1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. कैसी रहेगी अगले हफ्ते शेयर बाजार की चाल, जानिये क्या है बाजार के जानकारों की राय

कैसी रहेगी अगले हफ्ते शेयर बाजार की चाल, जानिये क्या है बाजार के जानकारों की राय

इस सप्ताह भारती एयरटेल, टाटा मोटर्स, इंडियन ऑयन कॉरपोरेशन, हैवेल्स, हिंडाल्को और फेडरल बैंक जैसी कुछ कंपनियों के तिमाही परिणाम आने हैं।

India TV Paisa Desk Edited by: India TV Paisa Desk
Updated on: May 16, 2021 19:46 IST
शेयर बाजार- India TV Paisa
Photo:PTI

शेयर बाजार

नई दिल्ली। शेयर बाजार पर आने वाले हफ्ते में भी तिमाही परिणामों और कोविड का असर बना रहेगा। बाजार के जानकारों का कहना है कि इस सप्ताह शेयर बाजार की चाल सूचीबद्ध कंपनियों के तिमाही परिणाम, टीकाकरण अभियान की गति और वैश्विक बाजार की प्रवृत्ति से तय होगी। रिलायंस ब्रोकिंग के उपाध्यक्ष (अनुसंधान) अजीत मिश्रा के अनुसार, ‘‘किसी बड़ी गतिविधियों के अभाव में निवेशकों की नजर वैश्विक शेयर बाजारों के प्रदर्शन, अमेरिका में बांड प्रतिफल, अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपये में उतार-चढ़ाव और कच्चे तेल के दाम पर होगी।’’ उन्होंने कहा, ‘‘यह कहने की कोई जरूरत नहीं है कि कोविड-19 मामले में स्थिति और टीकाकरण अभियान की गति पर भी ध्यान होगा।’’ इस सप्ताह भारती एयरटेल, टाटा मोटर्स, इंडियन ऑयन कॉरपोरेशन, हैवेल्स, हिंडाल्को और फेडरल बैंक जैसी कुछ कंपनियों के तिमाही परिणाम आने हैं। इसके अलावा निवेशकों की केनरा बैंक, जे के टायर एंड इंडस्ट्रीज, हैवेल्स इंडिया, जे के लक्ष्मी सीमेंट, जेएसडब्ल्यू और भारतीय स्टेट बैंक के वित्तीय परिणाम पर भी इस सप्ताह निवेशकों की नजर होगी। 

कोटक महिंद्रा एसेट मैनेजमेंट कंपनी की वरिष्ठ कार्यकारी उपाध्यक्ष और प्रमुख (इक्विटी शोध) शिवानी कुरियन ने कहा, ‘‘बाजार की नजर टीकाकरण की गति, संक्रमितों की संख्या और कंपनी प्रबंधन की स्थिति पर टिप्पणियों पर होगी।’’ इसके अलावा निवेशकों का सोमवार को जारी होने वाले थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति पर भी ध्यान होगा। सैमको सिक्योरिटीज की प्रमुख (इक्विटर शोध) निराली शाह ने कहा, ‘‘संक्रमण के मामले बढ़ने के बावजूद भारतीय शेयर बाजार ने मजबूती दिखायी है। लेकिन स्थिति अगर बिगड़ती है तो, मजबूती लंबे समय तक कायम नहीं रहेगी।’’ उन्होंने यह भी कहा कि विकसित देशों में महंगाई दर में वृद्धि का भारत पर भी असर देखने को मिल सकता है। इससे घरेलू बाजार पर दबाव बन सकता है। ‘‘कंपनियों के तिमाही परिणाम के कारण उनके शेयरों औऱ सेक्टर में उतार-चढ़ाव हो सकते हैं।’’ अवकाश के कारण कम कारोबारी सत्र वाले पिछले सप्ताह में बीएसई सेंसेक्स 473.92 यानी 0.96 प्रतिशत टूटा। 

यह भी पढ़ें: खुशखबरी: कोरोना संकट के बीच एयरटेल का करोड़ों भारतीयों को बड़ा तोहफा, मुफ्त में मिलेगा ये प्लान-पढ़ें पूरी जानकारी

 

यह भी पढ़ें: PM Kisan: अभी तक आपके खाते में नहीं आई है रकम, ऐसे पता कर सकते हैं कि कहां अटका है आपका पैसा

यह भी पढ़ें: घर के मालिक हैं तो न करें कमाई की फिक्र, सालों तक ऐसे पा सकते हैं हर महीने एक निश्चित रकम

 

 

 

Write a comment
erussia-ukraine-news