Jharkhand Cash Seizure: कैशकांड में पकड़े गए झारखंड कांग्रेस के तीन विधायक, 10 दिन की पुलिस रिमांड पर भेजे गए

Jharkhand Cash Seizure: पश्चिम बंगाल के हावड़ा जिले में झारखंड के कांग्रेस के तीन विधायकों के वाहन से भारी मात्रा में नकदी बरामद होने के बाद रविवार को उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया।

Swayam Prakash Edited By: Swayam Prakash @@SwayamNiranjan
Published on: July 31, 2022 23:45 IST
Huge amount of cash was found in a vehicle of Jharkhand Congress MLAs- India TV Hindi News
Image Source : PTI Huge amount of cash was found in a vehicle of Jharkhand Congress MLAs

Highlights

  • झारखंड के कांग्रेस के तीन विधायक हुए गिरफ्तार
  • विधायकों की गाड़ी से भारी मात्रा में नकदी बरामद
  • 10 दिनों की सीआईडी हिरासत में तीनों विधायक

Jharkhand Cash Seizure: पश्चिम बंगाल के हावड़ा जिले में झारखंड के कांग्रेस के तीन विधायकों के वाहन से भारी मात्रा में नकदी बरामद होने के बाद रविवार को उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि शनिवार शाम पंचला थाना क्षेत्र के रानीहाटी में राष्ट्रीय राजमार्ग-16 पर रोके गए विधायकों के वाहन से 49 लाख रुपये कैश बरामद हुआ। उन्होंने कहा कि विधायक इरफान अंसारी, राजेश कच्छप और नमन बिक्सल कोंगारी और उनका ड्राइवर पुलिस को यह बताने में विफल रहे कि वे इतनी बड़ी मात्रा में नकदी क्यों ले जा रहे थे, जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। 

10 दिनों की सीआईडी हिरासत में तीनों विधायक

अधिकारी ने कहा कि सीआईडी ने हावड़ा ग्रामीण पुलिस से जांच अपने हाथ में ले ली है। उन्होंने कहा कि विधायकों समेत पांच लोगों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की संबंधित धाराओं और भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है। अधिकारी ने कहा कि विधायकों से पूरी रात पूछताछ की गई। अधिकारी के अनुसार, पांचों आरोपियों को अदालत के समक्ष पेश किया गया, जिसने उन्हें 10 दिनों की सीआईडी हिरासत में भेज दिया। 

कांग्रेस के बीजेपी पर सरकार गिराने के आरोप
झारखंड कांग्रेस ने रविवार को आरोप लगाया कि प्रदेश में सत्तारूढ़ झामुमो-कांग्रेस-राजद गठबंधन की सरकार को गिराने के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने पार्टी विधायकों को दस करोड़ रुपये और आगे बनने वाली भाजपा सरकार में मंत्री पद का लालच दिया था। वहीं, इन आरोपों को खारिज करते हुए भाजपा प्रवक्ता सैयद जफर इस्लाम ने कहा कि अपने विधायकों के भ्रष्टाचार को छिपाने के लिए कांग्रेस भाजपा पर दोष मढ़ रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस में बड़े से लेकर छोटे नेता तक, सभी भ्रष्टाचार में लिप्त हैं। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की एक हालिया जांच का हवाला देते हुए इस्लाम ने कहा कि मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से संबंधित अधिकारियों को संदिग्ध भ्रष्टाचार के मामले में पकड़ा गया है और अब कांग्रेस के तीन विधायकों को भारी मात्रा में नकदी के साथ गिरफ्तार किया गया है। 

झारखंड के मंत्री ने दर्ज कराई FIR, बंगाल हुई ट्रांसफर
वहीं इससे पहले दिन में, कांग्रेस विधायक दल के नेता एवं झारखंड के संसदीय कार्य मंत्री आलमगीर आलम ने रांची में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि कांग्रेस के बेरमो विधायक जयमंगल सिंह ने हावड़ा में भारी नकदी के साथ गिरफ्तार तीन कांग्रेस विधायकों के खिलाफ दस करोड़ रुपये नकदी देने और आगे बनने वाली सरकार में मंत्री पद का लालच देकर राज्य सरकार को गिरवाने की कोशिश करने का षड्यंत्र रचने के मामले में अरगोड़ा थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है। वहीं, अरगोड़ा पुलिस थाने के एक अधिकारी ने कहा कि चूंकि, नकदी पश्चिम बंगाल में बरामद हुई है, इसलिए वह मामले को पड़ोसी राज्य में स्थानांतरित कर रहे हैं। भाजपा की झारखंड इकाई के वरिष्ठ नेता बाबूलाल मरांडी ने आरोप लगाया कि कांग्रेस ने अपने पापों को छिपाने के लिए झूठी पुलिस शिकायत दर्ज करके उनकी पार्टी को बदनाम करने की साजिश रची है। 

Latest India News

navratri-2022