Thursday, April 04, 2024
Advertisement

Loksabha Elections 2024: हैदराबाद सीट पर जारी रहेगा ओवैसी की जीत का सिलसिला या लगेगी ब्रेक, जानें सियासी समीकरण

Loksabha Elections 2024 : हैदराबाद लोकसभा सीट पर 1984 से एआईएमाईएम के ओवैसी परिवार का कब्जा है। मौजूदा सांसद असदुद्दीन ओवैसी 2004 से लगातार इस सीट पर चुनाव जीतते रहे हैं।

Niraj Kumar Edited By: Niraj Kumar @nirajkavikumar1
Updated on: March 02, 2024 16:17 IST
लोकसभा चुनाव 2024- India TV Hindi
Image Source : INDIA TV लोकसभा चुनाव 2024

Loksabha Elections 2024 : लोकसभा चुनाव को लेकर सियासी सरगर्मी बढ़ने लगी है। सभी दल जोर शोर से तैयारियों में जुट गए हैं। इस कड़ी में एआईएमआईएम (ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन) के नेता असदुद्दीन ओवैसी भी अब अपनी परंपरागत सीट हैदराबाद पर ज्यादा फोकस कर रहे हैं। हैदराबाद तेलंगाना के 17 लोकसभा सीटों में से एक है। इसी सीट से असुद्दीन ओवैसी सांसद हैं। हैदराबाद लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत मालकपेट, चंद्रयानगुट्टा, कारवां, बहादुरपुरा, चारमीनार, याकूतपुरा, गोशामहल विधानसभा क्षेत्र आते हैं। 

हैदराबाद लोकसभा क्षेत्र की साक्षरता दर 73.34% है। यह सीट जनरल कैटगरी में आती है। यह अल्पसंख्यक बहुल लोकसभा सीट है। यहां मुस्लिम मतदाताओं की संख्या लगभग 1,155,016 है जो कुल मतदाताओं का करीब  59% है। 2011 की जनगणना के मुताबिक इस सीट पर 82,233 एससी मतादाता हैं जो कुल मतदातओं का करीब 4.2% है। एसटी मतदाता लगभग 25,453 हैं जो 2011 की जनगणना के अनुसार लगभग 1.3% है। 2019 के संसदीय चुनावों के आंकड़ों के मुताबिक हैदराबाद लोकसभा सीट पर मतदाताओं की कुल संख्या 1957931 है। 2019 में यहां कुल 44.8% वोटिंग हुई थी।

1984 से 1999 तक इस सीट से असदुद्दीन ओवैसी के पिता सुल्तान सलाउद्दीन ओवैसी लगातार चुनाव जीतते रहे। 2004 में पहली बार ओवैसी ने इस सीट से लोकसभा का चुनाव लड़ा और तब से 2019 तक वे भी लोकसभा चुनावों में लगातार जीत दर्ज करते रहे हैं। अब देखना है कि 2024 के लोकसभा चुनाव में हैदराबाद सीट पर ओवैसी की जीत का सिलसिला यूं ही बरकरार रहता है या फिर ओवैसी के तिलिस्म का किला ढहता है।

2019 लोकसभा चुनाव

हैदराबाद लोकसभा सीट पर एआईएमआईएम के असदुद्दीन ओवैसी ने  बीजेपी के डॉ. भगवंत राव को हराकर 2,82,186 वोटों के अंतर से जीत हासिल की थी। असदुद्दीन औवेसी को कुल  5,17,471 वोट मिले थे। डॉ. भगवंत राव को 2,35,285 वोट मिले थे। वहीं तीसरे नंबर पर टीआरएस (अब बीआरएस) के पी श्रीकांत रहे थे, उन्हें कुल 63,239 वोट मिले थे।  इस निर्वाचन क्षेत्र में कुल 16 उम्मीदवारों ने चुनाव लड़ा। तेलंगाना में 11 अप्रैल 2019 को वोटिंग हुई थी और 23 मई को चुनाव के परिणाम आए थे।

2014 लोकसभा चुनाव

2014 के लोकसभा चुनाव में ओवैसी ने दो लाख से ज्यादा वोटों से जीत हासिल की थी। उन्होंने बीजेपी उम्मीदवार डॉ. भगवंत राव को हराया था। असदुद्दीन औवेसी को कुल 5,13,868 वोट मिले थे जबकि बीजेपी उम्मीदवार डॉ. भगवंत राव को कुल 3,11,414 वोट मिले थे। वहीं कांग्रेस के एस कृष्णा रेड्डी तीसरे स्थान पर रहे थे। कृष्णा रेड्डी को कुल 49,310 वोट मिले थे।

2009 लोकसभा चुनाव

2009 के लोकसभा चुनाव में भी असदुद्दीन ओवैसी ने जीत दर्ज की थी। इस चुनाव में ओवैसी को कुल 3,08,061 वोट मिले थे। उन्होंने तेलुगू देशम पार्टी के उम्मीदवार जाहिद अली खान को शिकस्त दी थी। 

साल 2019 में कब हुए थे चुनाव?

निर्वाचन आयोग ने 10 मार्च, 2019 को लोकसभा चुनाव की तारीखों की घोषणा की थी। कुल सात चरणों में देशभर में लोकसभा के चुनाव कराए गए थे। ये चुनाव 11 अप्रैल से 19 मई तक चले थे। वोटों की गिनती 23 मई को हुई थी। तेलंगाना में पहले फेज में लोकसभा 11 अप्रैल 2014 को वोटिंग हुई थी।

साल 2014 में कब हुए थे चुनाव?

वहीं 2014 को लोकसभा चुनाव 10 चरणों में संपन्न हुए थे। 7 अप्रैल 2014 को शुरू हुआ चुनाव 30 अप्रैल 2014 तक चला था। 7 अप्रैल को पहले फेज की वोटिंग हुई थी, 9 अप्रैल को दूसरे फेज, 10 अप्रैल को तीसरे फेज, 11 अप्रैल को चौथे फेज, 12 अप्रैल को पांचवें फेज, 17 अप्रैल को छठे फेज, 24 अप्रैल को सातवें फेज, 30 अप्रैल को 8वें फेज, 7 मई को 9 वें और 12 मई को दसवें फेज की वोटिंग हुई थी।

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement