ye-public-hai-sab-jaanti-hai
  1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. विदेश
  4. अमेरिका
  5. दक्षिण अफ्रीकी वैरिएंट को WHO ने ओमिक्रॉन नाम दिया, वैरिएंट ऑफ कंसर्न की श्रेणी में रखा

New Covid Variant: दक्षिण अफ्रीकी वैरिएंट को WHO ने ओमिक्रॉन नाम दिया, वैरिएंट ऑफ कंसर्न की श्रेणी में रखा

WHO के मुताबिक यह वायरस दुनिया में दूसरी लहर के लिए जिम्मेदार डेल्टा वायरस से भी 5 गुना ज्यादा तेजी से फैलता है।

IndiaTV Hindi Desk Written by: IndiaTV Hindi Desk
Updated on: November 27, 2021 10:05 IST
New Covid variant: दक्षिण अफ्रीका वैरिएंट को WHO ने ओमीक्रॉन नाम दिया, वैरिएंट ऑफ कंसर्न की श्रेणी म- India TV Hindi
Image Source : AP New Covid variant: दक्षिण अफ्रीका वैरिएंट को WHO ने ओमीक्रॉन नाम दिया, वैरिएंट ऑफ कंसर्न की श्रेणी में रखा

Highlights

  • काफी खतरनाक हो सकता है महामारी का यह स्ट्रेन
  • दक्षिण अफ्रीकी वैरिएंट में कई म्यूटेशन हो रहे हैं और स्टडी करने की जरूरत

वॉशिंगटन: दक्षिण अफ्रीका में Covid19  का नया और खतरनाक वैरिएंट मिलने के बाद से एक बार फिर कोरोना फैलने का खतरा बढ़ गया है।दक्षिण विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने दक्षिण अफ्रीका में मिले इस नए वैरिएंट B.1.1.529 को ओमिक्रॉन नाम दिया है। WHO ने इसे वैरिएंट ऑफ कंसर्न की श्रेणी में रखा है। साथ ही यह भी बताया कि तथ्यों के आधार पर कहा जा सकता है कि महामारी का यह स्ट्रेन काफी खतरनाक हो सकता है।

नए वैरिएंट में कई म्यूटेशन 

इससे पहले शुक्रवार को WHO की बैठक के बाद इसके प्रवक्ता क्रिश्चियन लिंडमेयर ने कहा कि शुरुआती विश्लेषण से पता चला है कि इस वैरिएंट में कई म्यूटेशन हो रहे हैं। इसकी और स्टडी करने की जरूरत है। हमें इसका असर समझने में कुछ हफ्ते लगेंगे। रिसर्चर्स इसे और ज्यादा समझने पर काम कर रहे हैं। नए वैरिएंट के बारे में WHO सरकारों के लिए गाइडेंस जारी करेगा, जिससे वे आगे के एक्शन ले सकेंगे।

डेल्टा वैरिएंट की तुलना में अधिक खतरनाक 
 ब्रिटेन के स्वास्थ्य मंत्री साजिद जाविद ने सांसदों से कहा, ‘‘शुरुआती संकेत बताते हैं कि यह स्वरूप डेल्टा वैरिएंट की तुलना में अधिक खतरनाक हो सकता है और वर्तमान टीके इसके खिलाफ कम प्रभावी हो सकते हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हमें जल्द से जल्द संभव कदम उठाने की दिशा में आगे बढ़ना चाहिए।’’ यूरोपीय संघ में शामिल देशों में मामलों में भारी वृद्धि के बीच, जर्मनी के स्वास्थ्य मंत्री जेन्स स्पैन ने कहा, ‘‘यह एक नया स्वरूप कई समस्याएं पैदा करेगा।’’ यूरोपीय संघ आयोग की अध्यक्ष उर्सुला वॉन डेर लेयेन ने कहा, ‘‘उड़ानों को तब तक स्थगित किया जाना चाहिए जब तक कि हमें इस नए स्वरूप से उत्पन्न खतरे के बारे में स्पष्ट समझ न हो, और इस क्षेत्र से लौटने वाले यात्रियों को सख्त पृथक-वास नियमों का पालन करना चाहिए।’’ 

कई देशों ने दक्षिण अफ्रीका पर ट्रैवल बैन लगाया
WHO के मुताबिक यह वायरस दुनिया में दूसरी लहर के लिए जिम्मेदार डेल्टा वायरस से भी 5 गुना ज्यादा तेजी से फैलने की ताकत रखता है। यह जानकारी सामने आने के बाद दुनिया भर में  हड़कंप मच गया। लोग दक्षिण अफ्रीका छोड़कर अपने-अपने देश लौटने लगे हैं। कई देशों ने दक्षिण अफ्रीका पर ट्रैवल बैन लगा दिया है। कनाडा ने दक्षिण अफ्रीका से लौटने वाले लोगों की एंट्री बंद कर दी है, तो यूरोपियन यूनियन ने अफ्रीका से सभी फ्लाइट्स रद्द कर दी है। वहीं अमेरिका ने भी सोमवार से दक्षिण अफ्रीका से एयर कनेक्टिविटी बंद कर देगा।

भारत भी नए वैरिेएंट को लेकर अलर्ट
कोरोना वायरस के नए वेरिएंट से दुनिया में मचे हाहाकर के बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि उनकी सरकार ने अफ्रीकी देशों से कोविड-19 के नए वेरिएंट के खतरे के मद्देनजर उठाए जाने वाले कदमों पर चर्चा के लिए दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) की बैठक बुलायी है। केंद्र ने बृहस्पतिवार को सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से कहा था कि दक्षिण अफ्रीका, हांगकांग और बोत्सवाना से आने वाले या इन देशों के रास्ते आने वाले सभी अंतरराष्ट्रीय यात्रियों की कड़ी जांच की जाए। इन देशों में कोविड-19 के नए वेरिएंट के सामने आने की सूचना है जिसके जनस्वास्थ्य पर गंभीर असर पड़ सकते हैं। 

uttar-pradesh-elections-2022
elections-2022