1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. महाराष्ट्र
  4. राज ठाकरे ने की औरंगाबाद का नाम बदलने की मांग, जानिए अयोध्या दौरा रद्द होने का क्या खोला 'राज'

Raj Thackeray : राज ठाकरे ने की औरंगाबाद का नाम बदलने की मांग, जानिए अयोध्या दौरा रद्द होने का क्या खोला 'राज'

Raj Thackeray : महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के प्रमुख राज ठाकरे की रविवार को पुणे में जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने महाराष्ट्र की उद्धव सरकार पर जमकर हमला बोला।

Deepak Vyas Edited by: Deepak Vyas @deepakvyas9826
Updated on: May 22, 2022 13:04 IST
Raj Thackeray- India TV Hindi
Image Source : FILE PHOTO Raj Thackeray

Highlights

  • पीएम मोदी से की यूनिफॉर्म सिविल कोड लाने की अपील
  • उद्धव व आदित्य ठाकरे पर भी बरसे राज
  • अयोध्या दौरा रद्द होने का कारण खराब तबीयत बताया

Raj Thackeray : महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के प्रमुख राज ठाकरे की रविवार को पुणे में जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने महाराष्ट्र की उद्धव सरकार पर जमकर हमला बोला। साथ ही उन्होंने कहा कि लाउडस्पीकर आंदोलन की वजह से हमारे 28 हजार लोगों को नोटिस मिला। उन्होंने महाराष्ट्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि हमारे हिंदू बच्चों पर आप केस दायर कर रहें हैं। हमारा आंदोलन होते रहेगा आप चिंता मत करो। हमारी लीगल टीम तैयार है। राज ने कहा अयोध्या दौरा रद्द होने का कारण बताया कि अगर मैं अयोध्या जाता तो मेरे खिलाफ कई केस दर्ज किए जाते। मैं रामलला के दर्शन करना चाहता था, लेकिन तबीयत ठीक नहीं होने के चलते ऐसा नहीं हो पाया।

अयोध्या मामले पर यह बोले ठाकरे

राज ठाकरे ने कहा, मैंने अपनी अयोध्या यात्रा स्थगित करने के बारे में ट्वीट किया था। मैंने जानबूझकर बयान दिया ताकि सभी को अपनी प्रतिक्रिया देने की अनुमति मिल सके। जो लोग मेरी अयोध्या यात्रा के खिलाफ थे, वे मुझे फंसाने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन मैंने इस विवाद में नहीं पड़ने का फैसला किया। अयोध्या दौरा रद्द होने को लेकर राज ठाकरे ने कहा कि, मेरी तबीयत कुछ ठीक नहीं है। मेरी कमर में कुछ तकलीफ हो रही है। मैं मुंबई गया और इसकी जांच करवाई, डॉक्टरों ने सलाह दी है कि मैं लंबी यात्रा ना करूं। कई पत्रकार अपने मन से कयास लगाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि अयोध्या दौरा कुछ समय के लिए स्थगित किया गया है।  इस फैसले से कुछ लोगों को दुख हुआ और कुछ लोग खुश हो गए। 

'क्या मातोश्री एक मस्जिद है', बोले राज

उन्होंने कहा, जब मैंने अपने कार्यकर्ताओं को लाउडस्पीकर पर हनुमान चालीसा बजाने के लिए कहा, तो राणा दंपती ने कहा कि वे मातोश्री के बाहर हनुमान चालीसा का पाठ करेंगे। मैं पूछना चाहता हूं क्या मातोश्री एक मस्जिद है? जो उन्हें हनुमान चालीसा पढ़ने से रोका गया। ठाकरे ने कहा, उसके बाद राणा दंपती और शिव सैनिकों के बीच क्या हुआ सभी जानते हैं। 

राज ने कहा कि 'पहले पाकिस्तानी कलाकार यहां आते थे। इस देश से हमने उनको निकाल दिया। उस वक्त हिंदुत्व की बकबक करने वाले कहां थे'। उन्होंने औरंगाबाद का नाम संभाजीनगर किए जाने के मुद्दे पर उद्धव पर हमला बोला। राज ने कहा कि 'दो दिन पहले उद्धव ने कहा कि औरंगाबाद का नाम संभाजीनगर है। आपके कहने भर से क्या शहर का नाम बदल जाएगा? आप क्या गांधी या सरदार पटेल हैं? उन्होंने कहा कि उद्धव बताएं कि उन पर क्या एक भी आंदोलन करने का केस है? वे कोई सक्रिय भूमिका नहीं निभाते।

पीएम मोदी से की यूनिफॉर्म सिविल कोड लाने व औरंगाबाद का नाम बदलने की अपील

राज ठाकरे ने अपने संबोधन में कहा कि पीएम मोदी से विनती है वे युनिफॉर्म सिविल कोड UCC लेकर आएं। साथ ही औरंगाबाद का नाम संभाजीनगर करें, ताकि शिवसेना की सियासत खत्म हो। राज ने कहा कि शिवसेना ने एआईएमआईएम को संरक्षण दिया। शिवसेना को यह समझ नहीं आया कि उन्होंने ये गलत किया है। ये लोग यहां आकर औरंगजेब की कब्र पर माथा टेकते हैं। इन्हें शर्म आनी चाहिए।

आदित्य ठाकरे पर भी बरसे राज 

राज ने आदित्य ठाकरे पर हमला करते हुए कहा कि 'आदित्य ने कहा कि अगर बाल ठाकरे अगर आज होते तो उन्हें खुशी होती। आप लोग बाल ठाकरे की क्रेडिबिलिटी गिरा रहे हैं। उन्होंने इाकरे सरकार से सवाल किया कि हमारे शिवाजी महाराज को मारने के लिए आने वाले अफजल खान की मस्जिद को फंडिंग कौन दे रहा है। ये सब इसलिए हो रहा हैं क्योंकि आप चुप हैं।