IST
भारत पांचवीं पीढ़ी के लड़ाकू विमानों पर काम कर रहा है: वायुसेना प्रमुख- India TV Hindi
Image Source : PIXABAY भारत पांचवीं पीढ़ी के लड़ाकू विमानों पर काम कर रहा है: वायुसेना प्रमुख

जोधपुर: वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल राकेश कुमार सिंह भदौरिया ने शनिवार को कहा कि आठ राफेल विमान भारत पहुंच चुके हैं और तीन इस महीने के अंत तक पहुंचने की उम्मीद है। वायुसेना प्रमुख भारत और फ्रांस की वायुसेना की जोधपुर में आयोजित ‘एक्सरसाइज डेजर्ट नाइट-21’ के समापन के बाद संवाददाता सम्मेलन में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि भारतीय वायुसेना ने रक्षा अनुसंधान विकास संगठन (डीआरडीओ) के साथ मिलकर पांचवीं पीढ़ी के लड़ाकू विमान कार्यक्रम की शुरुआत की है और इसमें छठी पीढ़ी की कुछ क्षमताओं को भी शामिल करने की योजना है। 

भदौरिया ने कहा, ‘‘हमारा वर्तमान दृष्टिकोण पांचवीं पीढ़ी के विमानों में सभी नवीनतम प्रौद्योगिकियों और सेंसर को शामिल करना है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हमने थोड़ा विलंब से पांचवीं पीढ़ी के विमान पर काम करना शुरू किया। इसलिए तत्कालीन प्रौद्योगिकियों और सेंसर को पांचवीं पीढ़ी के लड़ाकू विमानों में शामिल किया जाएगा।’’ भदौरिया ने कहा कि वायुसेना को जब राफेल विमान प्राप्त हुए तो पहली प्राथमिकता इसे संचालित करने और वर्तमान लड़ाकू बेड़े से इसे जोड़ने की थी। 

उन्होंने कहा, ‘‘ऐसा किया जा चुका है और वर्तमान अभ्यास डेजर्ट नाइट उसी का परिणाम है।’’ एयर चीफ मार्शल ने कहा, ‘‘फ्रांस में भारत के कुछ पायलट प्रशिक्षण हासिल कर रहे हैं और कुछ भारत में ही प्रशिक्षण ले रहे हैं। हमारे पास पायलट-कॉकपिट का सही अनुपात है।’’

उन्होंने कहा कि अगले वर्ष तक शामिल करने की प्रक्रिया पूरी हो जाएगी। इससे पहले भदौरिया ने महज चार दिनों में पूरा अभ्यास सफलतापूर्वक हो जाने पर दोनों वायुसेनाओं को बधाई दी। भारत में फ्रांस के राजदूत इमैनुएल लिनैन ने कहा कि 1953 में पहला फ्रांसीसी विमान भारत में आने के साथ ही दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंध मजबूत होते गए। लिनैन ने कहा, ‘‘अब राफेल मजबूत सहयोग और भागीदारी को दर्शाता है।’’

पढ़ें- आधार को लेकर UIDAI ने बताया नंबर, एक कॉल में मिल जाएगी पूरी जानकारी

पढ़ें- ALERT: रेलवे ने रद्द की कई मेल और स्पेशल एक्सप्रेस ट्रेनें

पढें- किसान आंदोलन से आई बेहद दुखभरी खबर

पढ़ें- आम आदमी पार्टी के इस बड़े नेता को 2 साल जेल की सजा

पढें- BBC ने भारत से मांगी मांगी माफी, जानें पूरा मामला

पढें- ट्रंप के विदाई भाषण की दिल को छू जाने वाली बातें, कहा- मैं वापस आऊंगा...

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X