Monday, February 26, 2024
Advertisement

Sri Lanka Crisis: श्रीलंका में राष्ट्रव्यापी कर्फ्यू के उल्लंघन के लिए 600 से अधिक प्रदर्शनकारी गिरफ्तार

श्रीलंका में 36 घंटों के राष्ट्रव्यापी कर्फ्यू का उल्लंघन करने और बदहाल आर्थिक संकट के मद्देनजर सरकार-विरोधी रैली आयोजित करने के प्रयास के लिए रविवार को देश के पश्चिमी प्रांत में 600 से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया गया।

IndiaTV Hindi Desk Edited by: IndiaTV Hindi Desk
Published on: April 03, 2022 16:51 IST
Over 600 protesters arrested for violating nationwide curfew in Sri Lanka- India TV Hindi
Image Source : PTI Over 600 protesters arrested for violating nationwide curfew in Sri Lanka

Highlights

  • श्रीलंका के पश्चिमी प्रांत में 600 से अधिक लोग गिरफ्तार
  • वीकेंड कर्फ्यू का उल्लंघन करने के लिए हुई गिरफ्तारी
  • विरोध प्रदर्शन से पहले घोषित किया गया था देशव्यापी कर्फ्यू

नई दिल्ली: श्रीलंका में 36 घंटों के राष्ट्रव्यापी कर्फ्यू का उल्लंघन करने और बदहाल आर्थिक संकट के मद्देनजर सरकार-विरोधी रैली आयोजित करने के प्रयास के लिए रविवार को देश के पश्चिमी प्रांत में 600 से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया गया। सरकार द्वारा वीकेंड कर्फ्यू का उल्लंघन करने के लिए विपक्षी सांसदों ने अपने नेता सजित प्रेमदासा के नेतृत्व में यहां ऐतिहासिक चौराहे की ओर विरोध मार्च शुरू किया था। 

सरकार ने प्रदर्शन के पूर्व नियोजित कार्यक्रम के मद्देनजर वीकेंड कर्फ्यू की घोषणा की थी। प्रेमदासा ने कहा, ‘‘हम प्रदर्शन करने से संबंधित जनता के अधिकारों के हनन के लिए सरकार द्वारा सार्वजनिक सुरक्षा अध्यादेश लागू करने का विरोध कर रहे हैं।’’ ‘कोलंबो गज़ट’ में प्रकाशित एक रिपोर्ट के अनुसार, रविवार को पश्चिमी प्रांत में कुल 664 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया है। रविवार को ‘अरब स्प्रिंग’ शैली में प्रस्तावित विरोध प्रदर्शन से पहले देशव्यापी कर्फ्यू घोषित किया गया था। 

राष्ट्रपति गोटाबायो राजपक्षे ने शुक्रवार की देर रात एक विशेष गज़ट अधिसूचना जारी करके श्रीलंका में एक अप्रैल से तत्काल प्रभाव से आपातकाल लगा दिया था। सरकार ने रविवार को सोशल मीडिया तक जनता की पहुंच को समाप्त करने के लिए इंटरनेट सेवा पर रोक लगाने का आदेश दिया था और लोगों के एक जगह इकट्ठा होने पर रोक लगा दी थी। राजपक्षे के भतीजे और खेल मंत्री नमल राजपक्षे ने संवाददाताओं से कहा कि इंटरनेट सेवा पर प्रतिबंध अनुपयोगी है, क्योंकि बहुत सारे लोग सोशल मीडिया साइट से जुड़ने के लिए वीपीएन का इस्तेमाल करेंगे। 

Latest World News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Asia News in Hindi के लिए क्लिक करें विदेश सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement