1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. Mann Ki Baat: 'मन की बात' में पीएम मोदी ने कहा-स्टार्टअप में दिख रहा नया भारत, जानिए 10 बड़ी बातें

Mann Ki Baat: 'मन की बात' में पीएम मोदी ने कहा-स्टार्टअप में दिख रहा नया भारत, जानिए 10 बड़ी बातें

Mann Ki Baat: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात के 89वें एपिसोड में देशवासियों को संबोधित किया। पीएम ने अपने संबोधन में कहा कि स्टार्टअप इकोसिस्टम छोटे कस्बों व छोटे शहरों में भी है। वहां से भी एंटरप्रेन्योर सामने आ रहे हैं।

Deepak Vyas Written by: Deepak Vyas @deepakvyas9826
Updated on: May 29, 2022 11:59 IST
PM Modi- India TV Hindi
Image Source : FILE PHOTO PM Modi

Highlights

  • देश में यूनिकॉर्न की संख्या 100 तक पहुंची: पीएम
  • पीएम बोले-धार्मिक स्थलों पर गंदगी फैलाना ठीक नहीं
  • 'योगा और ह्युमिनिटी' इस थीम पर मनेगा योगा दिवस

Mann Ki Baat: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात के 89वें एपिसोड में देशवासियों को संबोधित किया। पीएम ने अपने संबोधन में कहा कि स्टार्टअप इकोसिस्टम छोटे कस्बों व छोटे शहरों में भी है। वहां से भी एंटरप्रेन्योर सामने आ रहे हैं। देश की सफलता के पीछे युवा शक्ति, टैलेंट और सरकार सभी मिलकर काम कर रहे हैं। इसके लिए अच्छा मेंटोर जरूरी है। जो स्टार्टअप को नई दिशा में ले जा सकता है। पीएम ने कहा कि दुनिया ने भारत के स्टार्टअप का लोहा माना। जानिए 10 बड़ी बातें।

1. पीएम मोदी ने कहा कि आपको यह जानकर हैरानी होगी कि हमारे कुल यूनिकॉर्न में से 44 पिछले साल बने थे। इतना ही नहीं इस वर्ष के 3-4 महीने में ही 14 और नए यूनिकॉर्न बन गए। इस मतलब वैश्विक महामारी के दौर में भी हमारे स्टार्टअप धन और महत्व का सृजन करने में सफल रहे हैं।

2. पीएम ने कहा कि कुछ दिन पहले देश ने ऐसी उपलब्धि हासिल की है जो हम सभी को प्रेरणा देती है। भारत के सामर्थ्य के प्रति हम सभी का विश्वास जगाती है। इस महीने 5 तारीख को देश में यूनिकॉर्न की संख्या 100 तक पहुंच गई है।

3. पीएम ने अपने संबोधन में कहा कि आज भारत का स्टार्टअप इकोसिस्टम सिर्फ बड़े शहरों तक ही सीमित नहीं है, छोटे-छोटे शहरों और कस्बों से भी उद्यमी सामने आ रहे हैं। इससे पता चलता है कि भारत में जिसके पास अच्छा आइडिया है वो धन बना सकता है।

4. पीएम ने कहा कि धार्मिक स्थलों पर गंदगी फैलाना ठीक नहीं है। कुछ दिन बाद 5 जून को विश्व पर्यावरण दिवस है। इस दिन हमें आसपास जागरुकता व सकारात्मकता अभयान चलाना चाहिए। आप खुद भी पेड़ लगाइए और दूसरों को भी प्रेरित कीजिए।

5. 'योगा और ह्युमिनिटी' इस थीम पर अगले माह विश्व योगा दिवस मनाया जा रहा है। अब पूरी दुनिया में योग दिवस पर काफी तैयारियां भी देखने को मिल रही है। कोरोना ने हमें अहसास कराया कि योगा का हमारे जीवन में कितना महत्व है। इससे जीवनशैली अच्छी होती है। फिल्म, खेल और स्कूल कॉलेज के युवा सभी योग को अपना रहे हैं। योग की बढ़ती लोकप्रियता को देखकर सभी को अच्छा लगता है।

6. मोदीजी  ने कहा कि इस बार योगा को कुछ अलग प्रयोग के साथ मनाया जाएगा। सूरज जैसे जैसे यात्रा करेगा, हम धरती पर योग से उसका स्वागत करेंगे। विश्व के अलग अलग देशों में सूर्योदय के समय योग का कार्यक्रम होगा। इन कार्यक्रमों का प्लान इसी तरह किया गया है। 

7. पीएम ने कहा कि अमृत महोत्सव में देश में 75 स्थानों पर योग का विशेष आयोजन होगा। अपने अपने क्षेत्र में योग के प्रोग्राम को इनोवेटिव बनाएंगे। आप भी किसी पर्यटन केंद्र या प्राचीन केंद्र पर ये प्रोग्राम किया जा सकता है। मुझे विश्वास है कि आप योग में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेंगे।

जापान के लोग भी रामायण से प्रभावित

8. पीएम ने कहा कि जापान के लेग भी रामायण से प्रभावित हैं। पिछले दिनों में जापान गया, तो कई शख्सियतों से मुलाकात करने का मौका मिला। इनमें से एक जानेमाने आर्ट डायरेक्टर थे जापान के। इन्होंने महाभारत प्रोजेक्ट को शुरू किया। वे हर साल किसी देश की यात्रा करके लोकल लोगों के साथ मिलकर महाभारत को प्रोड्यूस करते हैं। उन्होंने इंडोनेशिया सहित 9 देशों में यह प्रस्तुतियां दी हैं। प्रस्तुति में वे स्थानीय नृत्यों का भी समावेश करते हैं। उनका उद्देश्य इस बात को सामने लाना है कि शांति का रूप वास्तव में कैसा हो।

9. जापान के कई लोग रामायण पर एनिमेशन बनाने के प्रति गंभीर हैं। 30 साल पहले बनाई गई एनिमेटेड रामायण की एनिमेशन फिल्म फिर अपडेट होकर और बनकर आ रही है।

 
10 . पीएम ने समाज सेवा से जुड़े कई लोगों के उदाहरण दिए, जिसमें किसी ने अपनी पेंशन दान की, तो किसी ने जल गांव वालों तक मुहैया कराने के उपायों पर अपनी पूरी राशि लगा दी। ऐसे उदाहरणों से समाज को सशक्त होने की प्रेरणा मिलती है। हमें अपने कर्तव्य पर चलते रहना है।