Vastu Tips: अगर इस दिशा में बनवाएंगे टॉयलेट तो घर में छाएगी उदासी, खुशियां फेर लेंगी मुंह

Vastu Tips: वास्तु शास्त्र में आज हम बात करेंगे घर में टॉयलेट की दिशा के बारे में, आचार्य इंदु प्रकाश से आज जानिए कि घर में किस दिशा में टॉयलेट बनाने से आप मुश्किल में पड़ सकते हैं।

Written By : Acharya Indu Prakash Edited By : Ritu TripathiPublished on: October 15, 2022 8:15 IST
toilet direction Vastu- India TV Hindi
Image Source : FREEPIK toilet direction Vastu

Highlights

  • घर के लोग रहेंगे उदास
  • घर की महिलाओं और बच्चों पर होगा असर
  • खुशियां बचाने के लिए करें ये उपाय

Vastu Tips: वास्तु शास्त्र में हमारे घर में हर काम के लिए एक दिशा तय की गई है। जैसे रसोई, पढ़ाई का स्थान, पूजा का स्थान यहां तक की पैसे और तिजोरी रखने का स्थान भी। इसलिए घर में कुछ भी नया खरीदने से पहले या कुछ भी शुभ काम करने से पहले वास्तु शास्त्र के नियम का ज़रूर ध्यान रखना चाहिए। इसी तरह वास्तु शास्त्र हमें यह भी बताता है कि हमें किस दिशा में टॉयलेट बनवाना चाहिए। क्योंकि गलत दिशा में बना टॉयलेट आपको परेशानी में डाल सकता है। आज हम पश्चिम दिशा में टॉयलेट के नुकसान और उपाय बताने जा रहे हैं। 

घर के लोग रहेंगे उदास 

आज हम बात करेंगे पश्चिम दिशा में शौचालय के बारे में शौचालय के लिये पश्चिम दिशा को द्वितीय दिशा के रूप में स्वीकार किया गया है। लेकिन ठीक पश्चिम दिशा में शौचालय बनाने से घर के हर्ष तत्व में कमी आती है। घर के निवासियों के चेहरे मलिन और उदास रहते हैं।

घर की महिलाओं और बच्चों पर होगा असर 

घर की छोटी बेटी उदास और इंट्रोवर्ट हो जाती है। वो अपनी बातें किसी से शेयर नहीं करती। जब ज्यादा ठण्ड पड़ती है तो उस घर में डिप्रेशन का वास हो जाता है। घर के निवासियों के स्वास्थ्य में लोहा, जिंक, मैग्नीशियम और अन्य खनिज की कमी से दिक्कतें होती हैं। घर के सदस्यों का, विशेषकर महिलाओं का हिमोग्लोबिन कम हो जाता है।

Vastu Tips: दिशाओं से होता है देवी-देवता का संबंध, जानें किस दिशा के लिए करें किस देवता की पूजा

खुशियां बचाने के लिए करें ये उपाय

अगर पश्चिम दिशा में शौचालय है तो आपको उसके दुष्प्रभावों से बचने के लिए उस दिशा में सफेद रंग करवाना चाहिए। उस दिशा में मैटल से बनी कोई चीज़ लगवानी चाहिए या टॉयलेट का दरवाजा मैटल का होना चाहिए। कांच के कटोरे में समुद्री नमक भरकर उस क्षेत्र में रखना चाहिए और कुछ-कुछ दिन बाद बदल देना चाहिए। साथ ही कुछ-कुछ दिन के अंतर से दोपहर बाद 3 से 5 बजे के बीच छोटी कन्याओं को गुड़ खिलाना चाहिए। ये उपाय करने से पश्चिम दिशा में शौचालय होने के बावजूद आपके घर की खुशियां बरकरार रहेंगी।

Mangal Gochar 2022: 16 अक्टूबर को मिथुन राशि में होगा मंगल का गोचर, जानें कौन सी राशियां होंगी प्रभावित, किसे मिलेगा लाभ

(आचार्य इंदु प्रकाश देश के जाने-माने ज्योतिषी हैं, जिन्हें वास्तु, सामुद्रिक शास्त्र और ज्योतिष शास्त्र का लंबा अनुभव है। इंडिया टीवी पर आप इन्हें हर सुबह 7.30 बजे भविष्यवाणी में देखते हैं)

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Vastu Tips News in Hindi के लिए क्लिक करें धर्म सेक्‍शन
gujarat-elections-2022