1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Time मैग्‍जीन ने जारी की दुनिया को बदलने वाले 10 लोगों की लिस्‍ट, एक भारतीय भी है इसमें शामिल

Time मैग्‍जीन ने जारी की दुनिया को बदलने वाले 10 लोगों की लिस्‍ट, एक भारतीय भी है इसमें शामिल

Time मैग्‍जीन की सहस्‍त्राब्‍दी के 10 युवाओं की लिस्‍ट जारी की है। इस लिस्‍ट में 30 वर्षीय भारतीय उद्यमी उमेश सचदेव को भी शामिल किया गया है।

Abhishek Shrivastava Abhishek Shrivastava
Updated on: June 09, 2016 17:03 IST
Time मैग्‍जीन ने जारी की दुनिया को बदलने वाले 10 लोगों की लिस्‍ट, एक भारतीय भी है इसमें शामिल- India TV Paisa
Time मैग्‍जीन ने जारी की दुनिया को बदलने वाले 10 लोगों की लिस्‍ट, एक भारतीय भी है इसमें शामिल

न्‍यूयॉर्क। टाइम मैग्‍जीन की सहस्‍त्राब्‍दी के 10 युवाओं की लिस्‍ट जारी की है। इस लिस्‍ट में 30 वर्षीय भारतीय उद्यमी उमेश सचदेव को भी शामिल किया गया है। टाइम ने 2016 के लिए ’10 सहस्‍त्राबदी लोग, जो दुनिया को बदल रहे हैं’ नाम से यह लिस्‍ट जारी की है। सचदेव एक ऐसा फोन बना रहे हैं, जिसके साथ किसी भाषा में निर्देशों का आदान-प्रदान किया जा सकता है। इन हस्तियों के काम दुनिया में लोगों के जीवन को बदलने की संभावना रखते हैं।

सचदेव को टाइम द्वारा 2016 की सूची में ऐसा फोन बनाने के लिए शमिल किया गया है, जो किसी भी भाषा को समझ कर उसमें जवाब दे सकता है। सचदेव अपने मित्र रवि सरावगी के साथ मिलकर यूनिफोर सॉफ्टवेयर सिस्टम्स कंपनी चला रहे हैं। टाइम ने सचदेव के परिचय में कहा कि चेन्नई का यह स्टार्टअप ऐसे सॉफ्टवेयर बना रहा है, जिससे लोगों को बातचीत करने और अपनी स्थानीय भाषा में ऑनलाइन बैंकिंग सेवाओं का फायदा उठाने में मदद करता है।

यूनिफोर के उत्पादों में एक आभासी सहायक है, जो विश्व की 25 से अधिक वैश्विक भाषाओं और 150 बोलियों में सेवाएं प्रदान कर सकता है और इसका उपयोग 50 लाख से अधिक लोग कर रहे हैं। सचदेव ने इसमें कहा, फोन से वित्तीय समावेश बढ़ाने या किसानों को मौसम की जानकारी प्राप्त करने में मदद मिल सकती है। उन्होंने कहा, आपको एक तरीके की जरूरत होती है कि प्रौद्योगिकी के जरिए लोग संवाद कर सकें।

टाइम ने कहा कि सॉफ्टवेयर के जरिए सचदेव दूरियां पाट रहे हैं और करोड़ों लोगों को डिजिटल तथा वास्तविक दुनिया के बीच के फर्क को पार करने में मदद कर रहे हैं। इसमें कहा गया कि सचदेव ने उस समस्या का समाधान ढूंढा कि फोन की भाषा ग्रामीण भारत के ग्रामीणों की नहीं होती। इसमें एक ओलंपिक पदक विजेता सिमोन बाइल्स भी शामिल हैं, जो नशीली दवाओं के चंगुल में फंसी मां की गिरफ्त से उबर पाईं। इनके अलावा गुफाओं की खोज करने वाले 31 वर्षीय फ्रांसिस्को सॉरो भी शामिल हैं, जिन्होंने वेनीजुएला के वर्षावन में कई तरह की गुफाओं की खोज की है।

यह भी पढ़ें- British Billionaires: ब्रिटेन के रइसों की लिस्ट पर भारतीयों का कब्जा, टॉप पर रूबेन बंधु तो दूसरे पायदान पर हिंदुजा

यह भी पढ़ें- Forbes की लिस्ट में टॉप पर नीता अंबानी, बनी एशिया की सबसे शक्तिशाली महिला कारोबारी

Write a comment