1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. गौरव चंदेल मर्डर केस: STF को सौंपी गई जांच, बिसरख कोतवाल और 2 चौकी इंचार्ज सस्पेंड

गौरव चंदेल मर्डर केस: STF को सौंपी गई जांच, बिसरख कोतवाल और 2 चौकी इंचार्ज सस्पेंड

उत्तर प्रदेश के नोएडा में एक निजी कंपनी के रीजनल मैनेजर गौरव चंदेल की हत्या और लूट के मामले में पुलिस के हाथ अभी तक कोई सुराग नहीं लग पाया है।

IANS IANS
Published on: January 11, 2020 12:34 IST
Gaurav Chandel Murder Case, Gaurav Chandel, Murder Case, Gaurav Chandel Murder Case Latest News- India TV
गौरव चंदेल मर्डर केस: STF को सौंपी गई जांच, बिसरख कोतवाल और 2 चौकी इंचार्ज सस्पेंड | India TV Representational

गौतमबुद्ध नगर: उत्तर प्रदेश के नोएडा में एक निजी कंपनी के रीजनल मैनेजर गौरव चंदेल की हत्या और लूट के मामले में पुलिस के हाथ अभी तक कोई सुराग नहीं लग पाया है। इस बीच मेरठ मंडल की आयुक्त अनिता सी. मेश्राम और मेरठ परिक्षेत्र के पुलिस महानिरीक्षक आलोक सिंह शुक्रवार को पीड़ित परिवार से मिले। परिवार ने जो कुछ चौंकाने वाली जानकारियां दोनों आला अफसरों को दीं, उसे सुनकर अफसरों ने आनन-फानन में मामले की जांच स्पेशल टास्क फोर्स (STF) के हवाले कर दी।

हत्यारों को पकड़ने में अभी तक नाकाम

रिपोर्ट्स के मुताबिक, हत्या और लूट के इस मामले में 5 दिन से हत्यारों को पकड़ने में नाकाम रहे बिसरख थाना इंचार्च मनोज पाठक, उनके मातहत दारोगा वेदपाल सिंह तोमर, राजेंद्र कुमार सिंह और फेज-3 कोतवाली की गढ़ी चौखंडी इंचार्ज दारोगा मान सिंह को सस्पेंड कर दिया गया है। इसके अलावा क्षेत्राधिकारी-3 ग्रेटर नोएडा राजीव कुमार की रिपोर्ट के आधार पर चेरी काउंटी चौकी प्रभारी दारोगा सन्नी जावला और चौकी इंचार्ज गौर सिटी को घटना वाली रात लेट-लतीफी के चलते लाइन-हाजिर किया गया है। इस मामले में लापरवाही के चलते नपने वाले लापरवाह दारोगाओं में सब-इंस्पेक्टर मान सिंह गढ़ी चौखंडी प्रभारी थे।

‘रात को पुलिसवालों ने भगा दिया था’
बता दें कि मेरठ की मंडलायुक्त और पुलिस महानिरीक्षक शुक्रवार को गौरव चंदेल के घर पहुंचे थे। तब परिवार वालों ने इस हत्याकांड और लूट की वारदात में इलाकाई पुलिसकर्मियों की कारगुजारियों से उन्हें वाकिफ कराया था। गौरव चंदेल ग्रेटर नोएडा वेस्ट स्थित गौर सिटी में रहते थे। 7 जनवरी, 2020 की रात घर से चंद फर्लांग की दूरी पर लूट के बाद उनकी हत्या कर दी गई थी। परिवार वाले जब थाने और इलाके में मौजूद पुलिस चौकियों पर पहुंचे तो नींद के मारे पुलिस वालों ने उन्हें वहां से भगा दिया था। 

घरवालों ने तलाशी गौरव की लाश
पुलिसकर्मियों ने कहा था कि दिन निकलने पर अगले दिन आना तब गौरव को तलाश लेंगे। जबकि गौरव की लाश परिवार वालों ने उसी रात (मंगलवार तड़के 4 बजे) इलाके में तलाश ली थी। मामले में पुलिस वालों द्वारा बरती गई लापरवाही की जांच के आदेश तत्कालीन वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक वैभव कृष्ण ने भी दिए थे। वह जांच पूरी हो पाती और दोषी व निठल्ले बिसरख कोतवाल और उनके मातहत दारोगा चौकी इंचार्ज नप पाते, उससे पहले यूपी सरकार ने वैभव कृष्ण को ही सस्पेंड कर दिया।

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Uttar Pradesh News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
chunav manch
Write a comment
chunav manch
bigg-boss-13