1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Yes Bank संकट: येस बैंक के संस्थापक राणा कपूर को मनोवैज्ञानिक डॉक्टर्स देखेंगे

Yes Bank संकट: येस बैंक के संस्थापक राणा कपूर को मनोवैज्ञानिक डॉक्टर्स देखेंगे

नगदी संकट से जूझते येस बैंक के संस्थापक राणा कपूर को मनोवैज्ञानिक डॉक्टर्स देखेंगे। सेंट जार्ज में राणा कपूर का सिर्फ  सामान्य मेडिकल किया गया। 

India TV Business Desk India TV Business Desk
Published on: March 08, 2020 10:56 IST
Yes bank Founder, Yes bank, Rana Kapoor, ED- India TV Paisa

Yes bank Founder Rana Kapoor । File Photo

नई दिल्ली। नगदी संकट से जूझते येस बैंक के संस्थापक राणा कपूर को मनोवैज्ञानिक डॉक्टर्स देखेंगे। सेंट जार्ज में राणा कपूर का सिर्फ  सामान्य मेडिकल किया गया। अस्पताल के डीन के मुताबिक राणा ने डॉक्टर्स को बताया है कि उन्हें नींद नहीं आती। बहुत ज्यादा थकान और मानसिक बोझ सा महसूस हो रहा  है, पिछले कुछ दिन से उन्हें ऐसी समस्या है।

ऐसे में सेंट जार्ज के डॉक्टर्स ने प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की टीम को सलाह दी है कि राणा को मनोवैज्ञानिक से एक बार जांच कराए। दूसरे अस्पताल के डॉक्टर्स को रेफर किया जाएगा जहां मनोवैज्ञानिक डॉक्टर्स उनकी जांच करेंगे। 

बता दें कि, ईडी के अधिकारियों ने मनी लॉन्ड्रिंग के केस में राणा कपूर को रविवार को तड़के गिरफ्तार कर लिया। दीवान हाउसिंग फाइनेंस कॉर्पोरेशन लिमिटेड (DHFL) से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में राणा कपूर को गिरफ्तार किया गया है। ईडी के अधिकारियों ने उनसे करीब 20 घंटे तक पूछताछ की जिसके बाद उन्हें प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (PMLA) की धाराओं के तहत गिरफ्तार किया गया। बताया जा रहा है कि राणा कपूर पूछताछ में सहयोग नहीं कर रहे थे, इसके बाद उनकी गिरफ्तारी कर ली गई। रविवार सुबह करीब 11 बजे राणा कपूर को कोर्ट में पेश किया जाएगा।

बता दें कि, फाउंडर राणा कपूर के खिलाफ लुक आउट नोटिस भी जारी किया गया, इसका मतलब है अब वो देश छोड़ कर बाहर कहीं नहीं जा सकते। येस बैंक पर करीब 2 लाख 41 हजार 500 करोड़ रुपए का कर्ज है। बैंक का एनपीए बढ़ा तो RBI ने कमान अपने हाथ में लेते हुए बैंक के निदेशक मंडल को 30 दिन के लिए भंग कर दिया। बैंक की देखरेख के लिए SBI के पूर्व डिप्टी मैनेजिंग डायरेक्टर और चीफ फाइनेनशियल ऑफिसर प्रशांत कुमार को येस बैंक का नया प्रशासक बनाया गया है। इसके अलावा खाताधारकों की बैंक से पैसा निकालने की सीमा 50 हजार रुपए महीना तय कर दी गई है। विशेष परिस्थिति जैसे- पढ़ाई, इलाज और शादी के लिए पांच लाख रुपए तक निकाले जा सकते हैं। 

राणा कपूर की बेटियों के घर से भी खंगाले गए दस्तावेज

साल 2003-2004 में येस बैंक के सह-संस्थापक रहे कपूर बाद में इसके एमडी और सीईओ बन गए, लेकिन उन्हें सितंबर 2018 में पद छोड़ने के लिए मजबूर किया गया। जांच के हिस्से के रूप में ईडी अधिकारियों ने वर्ली स्थित कपूर के आवास समुद्र महल पर छापा मारा। साथ ही ईडी ने शनिवार को मुंबई और नई दिल्ली स्थित कपूर की तीन बेटियों के घरों की भी तलाशी ली थी। उनकी तीनों बेटियां राखी कपूर टंडन, रोशनी कपूर और राधा कपूर घोटाले की कथित लाभार्थी हैं। ईडी के अधिकारी ने कहा कि तलाशी के दौरान बहुत सारे भ्रामक दस्तावेज पाए गए और एजेंसी ने डीएचएफएल के प्रमोटरों और अन्य कंपनियों के साथ उनके संबंधों को लेकर जांच की।

Write a comment
X