अवैध दरगाहों-मजारों के कब्जे में थी श्रीकृष्ण की द्वारका, चला प्रशासन का बुलडोजर

गुजरात में द्वारका भगवान श्रीकृष्ण की नगरी के नाम से पूरी दुनिया में जानी जाती है, लेकिन उसी द्वारका में अब अवैध मजारों और दरगाहों का कब्जा हो गया था, जिसे गुजरात सरकार ने बुलडोजर चला कर अब साफ कर दिया है।

Reported By : Nirnaya Kapoor Edited By : Sushmit SinhaPublished on: October 04, 2022 22:11 IST
Illegal Dargahs In Dwarka - India TV Hindi
Image Source : FILE PHOTO Illegal Dargahs In Dwarka

Highlights

  • द्वारका में चला प्रशासन का बुलडोजर
  • अवैध दरगाहों-मजारों के कब्जे में थी श्रीकृष्ण की द्वारका
  • 50 से ज्यादा अवैध निर्माण पर चला बुलडोजर

गुजरात में द्वारका भगवान श्रीकृष्ण की नगरी के नाम से पूरी दुनिया में जानी जाती है, लेकिन उसी द्वारका में अब अवैध मजारों और दरगाहों का कब्जा हो गया था, जिसे गुजरात सरकार ने बुलडोजर चला कर अब साफ कर दिया है। हालांकि, यह कार्रवाई इतनी आसानी से नहीं हुई इसके लिए इस इलाके में रहने वाले लोगों ने आवाज़ उठाई तब कहीं जाकर प्रशासन की नींद टूटी। 

इलाके के हिंदुओं में डर का माहौल

इस इलाके में करीब 10 हजार की आबादी रहती है। इसमें ज्यादातर मुस्लिमों की आबादी है। हिंदू परिवारों की बात करें तो उनकी तादाद केवल 1500 ही है। इसीलिए काफी समय तक इस अवैध कब्जे को लेकर ये लोग आवाज भी नहीं उठा पा रहे थे। हालांकि, कार्रवाई के बाद भी इलाके के हिंदू परिवार डर के साये में जी रहे हैं, उन्हें डर है कि कहीं कोई अनहोनी ना हो जाए।

ऑपरेशन क्लीनअप! 

प्रशासन ने जिले में ऑपरेशन क्लीनअप चलाया है, जिसके तहत 4 दिनों में 50 से ज्यादा अवैध निर्माणों पर बुलडोजर चला है। अगर जमीन की बात करें तो इस कार्रवाई में प्रशासन ने कुल 1 लाख स्क्वायर फुट जमीन खाली कराई है। बेट द्वारका में ऑपरेशन क्लीन अप की शुरुआत शनिवार से हुई थी। पिछले चार दिनों के दौरान 50 से ज़्यादा अवैध निर्माणों को तोड़कर, एक लाख स्क्वॉयर फुट सरकारी ज़मीन को ख़ाली कराया गया है।

ऑपरेशन क्लीन अप के दौरान कोई हंगामा न हो, इसके लिए एक हज़ार से ज़्यादा जवानों को बेट द्वारका में तैनात किया गया था। इनमें गुजरात पुलिस, स्टेट रिज़र्व पुलिस और सेंट्रल पैरा-मिलिट्री फ़ोर्सेज़ के जवान शामिल थे। पूरे ऑपरेशन की निगरानी के लिए देवभूमि द्वारका ज़िले के डीएम, राजकोट रेंज के IG, 3 एसपी रैंक के ऑफ़िसर, 9 डीएसपी, 20 इंस्पेक्टर्स को लगाया गया था।

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन