1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. दिल्ली
  4. "घबराने की जरूरत नहीं है", दिल्ली में तेजी से बढ़ते कोरोना मामलों पर बोले केजरीवाल

"घबराने की जरूरत नहीं है", दिल्ली में तेजी से बढ़ते कोरोना मामलों पर बोले केजरीवाल

दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कोविड मामले काफी तेजी से बढ़ रहे हैं परन्तु चिंता की जरूरत नहीं है। हम सभी जरूरी कदम उठा रहे हैं। 

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Published on: April 02, 2021 17:49 IST
दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर केजरीवाल ने कहा- सरकार सतर्क है और संक्रमण रोकने के लिए हर- India TV Hindi
Image Source : @ARVINDKEJRIWAL दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर केजरीवाल ने कहा- सरकार सतर्क है और संक्रमण रोकने के लिए हर ज़रूरी कदम उठा रही है।

दिल्ली: कोरोना के बढ़ते मामलों की समीक्षा के लिए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार को बैठक की। बैठक के दौरान सीएम केजरीवाल ने कहा कि इस वाली पीक में देखने को मिला है मामले तेजी से बढ़ते जा रहे हैं जो चिंता का विषय है, लेकिन घबराने की जरूरत नहीं है, सरकार स्थिति पर पूरी नजर रखे हुए है और जो भी कदम उठाने की जरूरत है वे सभी कदम उठाए जा रहे हैं। 16 मार्च को दिल्ली में 425 मामले थे और आज जो रिपोर्ट जारी होगी उसमें 3583 मामले हैं। 

'लॉकडाउन लगाने का कोई विचार नहीं'

दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल ने कहा कि कोविड मामले काफी तेजी से बढ़ रहे हैं परन्तु चिंता की जरूरत नहीं है। हम सभी जरूरी कदम उठा रहे हैं। मौतें काफी कम हो रही हैं, लोगों को अस्पताल और ICU में बहुत कम भर्ती होना पड़ रहा है। सरकार का अभी लॉकडाउन का कोई विचार नहीं है। केजरीवाल ने कहा कि अक्तूबर के महीने में जब लगभग इतने ही मामले आ रहे थे तो उस समय आईसीयू में लगभग 1700 मरीज थे कोरोना के और आज लगभग 800 मामले हैं, उन दिनों में जब डेली 3-4 हजार मामले आ रहे थे और 40 के करीब मौतें हो रही थी, आज 10-12 मौतें रोजाना दर्ज की जा रही है। यानि ये वाली वेव पिछली वेब के मुकाबले कम सीरियस है। बैठक में दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन के साथ संबंधित विभागों के अधिकारी शामिल हुए। 

दिल्ली के लिए यह चौथी वेब है- केजरीवाल

सीएम केजरीवाल ने आगे कहा कि दिल्ली में कोरोना के मामले काफी तेजी से बढ़ रहे हैं। दिल्ली ने सबसे ज्यादा मुश्किल कोरोना की स्थिति को एनकाउंटर किया है और दिल्ली के लिए यह चौथी वेव है, भले ही देश के लिए यह दूसरी वेव हो। मामले तो तेजी से बढ़ रहे हैं लेकिन इस चौथी वेव में पिछली वेव के मुकाबले कम गंभीर है, क्योंकि लोगों की मौतें काफी कम हो रही है, और साथ में लोगों को अस्पताल और आईसीयू में पहले के मुकाबले कम किया जा रहा है। 

ये भी पढ़ें:

इस महीने कोरोना मामलों का दिखेगा चरम! वैज्ञानिकों ने की भविष्यवाणी

दिल्ली में लॉकडाउन की वापसी? जानें केजरीवाल ने क्या कहा

Click Mania
bigg boss 15