Sidhu Moosewala Murder Case: गोल्डी बराड़ ने कनाडा से किया फेसबुक पोस्ट, मारे गए गैंगस्टर को बताया बहादुर, शूटर अंकित को लेकर किया दावा

Sidhu Moosewala Murder Case: पोस्ट में गोल्डी बराड़ ने कहा कि जब पुलिस ने उन्हें घेर लिया था, तब उन्होंने मुझे फोन किया था और मैंने उन्हें सरेंडर करने के लिए कहा था।

Reported By : Puneet Pareenja Edited By : Malaika Imam Updated on: July 24, 2022 18:53 IST
Sidhu Moosewala - India TV Hindi News
Image Source : FILE PHOTO Sidhu Moosewala

Highlights

  • मारे गए गैंगस्टर को लेकर गोल्डी बराड़ का दावा, सरेंडर करने को कहा
  • मेरी ओर से शार्प शूटर अंकित की पूरी सहायता की जा रही: गोल्डी बराड़
  • एनकाउंटर में गैंगस्टर जगरूप सिंह रूपा और मनप्रीत सिंह मारे गए थे

Sidhu Moosewala Murder Case: पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड के मास्टरमाइंड गोल्डी बराड़ ने कनाडा से एक फेसबुक पोस्ट किया है और हाल ही में अटारी बॉर्डर पर मारे गए गैंगस्टर जगरूप उर्फ रूपा और मनप्रीत मन्नू को बहादुर बताया है। पोस्ट में गोल्डी बराड़ ने कहा कि जब पुलिस ने उन्हें घेर लिया था, तब उन्होंने मुझे फोन किया था और मैंने उन्हें सरेंडर करने के लिए कहा था, लेकिन दोनों ने बहादुरी के साथ पुलिस का मुकाबला किया।

गोल्डी बराड़ ने अपने फेसबुक पोस्ट में सिद्धू मूसेवाला को मारने वाले शूटरों में शामिल अंकित को पैसा नहीं देने और हत्या के बाद उसका फोन नहीं उठाने की खबरों का भी खंडन किया है। गोल्डी बराड़ ने अपनी पोस्ट में दावा किया है कि पंजाब पुलिस की ओर से फैलाया जा रहा है कि उसने अंकित नाम के शॉर्प शूटर को पैसा नहीं दिया और मूसेवाला की हत्या के बाद में उसका फोन नहीं उठाया, जो कि बिल्कुल गलत है। उसने दावा किया कि उसके द्वारा शार्प शूटर अंकित की पूरी सहायता की जा रही है और अटारी में हुए एनकाउंटर में मारे गए दोनों गैंगस्टरों के परिवारों की भी वो पूरी मदद करेगा।

20 जुलाई को मुठभेड़ में मारे गए थे दोनों गैंगस्टर 

गौरतलब है कि 20 जुलाई को मूसेवाला की हत्या में शामिल दो गैंगस्टर अमृतसर के एक गांव में पंजाब पुलिस के साथ करीब पांच घंटे तक चली मुठभेड़ में मारे गए थे। पुलिस ने बताया था कि इस मुठभेड़ में तीन पुलिसकर्मी और एक पत्रकार भी घायल हुए। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक प्रमोद बान ने बताया था कि पुलिस के साथ मुठभेड़ में गैंगस्टर जगरूप सिंह रूपा और मनप्रीत सिंह उर्फ मन्नू कुसा मारे गए। 

गैंगस्टर के पास से एक एके-47-एक पिस्तौल बरामद

उन्होंने बताया कि यह मुठभेड़ पांच घंटे तक चली जो 20 जुलाई को शाम चार बजे समाप्त हुई। उन्होंने बताया कि पुलिस के साथ भारी गोलीबारी में दोनों मारे गए। एंटी गैंगस्टर टास्क फोर्स (एजीटीएफ) की अगुवाई करने वाले बान ने बताया कि दोनों के पास से एक एके-47 और एक पिस्तौल बरामद की गई। अधिकारी ने बताया कि एक बैग भी बरामद किया गया है, लेकिन फोरेंसिक विभाग उसकी जांच करेगी। 

 मूसेवाला की हत्या में शामिल 4 अन्य शूटर्स गिरफ्तार

वहीं, अंबाला पुलिस ने आज सिद्धू मूसेवाला की हत्या में शामिल गोल्डी बराड़ गिरोह के चार अन्य शूटर्स को गिरफ्तार किया है। चारों शूटर्स गोल्डी बराड़ के लिए काम कर रहे थे। रिपोर्ट के मुताबिक, चारों शूटर्स की गिरफ्तारी के साथ अंबाला पुलिस ने एक साजिश की कोशिश को भी नाकाम कर दिया है, जिसे शूटर्स ने अंजाम देने की योजना बनाई थी।

Latest India News

navratri-2022