1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. उत्तर प्रदेश
  5. यूपी में कोरोना के 34 हजार से ज्यादा नए मामले आए, ग्रीन कॉरिडोर बनाकर हो रही ऑक्सीजन की सप्लाई

UP corona Oxygen Update: यूपी में कोरोना के 34 हजार से ज्यादा नए मामले आए, ग्रीन कॉरिडोर बनाकर हो रही ऑक्सीजन की सप्लाई

उत्तर प्रदेश में पिछले 24 घंटों में गुरुवार को कोरोना वायरस के 34,379 नए मामले सामने आए हैं। वहीं अस्पतालों में कोरोना मरीजों की स्थिति को ध्यान में रखते हुए ऑक्सीजन की सप्लाई बढ़ा दी गई है।

IndiaTV Hindi Desk IndiaTV Hindi Desk
Updated on: April 22, 2021 18:45 IST
यूपी में कोरोना के 34 हजार से ज्यादा नए मामले आए- India TV Hindi
Image Source : FILE PHOTO यूपी में कोरोना के 34 हजार से ज्यादा नए मामले आए

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना को लेकर हालात लगातार बिगड़ते जा रहे हैं। गुरुवार (22 अप्रैल) को कोरोना के 34 हजार से ज्यादा नए मामले आए जबकि राजधानी के कुछ अस्पतालों में मेडिकल ऑक्सीजन खत्म होने की शिकायतें आ रही हैं। हालांकि, प्रशासन अस्पतालों में ऑक्सीजन की आपूर्ति को लेकर नजर बनाए हुए हैं। वहीं अस्पतालों में कोरोना मरीजों की स्थिति को ध्यान में रखते हुए ऑक्सीजन की सप्लाई को लेकर योगी सरकार ने खास व्यवस्था के साथ सप्लाई बढ़ा दी है। 

उत्तर प्रदेश में पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना वायरस संक्रमित 195 लोगों की मौत हो गई तथा 34379 नए मरीजों में इस संक्रमण की पुष्टि हुई। यह दोनों ही आंकड़े अब तक के सर्वाधिक हैं। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अपर मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य में कोविड-19 संक्रमित 195 और मरीजों की मौत हो गई। इसके साथ राज्य में इस वायरस से मरने वालों की संख्या बढ़कर 10,541 हो गई है। उन्होंने बताया कि पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य में 34,379 नए मरीजों में कोविड-19 संक्रमण की पुष्टि हुई है। इसी अवधि में 16,514 मरीज ठीक भी हुए हैं। 

प्रदेश में एक दिन में कोविड-19 संक्रमित मरीजों की मौतों और नए रोगियों का यह अब तक का सबसे बड़ा आंकड़ा है। इससे पहले बुधवार को 187 मरीजों की मौत हुई थी तथा 33214 नए रोगियों में कोविड-19 संक्रमण की पुष्टि की गई थी। प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में इस वक्त 2,59,810 कोविड-19 संक्रमित मरीजों का इलाज किया जा रहा है।

जानिए यूपी में वैक्सीनेशल का हाल

अमित मोहन प्रसाद ने आगे बताया कि अब तक 94,70,345 लोग वैक्सीन की पहली डोज़ ले चुके हैं। इनमें से 18,14,824 लोग वैक्सीन की दूसरी डोज़ भी ले चुके हैं। जो भी व्यक्ति 45 साल से ज्यादा उम्र के हैं वे अपना टीकाकरण तुरंत कराएं। बता दें कि 1 मई से राज्य में 18 साल के ऊपर के लोगों को फ्री में वैक्सीन लगाने का योगी सरकार ने निर्णय लिया है। 

ग्रीन कॉरिडोर बनाकर की जा रही ऑक्सीजन की सप्लाई

उत्तर प्रदेश ADG (कानून व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने कहा कि, जीवन उपयोगी दवाएं जैसे रेमडेसिविर की कालाबाजारी से निपटने के लिए जिला पुलिस एवं एसटीएफ को निर्देश को दिए गए हैं, गिरफ्तारियां भी की गई हैं। ऑक्सीजन की सुचारू रूप से अस्पतालों में सप्लाई के लिए टैंकर किसी भी जनपद में आ रहे हैं उनको ग्रीन कॉरिडोर बनाकर संबंधित अस्पताल तक पहुंचाने के निर्देश दिए गए हैं। ऑक्सीजन से भरे हुए टैंकर रेल मार्ग से आएंगे, उनकी सुरक्षा के लिए भी निर्देश जारी किए गए हैं।

इसके पूर्व, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोविड-19 संक्रमण की स्थिति की समीक्षा की। राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने बताया कि योगी ने बैठक में कहा कि प्रदेश के कुछ जिलों से ऑक्सीजन कंसंट्रेटर की आवश्यकता जताई गई है। स्वास्थ्य विभाग आज ही संबंधित जिलों को ऑक्सीजन कंसंट्रेटर उपलब्ध कराए। इसकी उपलब्धता बढ़ाने के लिए केंद्र सरकार से भी सहयोग लिया जा सकता है। योगी ने कहा कि कोविड संक्रमित मरीजों के परिजनों के साथ यथोचित सम्मान के साथ संवेदनशील व्यवहार किया जाए। उन्होंने निर्देश दिया कि अंतिम संस्कार की क्रिया कोविड प्रोटोकॉल के अनुरूप पूरे सम्मान के साथ संपन्न करायी जाए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार के सहयोग से प्रदेश को बहुत जल्द रेमडेसिविर की सवा लाख शीशी प्राप्त हो जाएंगी। इससे प्रदेश में रेमडेसिविर की आपूर्ति और व्यवस्थित हो जाएगी। औषधि प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग सभी जीवनरक्षक दवाओं की मांग और आपूर्ति के बीच संतुलन सुनिश्चित करे। इन आवश्यक दवाओं की कालाबाजारी और जमाखोरी करने वालों के विरुद्ध कठोरतम कार्रवाई की जाए।

योगी ने सभी अस्पतालों में ऑक्सीजन की निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित करने के निर्देश देते हुए कहा कि ऑक्सीजन रीफिल केंद्रों पर जिम्मेदार अधिकारियों की तैनाती की जाए। ऑक्सीजन टैंकरों को जीपीएस से जोड़ा जाए तथा प्लांट पर पर्याप्त पुलिस बल तैनात किया जाए। हर ऑक्सीजन टैंकर के साथ सुरक्षा के जरूरी इंतज़ाम किए जाएं। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि बढ़ती मांग के अनुरूप राज्य सरकार द्वारा ऑक्सीजन आपूर्ति बढ़ाने के लिए सभी जरूरी प्रयास किए जा रहे हैं।

वर्तमान में स्थिति पूरी तरह नियंत्रित है। उन्होंने कहा कि सभी छोटे-बड़े अस्पतालों की स्थिति पर हर वक्त नजर रखी जाए। मुख्यमंत्री ने बताया कि लिक्विड ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिए टैंकरों/सिलिंडरों का भी कोई अभाव नहीं है, फिर भी, बदलती परिस्थितियों को देखते हुए अतिरिक्त टैंकरों और सिलिंडरों की व्यवस्था तत्काल सुनिश्चित कराई जाए।

गौतम बुद्ध नगर में कोविड-19 के 522 नए मामले

जनपद गौतम बुद्ध नगर में गुरुवार सुबह तक कोरोना वायरस से संक्रमित 522 नए मरीज पाए गए हैं, जबकि महामारी के कारण 11 और मरीजों की जान चली गई। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। जिला निगरानी अधिकारी डॉक्टर सुनील दोहरे ने बताया कि 522 नए मरीजों के सामने आने से जिले में संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 32,625 हो गई है जबकि 11 और मरीजों की मौत के बाद महामारी से जान गंवाने वालों का कुल आंकड़ा 129 पहुंच गया है। उन्होंने बताया कि आज 444 मरीजों को उपचार के बाद ठीक होने पर अस्पताल ते छुट्टी दे दी गई। उन्होंने बताया कि जनपद के विभिन्न अस्पतालों में करीब 4100 मरीज उपचाराधीन हैं जबकि 28 हजार से ज्यादा मरीजों को ठीक होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दी जा चुकी है।

आंधी तूफान से पांच लोगों की मौत, मुख्यमंत्री ने किया मदद का ऐलान 

उत्तर प्रदेश में बुधवार देर रात आई तेज आंधी और बूंदाबांदी के कारण हुई घटनाओं में कम से कम पांच लोगों की मौत हो गई। एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इन घटनाओं का संज्ञान लेते हुए मृतकों के परिजन को चार-चार लाख रुपये की सहायता देने की घोषणा की है। 

राज्य सरकार के प्रवक्ता के मुताबिक बुधवार प्रदेश में देर रात तेज आंधी-तूफान के कारण पेड़ गिरने तथा अन्य घटनाओं में पांच लोगों की मौत हो गई। इनमें अयोध्या में दो, लखीमपुर खीरी, गोंडा तथा फिरोजाबाद में एक-एक व्यक्ति की मौत की सूचना है। प्रवक्ता के अनुसार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस मामलों पर संज्ञान लेते हुए जिलाधिकारियों को आंधी-तूफान और बारिश से प्रभावित लोगों को तत्काल राहत पहुंचाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने इस आपदा में दिवंगत हुए लोगों के परिजनों को चार-चार लाख रुपये की सहायता राशि तत्काल वितरित किए जाने के निर्देश भी दिए हैं। 

योगी ने कहा कि सम्बन्धित जिलाधिकारी नुकसान का आकलन करते हुए प्रभावितों को अविलम्ब मुआवजा प्रदान करें। उन्होंने कहा है कि राहत कार्यों में किसी प्रकार की शिथिलता बर्दाश्त नहीं की जायगी। इस बीच मौसम केंद्र के रिपोर्ट के मुताबिक पिछले 24 घंटों के दौरान प्रदेश में कुछ स्थानों पर आंधी-तूफान और हल्की बूंदाबांदी हुई। इस अवधि में लखनऊ, बाराबंकी, गोंडा तथा सीतापुर में तीन-तीन सेंटीमीटर बारिश दर्ज की गई। 

इसके अलावा एल्गिन ब्रिज (बाराबंकी), महराजगंज, बलिया, श्रावस्ती, उन्नाव, बरेली तथा मुरादाबाद में दो-दो सेंटीमीटर बारिश दर्ज की गई। पिछले 24 घंटों के दौरान बांदा राज्य का सबसे गर्म स्थान रहा जहां अधिकतम तापमान 39.8 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। अगले 24 घंटों के दौरान भी राज्य में कुछ स्थानों पर तेज हवा चलने और बिजली चमकने की संभावना है।

राहत की खबर: देश में मेडिकल ऑक्सीजन सप्लाई को लेकर गृह मंत्रालय ने लिया बड़ा फैसला

 

India TV पर देश-विदेश की ताजा Hindi News और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ते हुए अपने आप को रखिए अप-टू-डेट। Live TV देखने के लिए यहां क्लिक करें। Uttar Pradesh News in Hindi के लिए क्लिक करें भारत सेक्‍शन
Write a comment
X