Tuesday, June 25, 2024
Advertisement

भारत में 7.82 प्रतिशत घट गई हिंदुओं की आबादी, मुस्लिमों की 43.15 फीसदी बढ़ी

इकोनॉमिक एडवायजरी काउंसिल टू प्राइम मिनिस्टर (EAC-PM) की ओर से जारी की गई रिपोर्ट में जानकारी दी गई है कि भारत में हिंदुओं की आबादी घटी है। इस रिपोर्ट का मकसद किसी देश की जनसांख्यिकी में परिवर्तन होने पर लोकतांत्रिक प्रक्रिया और शासन पर होने वाले असर का आंकलन करना है।

Edited By: Subhash Kumar @ImSubhashojha
Updated on: May 09, 2024 14:34 IST
भारत में घट रहे हिंदू।- India TV Hindi
Image Source : PEXELS/PTI भारत में घट रहे हिंदू।

प्रधानमंत्री को सलाह देने वाली इकोनॉमिक एडवायजरी काउंसिल ने काफी अहम आंकड़ा जारी किया है। काउंसिल की ओर से जारी किए गए एक वर्किंग पेपर के मुताबिक, भारत में 1950 के बाद से हिंदुओं की आबादी में बड़ी गिरावट देखी गई है। वहीं, मुस्लिमों की आबादी का ग्राफ तेजी से बढ़ा है। बहुसंख्यकों की आबादी में गिरावट का ये ट्रेंड नेपाल और म्यांमार में भी देखा गया है। हालांकि, 38 इस्लामिक देशों में मुस्लिमों की आबादी में बढ़ोतरी देखी गई है। आइए समझते हैं इन आकड़ों को आसान भाषा में। 

हिंदुओं की आबादी में कमी

इकोनॉमिक एडवायजरी काउंसिल की रिपोर्ट के मुताबिक, भारत में साल 1950 से 2015 के बीच हिंदुओं की आबादी 7.82 फीसदी कम हो गई है। वहीं, इसी दौरान मुस्लिमों की आबादी में 43.15 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की गई है। आसान भाषा में समझें तो 1950 में हिंदू 84.68 प्रतिशत थे। हालांकि, 2015 में हिंदुओं की हिस्सेदारी 78.06 फीसदी पर आ गई। इस दौरान हिंदुओं की आबादी में 7.82 प्रतिशत की कमी हुई। वहीं, 1950 में मुस्लिम भारत में 9.84 फीसदी थे। 2015 में बढ़ोतरी के साथ ये संख्या 14.09 फीसदी हो गई है। 1950-2015 के बीच मुस्लिमों की आबादी में 43.15 फीसदी का इजाफा देखा गया। 

भारत में फल-फूल रहे हैं अल्पसंख्यक

प्रधानमंत्री की आर्थिक सलाहकार परिषद की रिपोर्ट बताती है कि भारत में अल्पसंख्यक सुरक्षित हैं और काफी अच्छी तरह फल-फूल रहे हैं। भारत में सिर्फ मुस्लिम ही नहीं बल्कि सिख और ईसाई धर्म की आबादी में भी बढ़ोतरी हुई है। रिपोर्ट के मुताबिक, देश में सिख आबादी में  6.58 प्रतिशत और ईसाई आबादी में  5.38 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है। हालांकि, देश में पारसी और जैन धर्म के लोगों की आबादी घटी है। 

मुस्लिमों देशों में अलग है ट्रेंड

किसी मुस्लिम बहुल देश में आबादी में परिवर्तन का ये ट्रेंड थोड़ा अलग है। जारी की गई रिपोर्ट के मुताबिक, 38 मुस्लिम बहुल देशों में मुसलमानों की हिस्सेदारी बढ़ी है। पाकिस्तान में 1950 में मुस्लिम 77.45 फीसदी थे। अब पड़ोसी देश में मुस्लिम 80.36 प्रतिशत हो गए। इस दौरान बांग्लादेश में मुस्लिम 74.24 प्रतिशत से बढ़कर 88.02 प्रतिशत हो गए। अफगानिस्तान में मुस्लिम आबादी 88.75 प्रतिशत से बढ़कर 89.01 प्रतिशत हो गई। मालदीव में मुस्लिम 99.83 प्रतिशत से घटकर 98.36 प्रतिशत हैं जो कि मामूली गिरावट है। 

भारत के इन पड़ोसियों का हाल भी जानें

इस रिपोर्ट में म्यांमार में बौद्धों की आबादी 78.53 प्रतिशत से घटकर 70.80 प्रतिशत, श्रीलंका में बौद्धों की आबादी 64.28 प्रतिशत से बढ़कर 67.65 प्रतिशत और भूटान में बौद्धों की आबादी 71.44 प्रतिशत से बढ़कर 84.07 प्रतिशत हो गई है। हालांकि, दूसरी ओर नेपाल में देखें तो हिंदुओं की आबादी 84.30 प्रतिशत से घटकर 81.26 प्रतिशत हो गई है। 

ये भी पढ़ें- एक साथ Sick Leave पर गए सैंकड़ों क्रू मेंबर्स, अब Air India ने कइयों को नौकरी से निकाला

फ्लाइट के दौरान वॉशरूम में सिगरेट पी रहा था शख्स, पायलट ने यूं पकड़ा; दर्ज हुई FIR

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement