क्या बदल जाएगा इटावा शहर का नाम? समाजवादी पार्टी ने की है मांग, जानिए पूरा मामला

इटावा जिला पंचायत के अध्यक्ष सपा प्रमुख अखिलेश यादव के चचेरे भाई अभिषेक यादव हैं और यह प्रस्ताव उन्होंने ही रखा था। वहीं पार्टी सूत्रों का कहना है कि समाजवादी पार्टी विधानसभा ले आगामी बजट सत्र में भी जिले का नाम बदलने की सरकार से मांग करेगी।

Sudhanshu Gaur Written By: Sudhanshu Gaur @SudhanshuGaur24
Updated on: February 04, 2023 7:07 IST
Etawah- India TV Hindi
Image Source : TWITTER इटावा

लखनऊ: केंद्र सरकार द्वारा उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और सपा के संस्थापक दिवंगत नेता मुलायम सिंह यादव पद्म विभूषण (मरणोपरांत) देने के बाद अब सपा ने अपनी तरफ से दांव चल है। अगर यह दांव सफल रहा तो जल्द ही मुलायम सिंह यादव का गृह जिला इटावा का नाम बदल सकता है। समाजवादी पार्टी ने इटावा का नाम बदलकर मुलायम नगर रखने की मांग की है और इससे जुड़ा प्रस्ताव जिला पंचायत की बैठक में लाया जा चुका है। 

इटावा जिला पंचायत के अध्यक्ष सपा प्रमुख अखिलेश यादव के चचेरे भाई अभिषेक यादव हैं और यह प्रस्ताव उन्होंने ही रखा था। वहीं पार्टी सूत्रों का कहना है कि समाजवादी पार्टी विधानसभा ले आगामी बजट सत्र में भी जिले का नाम बदलने की सरकार से मांग करेगी। हालांकि इससे पहले जब यह प्रस्ताव जिला पंचायत में रखा गया था तब बीजेपी ने इसका विरोध किया था। इससे अनुमान लगाया जा रहा है कि अगर विधानसभा में यह प्रस्ताव रखा जाता है तो बीजेपी वहां भी विरोध कर सकती है। 

ईंट के नाम पर रखा गया था शहर का नाम 

बता दें कि इटावा का नाम ईंट बनाने वाले भट्टों के नाम से लिया गया है। इटावा में पिछले कई वर्षों से ईंट बनाने का काम किया जाता है। शहर की सीमाओं के आसपास सैकड़ों ईंट भट्टे हैं और यहां की ईंटे उत्तर प्रदेश समेत कई अन्य राज्यों में जाती हैं। सपा के संस्थापक मुलायम सिंह यादव का जन्म इटावा के सैफई गांव में हुआ था। पिछले वर्ष ही उनका इधन हुआ था, जिसके बाद सरकार ने 26 जनवरी पर उन्हें मरणोपरांत पद्दम विभूषण से सम्मानित किये जाने का ऐलान किया। हालांकि इसके बाद सपा के द्वारा उन्हें भारत रत्न दिए जाने की मांग उठाई जाने लगी।

Latest Uttar Pradesh News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Uttar Pradesh News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन