1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. फायदे की खबर
  5. Unlock की वजह से बढ़ने लगी ट्रेनों में भीड़, Indian Railways 21 सितंबर से चलाएगी 20 जोड़ी क्लोन रेलगाडि़यां

Unlock की वजह से बढ़ने लगी ट्रेनों में भीड़, Indian Railways 21 सितंबर से चलाएगी 20 जोड़ी क्लोन रेलगाडि़यां

क्लोन ट्रेनों में से 19 जोड़े हमसफर एक्सप्रेस की रैक चलाई जाएंगी, जिसमें प्रत्येक में 18 कोच होंगे, जबकि एक जोड़ी क्लोन ट्रेन 22 कोचों के साथ दिल्ली-लखनऊ रूट पर चलेगी।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Updated on: September 16, 2020 10:21 IST
Indian Railways to run 20 pairs of clone trains from Sept 21- India TV Paisa
Photo:PTI

Indian Railways to run 20 pairs of clone trains from Sept 21

नई दिल्ली। कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए किए गए राष्‍ट्रव्‍यापी लॉकडाउन के खत्‍म होने के बाद कई स्पेशल ट्रेनों में भारी भीड़ को देखते हुए रेलवे ने 21 सितंबर से चुनिंदा रूटों पर 20 जोड़ी क्लोन ट्रेन चलाने का फैसला किया है। रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि ये पूरी तरह से आरक्षित ट्रेनें होंगी। अधिकारी ने कहा कि क्लोन ट्रेनों में से 19 जोड़े हमसफर एक्सप्रेस की रैक चलाई जाएंगी, जिसमें प्रत्येक में 18 कोच होंगे, जबकि एक जोड़ी क्‍लोन ट्रेन 22 कोचों के साथ दिल्ली-लखनऊ रूट पर चलेगी। अधिकारी ने कहा कि यात्रियों को इन ट्रेनों में आरक्षण 10 दिनों के भीतर करना होगा।

अधिकारी ने कहा कि हमसफर ट्रेन रैक के साथ क्लोन ट्रेनों का किराया हमसफर एक्सप्रेस ट्रेनों जितना वसूला जाएगा, जबकि दिल्ली-लखनऊ रूट पर क्लोन ट्रेन का किराया जनशताब्दी एक्सप्रेस के किराए जितना लिया जाएगा। रेलवे अधिकारियों के अनुसार, क्लोन ट्रेनें वर्तमान में चल रहीं 310 जोड़ी ट्रेनों के अलावा होंगी।

उल्‍लेखनीय है कि भारतीय रेलवे ने आम जनता को रिजर्वेशन में वेटिंग टिकट के झंझट से छुटकारा दिलाने के लिए क्‍लोन ट्रेन स्‍कीम की घोषणा की थी। इसका मकसद रेल यात्रा को यात्रियों के लिए आरामदायक और सुविधाजनक बनाना है। प्रत्‍येक रेल यात्री को कन्‍फर्म सीट मिल सके, इसके लिए भारतीय रेलवे ने क्‍लोन ट्रेन चलाने की योजना बनाई है। इन क्‍लोन ट्रेन को उन मार्गों पर चलाया जाएगा, जहां वेटिंग लिस्‍ट ज्‍यादा लंबी होगी।

रेलवे बोर्ड के चेयरमैन वीके यादव ने कहा था कि भारतीय रेलवे मौजूदा समय में चल रही सभी ट्रेनों की निगरानी करेगा और इस बात का पता लगाएंगे कि किन ट्रेनों में वेटिंग लिस्ट ज्यादा लंबी है। उन्होंने कहा कि जहां भी ट्रेन की मांग होगी, वेटिंग लिस्ट अधिक होगी वहां हम एक वास्तविक ट्रेन के बाद उसी नाम से कुछ ही देर में एक दूसरी ट्रेन चलाएंगे, जिसमें सभी वेटिंग टिकट कन्फर्म होंगे और उस पर आराम से लोग यात्रा कर सकेंगे। यादव ने कहा कि क्लोन ट्रेन का ठहराव स्पेशल ट्रेन से कम होंगे। लोगों की मांग को पूरा करने के लिए क्लोन ट्रेन को सभी बड़े स्टेशनों पर रोकने के लिए विचार किया जा रहा है।

क्या है क्लोन ट्रेन

क्लोन ट्रेन वो ट्रेन है जो वास्तविक ट्रेन की तरह उसी नंबर से एक दूसरी ट्रेन कुछ देर बाद शुरू कर दी जाएगी। यह क्लोन ट्रेन भी वहीं से शुरू होगी, जहां से वास्तविक ट्रेन शुरू होती है। जैसे 12423/12424 नई दिल्ली-डिब्रूगढ़ राजधानी एक्सप्रेस में सीटे फुल हो गईं। अब वेटिंग टिकट वाले यात्रियों की संख्या अधिक है। तो उसके कुछ देर बाद इसी नंबर से, उसी नाम से एक दूसरी ट्रेन चलाई जाएगी। जिसे क्लोन ट्रेन कहा जाएगा। ताकि सभी वेटिंग टिकट वाले यात्री आराम से कन्फर्म टिकट पर यात्रा कर सके। क्लोन ट्रेन छूटने के 4 घंटा पहले सभी वेटिंग टिकट वाले यात्रियों को क्लोन ट्रेन में बर्थ के बारे में सूचित किया जाएगा।

Write a comment
X