ओडिशा में हुए भीषण हादसे की वजह से 90 ट्रेनें रद्द, 46 ट्रेनों को डायवर्ट किया गया, यात्रा से पहले चेक कर लें स्टेटस

ओडिशा के बालासोर में हुए हादसे का असर बाकी ट्रेनों पर भी पड़ा है। कई ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है और कई को डायवर्ट किया गया है।

Rituraj Tripathi Edited By: Rituraj Tripathi @riturajfbd
Published on: June 03, 2023 23:56 IST
indian railways - India TV Hindi
Image Source : REPRESENTATIVE PIC भारतीय रेलवे

बालासोर/नई दिल्ली: ओडिशा के बालासोर में शुक्रवार को हुए भीषण हादसे का असर बाकी की ट्रेनों पर भी पड़ा है। इस हादसे की वजह से 90 ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है, जबकि 46 ट्रेनों के मार्ग में बदलाव किया गया है। वहीं 11 ट्रेनों को उनके डेस्टिनेशन से पहले ही रोक दिया गया है। जो ट्रेनें प्रभावित हुई हैं, उसमें ज्यादातर दक्षिण और दक्षिण-पूर्व रेलवे जोन की हैं। गौरतलब है कि बालासोर में हुए हादसे में 288 यात्रियों की मौत हुई है और सैकड़ों घायल हैं। 

किन ट्रेनों को रद्द किया गया

भारतीय रेल के दो जोन द्वारा जारी ताजा आंकड़ों के अनुसार, दक्षिण पूर्व रेलवे ने चेन्नई-हावड़ा मेल, दरभंगा-कन्याकुमारी एक्सप्रेस और तीन जून को चलने वाली कामख्या-एलटीटी एक्सप्रेस को रद्द कर दिया है। रेलवे ने चार जून को चलने वाली पटना-पुरी विशेष ट्रेन भी रद्द कर दी है। दक्षिण रेलवे ने तीन जून की रात 11 बजे मंगलोर से रवाना होने वाली मंगलोर-संतरागाछी विवेक सुपरफास्ट एक्सप्रेस, चार जून को चेन्नई से सुबह सात बजे रवाना होने वाली डॉक्टर एमजीआर चेन्नई सेंट्रल - शालीमार कोरोमंडल एक्सप्रेस, चार जून को चेन्नई से सुबह आठ बजकर 10 मिनट पर रवाना होने वाली डॉक्टर एमजीआर चेन्नई सेंट्रल - संतरागाछी एसी सुपरफास्ट ट्रेन को भी रद्द कर दिया है। 

दक्षिण रेलवे ने रंगपाड़ा उत्तर - इरोड सुपरफास्ट विशेष ट्रेन, छह जून को गुवाहाटी से सुबह छह बजकर 20 मिनट पर रवाना होने वाली गुवाहाटी - श्री एम.

विश्वेश्वरैय्या बेंगलुरु सुपरफास्ट एक्सप्रेस, सात जून को कामख्या से दोपहर दो बजे रवाना होने वाली कामख्या - श्री एम.विश्वेश्वरैय्या बेंगलुरु एसी सुपरफास्ट एक्सप्रेस को भी रद्द कर दिया है।

हादसे से प्रभावित यात्रियों को ले जाने के लिए ये सुविधा

दक्षिण पूर्व रेलवे ने हादसे से प्रभावित यात्रियों के रिश्तेदारों को मौके तक ले जाने के लिए तीन जून को चार बजे हावड़ा से बालासोर तक एक विशेष मेमू (एमईएमयू) ट्रेन चलायी है। यह ट्रेन संतरागाछी, उलूबेरिया, बागनान, मछेड़ा, पानस्कुरा, बालिचाक, खड़गपुर, हिजली, बेल्दा और जलेश्वर में रूकेगी। दक्षिण रेलवे भी हादसे से प्रभावित लोगों के परिजनों/रिश्तेदारों के लिए चेन्नई से भद्रक तक विशेष ट्रेन चला रहा है। 

शनिवार शाम तक मिले आंकड़ों के आधार पर अधिकारियों ने बताया कि इस हादसे में अभी तक 288 लोगों के मरने की पुष्टि हुई है। ओडिशा सरकार के अधिकारियों ने शनिवार रात करीब आठ बजे बताया कि लगभग 1,175 यात्रियों को विभिन्न अस्पतालों में भर्ती कराया गया, जिनमें से 793 को छुट्टी दे दी गई और 382 का इलाज चल रहा है। उन्होंने कहा कि दो मरीजों को छोड़कर सभी की हालत स्थिर है। (इनपुट: भाषा)

ये भी पढ़ें: 

कांग्रेस पार्टी में क्यों शामिल हुए शशि थरूर, बीजेपी कैसी राजनीति करती है? 'आप की अदालत' में बताया

'आप की अदालत' में शशि थरूर बोले- मैं ऐसा राजनेता नहीं जो आखिर तक राजनीति करूंगा, पोते-पोतियों के साथ खेलना चाहूंगा

  

 

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन