1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. मदर डेयरी ने बाजार में उतारी अपनी ब्रेड, कीमत 15 से 40 रुपये प्रति पैकेट

मदर डेयरी ने बाजार में उतारी अपनी ब्रेड, कीमत 15 से 40 रुपये प्रति पैकेट

मदर डेयरी ने आज बाजार में 3 तरह की ब्रेड उतारी हैं

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Updated on: July 30, 2020 19:23 IST
- India TV Paisa
Photo:FILE

Mother dairy enters bread segment

नई दिल्ली। दिल्ली एनसीआर में दूध और दुग्ध उत्पादों के प्रमुख सप्लायर मदर डेयरी ने अब ब्रेड सेग्मेंट में भी कदम रख दिया है। कंपनी ने आज अपने ग्राहकों के लिए बाजार में 3 तरह की ब्रेड उतार दी हैं। कंपनी के मुताबिक एनसीआर के 1800 मिल्क बूथ और सफल आउटलेट्स के जरिए ग्राहक उनके ब्रैंड की सैंडविच, ब्राउन और फ्रूट एंड मिल्क ब्रेड खरीद सकेंगे। इनकी कीमत 15 रुपये से 40 रुपये प्रति पैकेट रखी गई है।

ब्रेड सेग्मेंट में अपने नए विस्तार के जरिए कंपनी अगले 3 साल में 100 करोड़ रुपये की आय का लक्ष्य लेकर चल रही है। कंपनी के मुताबिक भारत में ब्रेड का मार्केट करीब 5300 करोड़ रुपये है, और इसमें पिछले 5 साल के दौरान औसतन 10 फीसदी की ग्रोथ देखने को मिल रही है। इसमें सबसे ज्यादा खपत व्हाइट ब्रेड्स की है। कंपनी के मुताबिक भारत में लॉजिस्टिक्स और सप्लाई चेन की चुनौतियों को देखते हुए ब्रेड सेग्मेंट स्थानीय स्तर से ही कारोबार करता है। ऐसे में मदर डेयरी को अपने पहले से मौजूद विशाल नेटवर्क की मदद से सेग्मेंट में कोई दिक्कत नहीं होगी। कंपनी ने संकेत दिए की आने वाले समय में ग्राहकों की पसंद और मांग को देखते हुए पोर्टफोलियों में और बदलाव किए जा सकते हैं।

मदरडेयरी की 500 ग्राम सैंडविच ब्रेड की कीमत 30 रुपये रखी गई है। 700 ग्राम पैकेट की कीमत 40 रुपये रखी गई है। 400 ग्राम की ब्राउन ब्रेड 30 रुपये की मिलेगी। वहीं 150 ग्राम की फ्रूट एंड मिल्क ब्रेड की कीमत 15 रुपये रखी गई है। कंपनी 20 नए उत्पाद बाजार में उतार चुकी है जिसमें से 5 मिठाइयों के हैं।

मदर डेयरी की फिलहाल सालाना आय 10 हजार से 11 हजार करोड़ रुपये के बीच है। कंपनी ने लक्ष्य रखा है कि अगले 5 साल में कंपनी 25000 करोड़ रुपये के आय को हासिल कर ले। ये मदर डेयरी के मौजूदा आय के दोगुने से भी ज्यादा है। हालांकि कंपनी ने आशंका जताई है कि इस साल कोरोना संकट की वजह से आय पर असर देखने को मिल सकता है।  वहीं कारोबार करने के तरीकों में भी बदलाव देखने को मिल सकता है। कंपनी का अनुमान है कि आने वाले समय में ज्यादा से ज्यादा लोग सामान के लिए होम डिलिवरी पर भरोसा कर सकते हैं।  

Write a comment
X