Sunday, June 16, 2024
Advertisement

अफगानिस्तान में बाढ़ ने फिर मचाई तबाही, करीब 50 लोगों की हुई मौत; दर्जनों लापता

अफगानिस्तान में भारी बारिश के चलते एक बार फिर बाढ़ का कहर देखने को मिला है। इस बार बाढ़ से सबसे अधिक गोर प्रांत प्रभावित हुआ है। बाढ़ की वजह से लोगों को भारी नुकसान हुआ है।

Edited By: Amit Mishra @AmitMishra64927
Updated on: May 18, 2024 16:56 IST
अफगानिस्तान में बाढ़- India TV Hindi
Image Source : AP अफगानिस्तान में बाढ़

इस्लामाबाद: अफगानिस्तान में बाढ़ ने एक बार तबाही मचाई है। अफगानिस्तान के गोर प्रांत में भारी बारिश के कारण कई जगह पर अचानक बाढ़ आने से कम से कम 50 लोगों की मौत हुई है। तालिबान के एक अधिकारी ने शनिवार को यह जानकारी दी। अधिकारी ने कहा कि मृतकों की संख्या प्रारंभिक सूचनाओं पर आधारित है और यह बढ़ सकती है। गोर प्रांत के गवर्नर के प्रवक्ता अब्दुल वाहिद हमास ने कहा कि दर्जनों लोग लापता हैं। 

लोगों को हुआ नुकसान 

अब्दुल वाहिद हमास ने कहा कि शुक्रवार की बाढ़ के बाद राजधानी फिरोज कोह समेत विभिन्न क्षेत्रों में हजारों मकानों और संपत्तियों के क्षतिग्रस्त होने की खबर है। हमास ने यह भी बताया कि बाढ़ की वजह से सैकड़ों हेक्टेयर कृषि भूमि के नष्ट होने से प्रांत को काफी वित्तीय नुकसान हुआ है। 

बगलान में बाढ़ का प्रकोप 

इससे पहले अफगानिस्तान के उत्तरी प्रांत बगलान में बाढ़ का विकराल रूप देखने को मिला था। तब संयुक्त राष्ट्र खाद्य एजेंसी ने कहा था अफगानिस्तान में अचानक आई बाढ़ में 300 से अधिक अफगान लोगों की मौत हुई है। बाढ़ की चपेट में आने से 1,000 से अधिक घर भी नष्ट हो गए थे।

अफगानिस्तान में हुई भारी बारिश 

संयुक्त राष्ट्र विश्व खाद्य कार्यक्रम की ओर से बाढ़ प्रभावित लोगों की हरसंभव मदद की जा रही है। बाढ़ से प्रभावित लोगों को खाने और पीने की चीजें वितरित की जा रही है। हाल के दिनों में अफगानिस्तान में असामान्य रूप से भारी बारिश हुई है जिसकी वजह से बाढ़ का प्रकोप देखने को मिल रहा है। (एपी)

यह भी पढ़ें:

ये है दुनिया की सबसे गर्म जगह, यहां आग उगलता है सूरज 

ताइवान की संसद में जमकर हुआ हंगामा, सांसदों ने एक दूसरे को नोचा, खींचा और घसीटा...देखें VIDEO

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement