1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. जमीन से लेकर सोशल मीडिया तक कैसे बढ़ी राकेश टिकैत की लोकप्रियता, जानिए पूरी खबर

जमीन से लेकर सोशल मीडिया तक कैसे बढ़ी राकेश टिकैत की लोकप्रियता, जानिए पूरी खबर

राकेश टिकैत एक ऐसा चेहरा हैं जिन्हें गाजीपुर बॉर्डर पर चल रहे किसान आंदोलन से एक नयी पहचान मिली है। टिकैत अब इस आंदोलन को पंजाब, हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश से निकाल कर देश के दूसरे हिस्सों में ले जाने की कोशिश कर रहे हैं।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: February 10, 2021 13:54 IST
Rakesh Tikait, Rakesh Tikait popularity,  Rakesh Tikait popularity increases from ground to social m- India TV Hindi
Image Source : PTI जमीन से लेकर सोशल मीडिया तक कैसे बढ़ी राकेश टिकैत की लोकप्रियता, जानिए पूरी खबर

गाजीपुर बॉर्डर: राकेश टिकैत एक ऐसा चेहरा हैं जिन्हें गाजीपुर बॉर्डर पर चल रहे किसान आंदोलन से एक नयी पहचान मिली है। टिकैत अब इस आंदोलन को पंजाब, हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश से निकाल कर देश के दूसरे हिस्सों में ले जाने की कोशिश कर रहे हैं। टिकैत अपनी इस बढ़ती लोकप्रियता का बखूबी इस्तेमाल कर रहे हैं, हालांकि जमीन से लेकर सोशल मीडिया तक टिकैत का नाम होने लगा है, लोगों में उनके प्रति संवेदना तो है ही साथ ही टिकैत को भविष्य में किसानों का बड़ा नेता भी माना जा रहा है।

कई राज्यों में करेंगे पंचायत

इस महीने राकेश टिकैत उप्र, हरियाणा, मप्र से लेकर महाराष्ट्र तक में पंचायत करेंगे। चरखी दादरी, जींद, बागपत और कुरुक्षेत्र में राकेश टिकैत किसान पंचायत कर चुके हैं, लेकिन उनकी लोकप्रियता इतनी बढ़ चुकी है, आगामी दिनों में देश भर में होने वाली पंचायतों के लिए उनके पास फोन आना शुरू हो चुके हैं। आगामी दिनों में होने वाली पंचायतों में लोग टिकैत को बुलाना चाहते हैं और यही कारण है कि अभी तक सभी जगहों पर उनके द्वारा हामी नहीं भरी गई है, लेकिन अगले कुछ दिनों में टिकैत ने पंचायत में जाने का फैसला लिया है।

पढ़ें:- गुड न्यूज: अब स्पेशल ट्रेन में बर्थ मिलने में होगी आसानी, रेलवे ने बढ़ाई डिब्बों की संख्या

गाजीपुर बार्डर पर कम, पंचायतों में ज्यादा नजर आ रहे 
हाल ये हो गया है कि अब राकेश टिकैत गाजीपुर बार्डर पर कम दिखाई दे रहे हैं, बल्कि किसान पंचायत में ज्यादा शिरकत कर रहे हैं। अंदाजा इस बात से भी लगाया जा सकता है कि फरवरी के महीने में उनकी उप्र, मप्र, राजस्थान से लेकर महाराष्ट्र तक में करीब दो दर्जन से अधिक किसान पंचायत होने वाली हैं, टिकैत इन पंचायतों के जरिए किसान आंदोलन को पूरे भारत का बनाना चाहते हैं।

सोशल मीडिया पर भी टिकैत के फॉलोवर्स बढ़े 
राकेश टिकैत की हाल ही दिनों में किसानों में लोकप्रियता तो बढ़ी ही है, साथ ही सोशल मीडिया पर भी टिकैत के काफी फॉलोवर्स बढ़ चुके हैं। दरअसल 27, 28 जनवरी की रात टिकैत की आंखों से गिरे आंसुओं ने किसान आंदोलन को मजबूती तो दी ही है साथ ही उनकी लोकप्रियता पर भी इसका असर हुआ। जिसका जीता जागता उदाहरण शोशल मीडिया पर उनके फॉलोवर्स बयां कर रहे हैं।

फेसबुक, ट्विटर पर फॉलोवर्स की संख्या बढ़ी
गणतंत्र दिवस के दिन के आस पास टिकैत के करीब 4 हजार फॉलोवर्स थे, लेकिन कुछ ही दिन पहले उनका ट्वीटर अकाउंट वेरिफाइड हुआ और फॉलोवर्स की संख्या करीब डेढ़ लाख हो गई। वहीं फेसबुक पेज की पोस्ट तो तीन करोड़ लोगों तक पहुंच चुकी है, यही वजह है कि राकेश टिकैत पश्चिमी उप्र से निकलकर उत्तरी भारत के बड़े किसान नेता बनते जा रहे हैं।

इंस्टाग्राम पर भी टिकैत के 45 हजार फॉलोवर्स
टिकैत के प्रति जनता का प्यार देख, उनके सहयोगी को इंस्टाग्राम अकाउंट बनाना पड़ा, जिसपर चंद दिनों में करीब 45 हजार फॉलोवर्स हो चुके हैं। भारतीय किसान यूनियन के मीडिया प्रभारी धर्मेंद्र मलिक ने बताया कि, "जिस वक्त ये आंदोलन शुरू हुआ था उस वक्त करीब 3 से 4 हजार फॉलोवर्स थे, लेकिन अब उनके शोशल मीडिया पर लाखों लोग जुड़ चुके हैं।" उन्होंने आगे बताया कि, "करीब 10 दिन पहले ही इंस्टाग्राम अकाउंट बनाया था, जिसपर करीब 45 हजार लोगों ने फॉलो कर चुके हैं।"

पढ़ें:- डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ दूसरी बार महाभियोग की कार्यवाही शुरू, संसद परिसर में दंगा भड़काने का आरोप

सेल्फी खिंचाने की होड़
हालांकि टिकैत का सोशल मीडिया अकाउंट इक्का दुक्का लोग ही संभालते हैं, बढ़ती लोकप्रियता को देखते हुए पहले के मुकाबले अब ज्यादा पोस्ट की जाती है, साथ ही उनके सोशल मीडिया अकाउंट से हर एक भाषण को लाइव प्रस्तुत किया जाने लगा है। इसके अलावा राकेश टिकैत जहां भी शिरकत कर रहे हैं, लोग उनके साथ सेल्फी खिंचाने की होड़ लगाने लगते हैं।

इनपुट-आईएएनएस

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। National News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X