Guru Nanak Dev Death Anniversary 2022: गुरुनानक देव को क्यों कहा जाता सिख समाज के पहले गुरु? जानें वजह

Guru Nanak Dev Death Anniversary 2022: गुरु नानक देव की हर साल 22 सितंबर को पुण्यतिथि मनाई जाती है। गुरु नानक देव समाज में बढ़ रही कुरीतियों को देखकर आहत थे और उनको बदलना चाहते थे।

Poonam Shukla Written By: Poonam Shukla
Published on: September 22, 2022 11:58 IST
freepik- India TV Hindi News
Image Source : GURU NANAK Guru Nanak

Guru Nanak Dev Death Anniversary 2022: गुरु नानक देव की हर साल 22 सितंबर को पुण्यतिथि मनाई जाती है। बता दें गुरु नानक देव (Guru Nanak Dev Death)ने 22 सितंबर 1539 को करतारपुर में अपने प्राण का त्याग किया था। इस दिन जगह-जगह पर लंगरों का आयोजन किया जाता है। बाबा नानक का जन्म तलवंडी नामक स्थान पर हुआ था। यह जगह रावी नदी के किनारे बसा हुआ था।आज इस स्थान को ननकाना साहिब के नाम से जाना जाता है। उनका जन्म कार्तिक मास की पूर्णिमा तिथि को हुआ था।बचपन से ही नानक देव जी धार्मिक प्रवृति के बालक थे और आगे चलकर वे सिख समाज के पहले गुरु बनें।

समाज में कुरीतियां 

गुरु नानक देव समाज में बढ़ रही कुरीतियों को देखकर आहत थे और उनको बदलना चाहते थे। वह एक दार्शनिक थे जिसके कारण उन्होंने यह भांप लिया था कि यह कुरीतियां न केवल समाज को खोखला कर रही हैं बल्कि इससे मनुष्य पतन ओर जा रहा है। इसलिए बाबा नानक ने समाज को नई दिशा दिखाने का कार्य किया।

सिख धर्म के प्रमुख सिद्धांत

  1. गुरु नानक देव का कहना है की संसार में हर स्थान पर भगवान मौजूद है।
  2. बाबा नानक के अनुसार जो भी व्यक्ति भगवन की भक्तिी करता में लीन रहता है उसे किसी भी प्रकार का भय नहीं सताता है।
  3. जीवन में व्यक्ति को हमेशा ईमादार होना चाहिए। 
  4. व्यक्ति को मेहनत करके अपना सम्पूर्ण जीवन बिताना चाहिए। 
  5. अपनी कमाई का कुछ अंश जरूरतमंद लोगों को देना चाहिए। 

Shani Sade Sati:इन 3 राशियों पर चल रही है शनि की साढ़ेसाती, बस करें ये उपाय खुशियों से भर जाएगा जीवन

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Festivals News in Hindi के लिए क्लिक करें धर्म सेक्‍शन