Saturday, February 24, 2024
Advertisement

मध्य प्रदेश: दिग्विजय सिंह के भाई और जीतू पटवारी समेत इन बड़े कांग्रेसी नेताओं की हुई बुरी तरीके से हार, इनमें एक 7 बार का विधायक भी शामिल

मध्य प्रदेश में बीजेपी ने कांग्रेस को चारों खाने चित्त कर शानदार जीत दर्ज की है। बीजेपी की आंधी में कांग्रेस की बड़े-बड़े सूरमा ढेर हो गए हैं।

Shailendra Tiwari Written By: Shailendra Tiwari @@Shailendra_jour
Published on: December 03, 2023 21:28 IST
MADHYA PRADESH ELECTION RESULT- India TV Hindi
Image Source : FILE PHOTO दिग्विजय सिंह के भाई और जीतू पटवारी समेत इन बड़े कांग्रेसी नेताओं की हुई हार

मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव में इस बार बीजेपी ने बड़ी जीत दर्ज की है। इस चुनाव में बीजेपी ने अपने विजय रथ की कमान शिवराज सिंह चौहान के हाथों में दे रही थी, तो वहीं कांग्रेस की कमान कमलनाथ के हाथों में थी। इस चुनाव में बीजेपी ने कुल विधानसभा सीट 230 में से 164 सीटों पर बढ़त बनाई है तो कांग्रेस 65 सीट पर सिमट कर रह गई है। इस कांग्रेस के कई बड़े दिग्गजों को भी करारी मुंह की खानी पड़ी है। राव विधान सभा से जीतू पटवारी को भी करारी हार मिली है। तो इस बार दिग्विजय सिंह के भाई को भी हार का मजा चखना पड़ा है।

ये बड़े नेता मैदान में चारों खाने हुए चित्त

गोविंद सिंह

गोविंद सिंह वर्तमान में मध्य प्रदेश विधानसभा में विपक्ष के नेता हैं। कांग्रेस नेता ने 2022 में विपक्ष के नेता के रूप में कमल नाथ की जगह ली। 2018 से 2020 की कमल नाथ सरकार की कैबिनेट में गोविंद सिंह सहकारिता, संसदीय कार्य और सामान्य प्रशासन मंत्री के रूप में भी काम कर चुके हैं। वह साल 1990 से विधानसभा चुनाव जीतकर विधायक बनते आ रहे हैं। गोविंद सिंह 7 बार जीत अपने नाम कर चुके हैं। ये मध्यप्रदेश में बड़े नेता माने जाते हैं। उन्होंने 1990, 1993, 1998, 2003, 2008, 2013 और 2018 में विधानसभा चुनाव जीते। गोविंद सिंह लहर विधानसभा से चुनाव लड़ रहे थे, यहां उन्हें बीजेपी के अम्बरीश शर्मा उर्फ गुड्डू ने 12397 वोटों से हराया है।

लक्ष्मण सिंह

दिग्विजय सिंह के भाई लक्ष्मण सिंह को भी बुरी तरीके से हार का सामना करना पड़ा है। लक्ष्मण सिंह 4 बार विधायक रह चुके हैं और 4 बार सांसद भी रह चुके हैं। इस बार वे अपनी किस्मत चचौड़ा विधानसभा से अपनी किस्मत अजमा रहे थे , यहां उन्हें बीजेपी की प्रियंका पेंची से 53376 मतों से हार का सामना करना पड़ा है।

जीतू पटवारी

इंदौर की राऊ विधानसभा सीट भी हाईप्रोफाइल सीट में गिनी जाती है। यहां से जीतू पटवारी अपनी किस्मत अजमा रहे थे। पर जीतू पटवारी को बीजेपी कS मधु वर्मा के हाथों करारी शिकस्त मिली है। मधु वर्मा ने जीतू पटवारी को 35522 वोटो के बड़े अंतर से हराया है। जीतू पटवारी 2 बार विधायक रह चुके हैं। जीतू पहली बार 2013 में राऊ विधानसभा से ही विधायक बने थे। मध्यप्रदेश में जीतू बड़े कद के नेता माने जाते हैं।

तरुण भनोत

तरुण भनोट साल 2018 से 2020 तक पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ सरकार में प्रदेश के पूर्व वित्त मंत्री हैं। भनोट ने 2013 के मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव में जबलपुर पश्चिम से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के मौजूदा विधायक हरेंद्रजीत सिंह बब्बू को सिर्फ 923 वोटों के अंतर से हराकर जीत हासिल की। फिर साल 2018 के चुनाव में उन्होंने बब्बू को फिर 18,683 वोटों से हराया थी। वहीं, इस बार बीजेपी के राकेश सिंह ने तरुण भनोट को 30134 वोटों के बड़े अंतर से हराया है।

ये भी पढ़ें:

सीएम बनने का भरते थे दम लेकिन अपनी विधायकी भी नहीं बचा पाए नरोत्तम मिश्रा, कांग्रेस उम्मीदवार ने दी मात

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। News in Hindi के लिए क्लिक करें मध्य-प्रदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement