1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. Corona Vaccine पर छाया धर्म का रंग, असमंजस की स्थिति में हैं मुसलमान

Corona Vaccine पर छाया धर्म का रंग, असमंजस की स्थिति में हैं मुसलमान

देश को दो कोरोना वैक्सीन मिल गई हैं। वैक्सीन बनाने वाली कंपनी से लेकर डॉक्टर्स तक दावा कर रहे हैं कि ये पूरी तरह सुरक्षित है। वैक्सीनेशन से पहले फाइनल रिहर्सल भी चल रहा है ताकि कोई चूक न हो जाए लेकिन पटना में कुछ लोगों ने कोरोना और टीके में मज़हब का एंगल ढूंढ लिया है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: January 08, 2021 11:57 IST
Corona Vaccine पर छाया धर्म का...- India TV Hindi
Image Source : PTI (REPRESENTATIONAL IMAGE) Corona Vaccine पर छाया धर्म का रंग, असमंजस की स्थिति में हैं मुसलमान

नई दिल्ली: देश को दो कोरोना वैक्सीन मिल गई हैं। वैक्सीन बनाने वाली कंपनी से लेकर डॉक्टर्स तक दावा कर रहे हैं कि ये पूरी तरह सुरक्षित है। वैक्सीनेशन से पहले फाइनल रिहर्सल भी चल रहा है ताकि कोई चूक न हो जाए लेकिन पटना में कुछ लोगों ने कोरोना और टीके में मज़हब का एंगल ढूंढ लिया है। ऐसी बड़ी जमात है जो लोगों को धर्म के नाम पर गुमराह कर रही हैं। यही वजह है कि लोगों में वैक्सीन को लेकर बहुत कंफ्यूज़न है। अहमदाबाद में भी स्वास्थ्य कर्मचारी वैक्सीनेशन को सफल बनाने के लिए लोगों को जागरूक कर रहे है लेकिन कुछ मुस्लिम बहुल इलाकों में उनके लिए कदम कदम पर मुश्किल आ रही है।

लोग वैक्सीन लगवाने से सीधे मना कर रहे हैं और इसकी वजह बेहद हैरान करने वाली है। बता दें कि अहमदाबाद और पटना के लोगों को मुंबई से सीखने की ज़रूरत है। मुंबई के मुस्लिम कोरोना वैक्सीन पर क्या सोचते हैं। जब हमारे चैनल इंडिया टीवी की संवाददाता नम्रता ने इस पर सवाल किया तो बहुत से ऐसे लोग मिले जो जागरूक हैं और कोरोना का खात्मा करने वाले टीके का इंतज़ार कर रहे हैं।

देखें वीडियो-

वहीं, आपको बता दें कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से कहा है कि उन्हें कोविड-19 टीके की पहली खेप जल्दी ही मिल सकती है और इसे प्राप्त करने के लिए वे तैयार रहें। मंत्रालय ने एक पत्र में कहा कि आपूर्तिकर्ता टीके की आपूर्ति 19 राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों के केंद्रों पर करेगा। इनमें आंध्र प्रदेश, असम, बिहार, छत्तीसगढ़, दिल्ली, गुजरात, हरियाणा, झारखंड, कर्नाटक, केरल, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, ओडिशा, पंजाब, राजस्थान, तमिलनाडु, तेलंगाना, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल शामिल हैं। शेष 18 राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों को टीका उनके संबंधित सरकारी चिकित्सा भंडारण डिपो से मिलेगा। इनमें अंडमान निकोबार द्वीप समूह, अरूणाचल प्रदेश, चंडीगढ़, दमन और नागर हवेली, दमन एवं दीव, गोवा, हिमाचल प्रदेश, जम्मू कश्मीर, लद्दाख, लक्षद्वीप, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नगालैंड, पुडुचेरी, सिक्किम, त्रिपुरा और उत्तराखंड शामिल हैं।

स्वास्थ्य मंत्रालय में प्रजनन एवं बाल स्वास्थ्य (आरसीएच) के सलाहकार डॉ प्रदीप हलदर ने पांच जनवरी के पत्र में कहा, "सभी राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों को कोविड-19 टीके की पहली खेप जल्द मिल सकती है।" उन्होंने कहा, " इस संबंध में, आपसे आग्रह किया जाता है कि टीके की आपूर्ति को प्राप्त करने के लिए पहले से ही तैयारी रखें।" पत्र में कहा गया है कि टीके का जिलों में वितरण पंजीकृत लाभार्थियों के मुताबिक होगा, जिसके लिए जल्दी अलग से एक पत्र भेजा जाएगा।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment