Thursday, June 20, 2024
Advertisement

रफह में इजराइल की तरफ से किए गए हमले में 16 और लोगों की हुई मौत, स्थानीय लोगों ने बयां किया खौफनाक मंजर

गाजा के दक्षिणी शहर रफह पर इजराइल की सैन्य कार्रवाई जारी है। इजराइल की तरफ से किए गए हमलों में 16 और लोगों की मौत हो गई है।

Edited By: Amit Mishra @AmitMishra64927
Updated on: May 28, 2024 19:29 IST
Israel attack in Rafah- India TV Hindi
Image Source : AP Israel attack in Rafah

दीर अल बलाह: इजराइल ने गाजा के रफह शहर पर हमले किए हैं जिसमें कम से कम 16 फलस्तीनियों की मौत हो गई है। मानवीय कार्यों से जुड़े ‘फलस्तीनी नागरिक सुरक्षा’ और ‘फलस्तीनी रेड क्रीसेंट’ ने यह जानकारी दी है। स्थानीय लोगों ने बताया कि दक्षिणी गाजा शहर में लड़ाई तेज हो गई है। इजराइल की ओर से मई में हमले की शुरुआत से रफह से 10 लाख लोग भाग गए जिनमें से ज्यादातर लोग इजराइल और हमास की जंग की वजह से पहले ही विस्थापित हो चुके हैं। ये लोग युद्ध से तबाह इलाकों में बने शिविरों में शरण ले रहे हैं।

अमेरिका ने दी चेतावनी 

अमेरिका और इजराइल के अन्य सहयोगियों ने रफह में पूर्ण हमले के खिलाफ चेतावनी दी है। अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन के प्रशासन ने कहा है कि ऐसा करना सीमा लांघना होगा। अंतरराष्ट्रीय अदालत ने इजराइल से शुक्रवार को रफह पर हमला रोकने को कहा था। हालांकि, उसके पास अपने आदेश को लागू कराने की कोई शक्ति नहीं है। इजराइली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने आगे बढ़ने का संकल्प लेते हुए कहा है कि हमास को खत्म करने और सात अक्टूबर के हमले के बाद बंधक बनाए गए लोगों को मुक्त कराने के लिए उनके सैन्यकर्मी रफह जाएंगे। नया हमला उसी इलाके में किया गया है जहां रविवार रात को हमास के एक कथित परिसर को निशाना बनाया गया था।

45 लोगों की हुई मौत 

स्थानीय स्वास्थ्य अधिकारियों के मुताबिक, इससे पहले इजराइली हमले में विस्थापित फलस्तीनियों के एक शिविर में आग लग गई थी जिसमें कम से कम 45 लोगों की मौत हो गई थी। इसे लेकर दुनियाभर में गुस्सा देखा गया। नेतन्याहू ने कहा कि रविवार को ‘दुखद हादसा’ हुआ जबकि सेना ने कहा कि वह मामले की जांच कर रही है। फलस्तीनी नागरिक सुरक्षा और फलस्तीनी रेड क्रीसेंट के मुताबिक, रात में किए गए हमलों में उत्तर पश्चिम रफह के तेल अल-सुल्तान इलाके में कुल 16 लोगों की मौत हो गई। इजराइल का कहना है कि वह गाजा-मिस्र सीमा के पास पूर्वी रफह में सीमित अभियान चला रहा है। मगर स्थानीय निवासियों ने बताया कि रफह के पश्चिमी हिस्सों में रातभर भारी बमबारी हुई है।

'खौफनाक रात थी'

दिसंबर से तेल अल-सुल्तान में पनाह ले रहे गाजा शहर के निवासी अब्देल रहमान अबू इस्माइल ने कहा, “यह खौफनाक रात थी।” उन्होंने कहा कि रात से लेकर सुबह तक विस्फोट की आवाजें सुनाई देती रहीं, लड़ाकू विमान और ड्रोन इलाके में मंडराते रहे। गाजा के स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि आसपास हो रही भारी बमबारी की वजह से तेल अल-सुल्तान के दो मेडिकल केंद्र को बंद करना पड़ा है। ‘मेडिकल एड फॉर पेलेसटिनियंस’ ने कहा कि तेल अल-सुल्तान मेडिकल केंद्र और इंडोनेशियाई फील्ड अस्पताल को बंद कर दिया गया है तथा स्वास्थ्यकर्मी, मरीज और विस्थापित लोग अंदर फंस गए हैं। (एपी)

यह भी पढ़ें: 

Israel Hamas War: पहली बार गाजा के रफह शहर पहुंचे इजराइली टैंक, हमास ने बातचीत से किया इनकार

पापुआ न्यू गिनी में भूस्खलन के बाद भयावह हैं हालात, भारत ने बढ़ाया मदद का हाथ; किया बड़ा एलान

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement