1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. ओवैसी ने चुनावी सभा में गृह मंत्री अमित शाह पर साधा निशाना, रोहिंग्या को लेकर कही यह बात

ओवैसी ने चुनावी सभा में गृह मंत्री अमित शाह पर साधा निशाना, रोहिंग्या को लेकर कही यह बात

 ओवैसी ने कहा कि अगर वोटर लिस्ट में 30 हजार रोहिंग्या हैं तो गृह मंत्री अमित शाह क्या कर रहे हैं? 

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: November 24, 2020 8:30 IST
ओवैसी ने चुनावी सभा में गृह मंत्री अमित शाह पर साधा निशाना, रोहिंग्या को लेकर कही यह बात- India TV Hindi
Image Source : ANI/TWITTER ओवैसी ने चुनावी सभा में गृह मंत्री अमित शाह पर साधा निशाना, रोहिंग्या को लेकर कही यह बात

हैदराबाद: एआईएमआईएम के चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने रोहिंग्या को लेकर गृह मंत्री अमित शाह पर निशाना साधा है। स्थानीय निकाय के चुनाव प्रचार के दौरान ओवैसी ने कहा कि अगर वोटर लिस्ट में 30 हजार रोहिंग्या हैं तो गृह मंत्री अमित शाह क्या कर रहे हैं? क्या वह सो रहे हैं? क्या यह देखना उनका काम नहीं है कि 30 से 40 हजार रोहिंग्या का नाम कैसे वोटर लिस्ट में शामिल हुआ? ओवैसी ने आगे कहा कि अगर बीजेपी ईमानदार है तो उसे कल शाम तक एक हजार ऐसे नाम लोगों को दिखाने चाहिए। ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम (जीएचएमसी) के लिए चुनाव एक दिसंबर को होंगे।

ओवैसी ने चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि उनका इरादा नफरत पैदा करना है। यह लड़ाई हैदराबाद और भाग्यनगर के बीच है। अब यह तय करना आपकी जिम्मेदारी है कि कौन जीतेगा?

हैदराबाद में स्थानीय निकाय चुनाव एक दिसंबर को 

तेलंगाना राज्य चुनाव आयोग ने मंगलवार को बताया कि ग्रेटर हैदराबाद नगर निगम (जीएचएमसी) के लिए चुनाव एक दिसंबर को होंगे। राज्य चुनाव आयुक्त सी.पार्थसारथी ने कहा कि प्रमुख राजनीतिक दलों के विचार जानने, कोविड-19 महामारी पर स्वास्थ्य विभाग का विचार और अन्य संबंधित मुद्दों को ध्यान में रखते हुए मतपत्र के जरिए मतदान कराने का फैसला लिया गया है। फिलहाल टीआरएस शासित 150 सदस्यीय जीएचएमसी के लिए मतदान एक दिसंबर को सुबह सात बजे से शाम छह बजे तक होगा। उन्होंने बताया कि महामारी को ध्यान में रखते हुए मतदान के समय को एक घंटे के लिए बढ़ाया गया है।

मतदान के लिए नामांकन बुधवार से स्वीकार किए जाएंगे और पर्चा दाखिल करने की अंतिम तारीख 20 नवंबर है। नामांकन पत्रों की जांच 21 नवंबर को होगी और 22 नवंबर तक नाम वापस लिए जा सकेंगे। जरुरत होने पर तीन दिसंबर को पुन:मतदान और मतगणना अगले दिन चार दिसंबर को होगी। वर्तमान स्थानीय निकाय का कार्यकाल 10, फरवरी 2021 तक है। पार्थसारथी ने बताया कि राज्य सरकार ने 2016 के चुनावों में लागू आरक्षण को इस बार भी जारी रखने का फैसला लिया है। मेयर का पद महिला (सामान्य) के लिए आरक्षित है।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment