Wednesday, February 28, 2024
Advertisement

छत्तीसगढ़ के चुनावी नतीजे आने से पहले बघेल ने पीएम मोदी को लिखी चिट्ठी, कर डाली ये बड़ी मांग

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पीएम मोदी को चिट्ठी लिखकर महादेव ऐप पर बैन लगाने की मांग की है। उन्होंने इसे लेकर चिट्ठी में विस्तार से जानकारी दी है। साथ ही पीएम मोदी से यह अपील भी की है महादेव ऐप को सभी प्लेटफार्मों पर प्रतिबंधित किया जाना चाहिए। 0

Amar Deep Edited By: Amar Deep
Published on: December 02, 2023 12:52 IST
भूपेश बघेल ने पीएम मोदी को लिखी चिट्ठी।- India TV Hindi
Image Source : PTI भूपेश बघेल ने पीएम मोदी को लिखी चिट्ठी।

नई दिल्ली: छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को एक पत्र लिखा है। उन्होंने इस पत्र के माध्यम से सभी प्लेटफार्मों पर महादेव ऐप पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है। शुक्रवार को प्रधानमंत्री को लिखे अपने पत्र में मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि हाल के दिनों में ऑनलाइन सट्टेबाजी और गेमिंग के माध्यम से अवैध जुआ और सट्टेबाजी का कारोबार देश भर में फैल गया है और इसके संचालक और मालिक विदेशों से उक्त अवैध कारोबार चला रहे हैं। बघेल ने इस बात पर प्रकाश डाला कि छत्तीसगढ़ सरकार और उनकी राज्य पुलिस इस अवैध कारोबार के संबंध में शुरू से ही सख्त कार्रवाई कर रही है।

छत्तीसगढ़ पुलिस ने दर्ज किए 90 से अधिक मामले

उन्होंने लिखा कि इस संबंध में केस दर्ज करने, इसमें शामिल आरोपियों को गिरफ्तार करने और संपत्ति जब्त करने में सफलता हासिल की गई है। मार्च 2022 से अब तक इस संबंध में 90 से अधिक आपराधिक मामले छत्तीसगढ़ पुलिस द्वारा दर्ज किए गए हैं। इसमें 450 से अधिक आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। बैंक खातों में लगभग 16 करोड़ रुपये फ्रीज कर दिए गए हैं, कई लैपटॉप, मोबाइल जब्त कर लिए गए हैं। बघेल ने यह भी बताया कि राज्य पुलिस ने 80 प्लेटफॉर्म, यूआरएल, लिंक, ऐप्स को प्रतिबंधित और अक्षम करने के लिए इलेक्ट्रॉनिक और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय को लिखा है।

सभी माध्यमों पर लगे बैन

मुख्यमंत्री बघेल ने कहा कि गूगल के साथ पत्राचार के माध्यम से अवैध कारोबार में शामिल महादेव ऐप को प्ले स्टोर से हटा दिया गया है। हाल ही में इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय द्वारा महादेव बुक सहित 22 अवैध सट्टेबाजी ऐप्स और वेबसाइटों पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। लेकिन ध्यान देने वाली बात यह है कि यह अवैध कारोबार कई अंतरराष्ट्रीय या घरेलू मोबाइल नंबरों, मेल आईडी, टेलीग्राम, व्हाट्सएप, यूआरएल, लिंक, इंस्टाग्राम, एपीके फाइलों आदि के माध्यम से भी संचालित होता है। इसलिए यह सलाह दी जाएगी कि अंतरराष्ट्रीय/घरेलू मोबाइल नंबर, मेल आईडी, टेलीग्राम, व्हाट्सएप, इस बिजनेस लिंक में इस्तेमाल किए गए यूआरएल, इंस्टाग्राम, फाइलों की सुनिश्चित पहचान स्थापित करके आदि को सत्यापित किया जाए। इन सभी पर प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए।

केंद्रीय स्तर पर कदम उठाने की आवश्यकता

मुख्यमंत्री ने पत्र में आगे लिखा है कि चूंकि ऑनलाइन सट्टेबाजी या जुए का कारोबार चलाने वाले लोगों की आपराधिक गतिविधियां अंतरराष्ट्रीय बाजारों तक फैल गई हैं, इसलिए वे आधुनिक सूचना प्रौद्योगिकी तकनीकों और प्लेटफार्मों का उपयोग करके अपने अपराधों को अंजाम दे रहे हैं। बघेल ने लिखा है कि अब तक की जांच से इन अवैध कारोबारियों की पूरी कार्यप्रणाली एजेंसियों के संज्ञान में आ गई है, इसलिए इनके कारोबार और बैंक खातों के अवैध संचालन को रोकने के लिए हर स्तर पर निवारक उपाय करने की सख्त जरूरत है। आरोपियों द्वारा उपयोग किया जाना तुरंत बंद किया जाना चाहिए। उन्होंने लिखा कि इसे रोकने के लिए कदम उठाए जाने चाहिए, जो केंद्रीय स्तर पर किया जा सकता है। यह अपरिहार्य हो गया है कि केंद्र सरकार अपनी शक्तियों का उपयोग करते हुए इस दिशा में उचित कार्रवाई करे और इन पर पूर्ण प्रतिबंध लगाए ताकि देश के करोड़ों लोगों को इस अवैध कारोबार के चंगुल में फंसने से बचाया जा सके।

(इनपुट: आईएएनएस)

यह भी पढ़ें- 

विधानसभा चुनाव 2023: नेताओं से ज्यादा धनवान हैं पत्नियां, कमलनाथ-भूपेश बघेल ने किया संपत्ति का खुलासा

काउंटिंग से पहले खैरागढ़ पहुंचे पूर्व सीएम डॉ रमन सिंह, एग्जिट पोल को लेकर कही ये बात

Latest India News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Politics News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन

Advertisement
Advertisement
Advertisement