1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. खेल
  4. क्रिकेट
  5. 'एक बाउंसर' के चलते टीम से बाहर हो सकते है ऋषभ पंत, कप्तान कोहली ने नए विकेटकीपर का दिया साथ

'एक बाउंसर' के चलते टीम से बाहर हो सकते है ऋषभ पंत, कप्तान कोहली ने नए विकेटकीपर का दिया साथ

के. एल. राहुल के सिर्फ बल्ले ही नहीं बल्कि विकेटकीपिंग में भी शानदार प्रदर्शन के बाद कप्तान विराट कोहली ने साफ़ तौर पर कह दिया कि वो इसी विनिंग टीम के साथ आगे जाना चाहते हैं।

India TV Sports Desk India TV Sports Desk
Updated on: January 20, 2020 9:55 IST
Rishabh Pant and Virat Kohli- India TV Hindi
Image Source : GETTY IMAGE Rishabh Pant and Virat Kohli

पिछले साल 2019 में ऑस्ट्रेलिया से घरेलू वनडे सीरीज में हार का बदला टीम इंडिया ने इस साल 2020 की पहली वनडे सीरीज 2-1 से जीतकर ले लिया है। कंगारुओं को अपने घर में धूल चटाने के बाद आत्मविश्वास से लबरेज टीम इंडिया अब न्यूजीलैंड दौरे के लिए रवाना होगी। जिस अग्निपथ सीरीज के लिए टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने एक बड़े प्लान का खुलासा किया है। जिससे टीम इंडिया में विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी की जगह पहला विकल्प माने जाने वाले युवा ऋषभ पंत पर तलवार लटकती नजर आ रही है। 

जी हाँ, तीसरे वनडे मैच के बाद सीरीज में के. एल. राहुल के सिर्फ बल्ले ही नहीं बल्कि विकेटकीपिंग में भी शानदार प्रदर्शन के बाद कप्तान विराट कोहली ने साफ़ तौर पर कह दिया कि वो इसी विनिंग टीम के साथ न्यूजीलैंड जाना चाहते हैं और इसमें कोई बदलाव नहीं होगा। कोहली ने कहा, "मुझे लगता है पिछले कुछ समय से खिलाड़ियों की पोजिशन से हम स्पष्ट नहीं थे जिससे हमें काफी नुकसान हुआ। अब हमें लगता है कि यह सही है, अब हम इसी के साथ आगे जाएंगे और देखेंगे कि यह हमारे लिए सही है या नहीं। आप अचानक बदलाव करके टीम को असमंजस में नहीं डाल सकते।"

जबकि के. एल. राहुल की तुलना पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज राहुल द्रविड़ से करते हुए कोहली ने कहा, "अगर आप 2003 वर्ल्ड कप पर नजर डालें तो राहुल भाई ने कीपिंग करना शुरु किया जिससे टीम को फायदा मिला एक अन्य बल्लेबाज खिलाने का और टीम के बल्लेबाजों ने अच्छा परफॉर्म किया।"

कोहली के इस बयान से साफ़ है कि पहले वनडे मैच में कमिंस की बाउंसर गेंद सिर पर लगने के कारण टीम की प्लेइंग इलेवन से बाहर हुए ऋषभ पंत के लिए वापसी की राह मुश्किल होती नजर आ रही है। उनकी इसी बाउंसर के बाद पंत मैदान में पहले वनडे मैच में कीपिंग करने नहीं आये और राहुल ने विकट के पीछे कीपिंग कर सबका दिल जीत लिया। इतना ही नहीं बाद में टीम के वनडे दल में पंत की जगह इस सीरीज में श्रीकर भरत को शामिल किया गया था। हलांकि उन्हें खेलने का मौका नहीं मिला। 

ऋषभ पंत की बात करें तो 22 साल के युवा पंत अन्तराष्ट्रीय स्तर पर कुछ यादगार करने में अभी तक नाकाम रहे हैं। वो कभी अपनी बेपरवाह बल्लेबाजी तो कभी अपनी लचर विकेटकीपिंग के कारण अक्सर सोशल मीडिया पर ट्रोल होते रहते हैं। इन सबके बावजूद टीम इंडिया का मैनेजमेंट और चयनकर्ता उन्हें अभी तक धोनी की जगह पहली पसंद मानता आया है। मगर जबसे टेस्ट क्रिकेट में चोट के बाद रिद्धिमान साहा ने वापसी की टेस्ट टीम से भी उन्हें किनारे कर दिया गया। उनकी जगह श्रीकर भरत पिछली सीरीज में बतौर बैक-अप विकेटकीपर बल्लेबाज शामिल थे। जिसके बाद अब एक बाउंसर के चलते पंत ने कभी नहीं सोचा था उनके सामने ऐसी मुसीबत खड़ी हो जाएगी। 

विराट कोहली ने पहले वनडे मैच में पंत के चोटिल होने के बाद राहुल को गल्वस पहनाए। उन्होंने अपनी शानदार बल्लेबाजी के बाद विकटों के पीछे भी बेहतरीन अंदाज में जिम्मेदारी निभाई और इस पैमाने पर भी खरे उतरें। ऐसे में राहुल को टीम में खिलाने के लिए अपने सबसे फेवरेट बल्लेबाजी क्रम 3 नंबर तक को छोड़ने वाले कप्तान कोहली को अब एक वाजिब कारण मिला गया है। जिसके चलते वो अब राहुल को पंत की जगह खिलाने को तैयार हैं। जिसके पीछे का कारण उनकी शानदार फॉर्म में चल रही बल्लेबाजी के साथ-साथ अब विकेटकीपिंग भी बन गई है। 

भारत के लिहाज से देखें तो कोहली का ये कदम अभी तक सोलह आने खरा साबित हुआ है। टीम इंडिया में पूर्व खिलाड़ी राहुल द्रविड़ की याद दिलाने वाले राहुल ने ना सिर्फ ओपनिंग बल्कि दूसरे वनडे मैच में शानदार अंदाज में नंबर 5 पर बल्लेबाजी करते हुए 80 रन ठोंके थे। जिससे साबित होता है कि राहुल किसी भी नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए रन बरसाने को तैयार हैं। इस तरह टीम इंडिया को आगामी न्यूजीलैंड दौरे और उसके बाद ऑस्ट्रेलिया में अक्टूबर माह में आईसीसी टी20 विश्वकप भी खेलना है। जिसके लिए बिना शक ऋषभ पंत के उपर के. एल. राहुल का पलड़ा भारी नजर आ रहा है। 

ऐसे में पंत अगर आगामी मैचों में मिलने वाले मौकों में कोई कमाल नहीं कर पाते हैं तो ना सिर्फ वो टीम इंडिया के पहले विकेटकीपिंग बल्लेबाज की पंसद से हाथ धो बैठेंगे बल्कि निकट भविष्य में उन्हें टीम से बाहर का रास्ता भी दिखाया जा सकता है। इस तरह साल 2020 की शुरुआत में सिर पर लगी बाउंसर गेंद पंत के लिए काल बने उससे पहले पंत को एक बार फिर टीम इंडिया की प्लेइंग इलेवन में अपनी भूमिका साबित करनी होगी। 

बता दें कि ऋषभ पंत अभी तक 16 वनडे और 28 टी20 मैच खेल चुके हैं। जिसमें उनके नाम क्रमशः 374 और 410 रन हैं। जबकि 11 टेस्ट मैचों में उनके नाम 754 रन हैं। 

कोरोना से जंग : Full Coverage

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन
Write a comment

लाइव स्कोरकार्ड

X