1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राजनीति
  5. DDCA मानहानि केस खत्म, कुमार विश्वास ने भी जेटली से मांगी माफी, कहा- केजरीवाल के कहने पर लगाए थे आरोप

DDCA मानहानि केस खत्म, कुमार विश्वास ने भी अरुण जेटली से मांगी माफी, कहा- केजरीवाल के कहने पर लगाए थे आरोप

पिछली सुनवाई में कुमार विश्वास ने दिल्ली हाईकोर्ट से कहा था कि उन्होंने केजरीवाल और पार्टी नेताओं से मिली जानकारी के आधार जेटली के खिलाफ बयान दिए थे...

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: May 28, 2018 17:01 IST
kumar vishwas and arvind kejriwal- India TV Hindi
kumar vishwas and arvind kejriwal

नई दिल्ली: दिल्ली एंड डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन (DDCA) मानहानि केस में अब आप नेता कुमार विश्वास ने भी केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली से माफी मांग ली है। उन्होंने जेटली को पत्र लिखकर माफी मांगते हुए अपने खिलाफ मानहानि केस वापस लेने का अनुरोध किया। जेटली के वकील ने बताया कि कुमार के माफीनामे को वित्त मंत्री ने स्वीकार कर लिया गया है। दिल्ली हाईकोर्ट ने कुमार विश्वास के मागी मांगने के बाद आप के असंतुष्ट नेता के खिलाफ केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली द्वारा दायर मानहानि मुकदमे को बंद किया।

पिछली सुनवाई में कुमार विश्वास ने दिल्ली हाईकोर्ट से कहा था कि उन्होंने केजरीवाल और पार्टी नेताओं से मिली जानकारी के आधार जेटली के खिलाफ बयान दिए थे।

बता दें कि अरविंद केजरीवाल और आप के चार अन्य नेताओं- राघव चड्ढा, संजय सिंह, आशुतोष और दीपक वाजपेयी के 10 करोड़ रुपये के मानहानि मामले में माफी मांगने के बाद इस मामले में विश्वास एकमात्र व्यक्ति बचे थे जिनके खिलाफ मानहानि का मुकदमा जारी था। यह मुकदमा जेटली ने इन लोगों के खिलाफ दायर किया था।

विश्वास ने अपने अधिवक्ता अमित यादव के जरिए जेटली और उनके परिवार के सदस्यों से किसी भी तरह का चोट पहुंचाने के लिये उनसे माफी मांगी। जेटली की ओर से उपस्थित वरिष्ठ अधिवक्ता राजीव नायर और अधिवक्ता माणिक डोगरा ने कहा कि उन्होंने विश्वास की माफी स्वीकार कर ली है। अदालत ने कहा, ‘‘वादकर्ता ने माफी स्वीकार कर ली और यह अदालत आज सौंपे गए पत्र के आलोक में अरुण जेटली के पक्ष में और कुमार विश्वास के खिलाफ डिक्री देती है।’’

विश्वास ने इससे पहले अदालत से कहा था कि कोई बयान देने या जेटली से माफी मांगने से पहले वह जानना चाहते हैं कि क्या केजरीवाल ने झूठ बोला था जब उन्होंने कहा था कि केंद्रीय मंत्री के खिलाफ उनके आरोप दस्तावेजों पर आधारित थे। आप के असंतुष्ट नेता ने कहा था कि इस बात का फैसला करने के लिए उन्हें और वक्त चाहिये कि वह क्या बयान देंगे कि मुकदमे का निस्तारण हो जाए क्योंकि मामले को आगे बढ़ाने में व्यक्तिगत रूप से उनकी कोई दिलचस्पी नहीं है।

जेटली ने दिसंबर 2015 में केजरीवाल और आप के पांच अन्य नेताओं के खिलाफ 10 करोड़ रुपये की मानहानि का मुकदमा दायर किया था। इन नेताओं ने जेटली के डीडीसीए का अध्यक्ष रहने के दौरान उसमें वित्तीय अनियमितता होने का आरोप लगाया था। भाजपा नेता ने अपने खिलाफ लगाए गए सभी आरोपों से इंकार किया था।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment