Banda Boat Accident: राखी बांधने मायके जा रही थीं बहनें, बीच नदी में पलट गई नाव, 4 के शव निकाले गए, 2 दर्जन से ज्यादा लापता

Banda Boat Accident: रक्षाबंधन पर्व पर समगरा गांव से महिलाएं और लोग बांदा जिले के मरका थाना क्षेत्र के यमुना घाट पर पहुंचे थे। यहां से दोपहर को करीब 40 लोगों से भरी एक नाव फतेहपुर जिले के जरौली घाट जा रही, तभी बीच जलधारा में तेज हवा का झोंका आने से नाव डगमगा कर पलट गई।

Khushbu Rawal Written By: Khushbu Rawal
Published on: August 11, 2022 19:11 IST
Banda Boat Accident- India TV Hindi News
Image Source : TWITTER Banda Boat Accident

Highlights

  • यूपी के बांदा में यात्रियों से भरी नाव पलटी
  • करीब 2 दर्जन लोगों के डूबने की खबर
  • अब तक 4 शव बरामद, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

Banda Boat Accident: उत्तर प्रदेश के बांदा (Banda) जिले में गुरुवार को यमुना नदी में नाव पलटने से बड़ा हादसा हो गया है। इस हादसे में 4 लोगों की जान चली गई जबकि बाकी लोगों की तलाश की जा रही है। बांदा से फतेहपुर जा रही नाव पर क्षमता से ज्यादा करीब 40 लोग सवार थे जिनमें 20 से 25 महिलाएं बताई जा रही हैं। ये महिलाएं रक्षाबंधन पर राखी बांधने के लिए मायके जा रही थीं। यमुना में बैलेंस बिगड़ने से यात्रियों से भरी नाव पलट गई जिसमें करीब 2 दर्जन लोगों के डूबने की खबर आ रही है। मौके पर प्रशासन की टीम पहुंच चुकी है। राहत और बचाव का काम चल रहा है। यमुना में गोताखोर भी उतारे गए हैं, साथ ही बोट पर कितने लोग सवार थे इसकी जांच की जा रही है।

अपनों की तलाश में बिलखते रहे लोग

पुलिस ने बताया कि रक्षाबंधन पर्व (Rakshabandhan) पर समगरा गांव से महिलाएं और लोग बांदा जिले के मरका थाना क्षेत्र के यमुना घाट पर पहुंचे थे। यमुना घाट से दोपहर को करीब 40 लोगों से भरी एक नाव फतेहपुर जिले के जरौली घाट जा रही, तभी बीच जलधारा में तेज हवा का झोंका आने से नाव डगमगा कर पलट गई। अब तक चार लोगों के शव नदी से निकाले जा चुके हैं, जिनकी शिनाख्‍त की कोशिश की जा रही है। करीब आठ लोग तैरकर बाहर आ गए जबकि 2 दर्जन से ज्यादा लापता हैं। गोताखोरों की मदद से लापता लोगों की तलाश की जा रही है। नाव डूबने की खबर मिलते ही आसपास के गांवों के लोगों की भीड़ घाट पर पहुंच गई। उन सबकी निगाहें उफनाती यमुना नदी पर टिकी रहीं। अपनों की तलाश में पहुंचे लोग बिलखते रहे।

बीच नदी में पहुंची तो हिचकोले खाने लगी नाव
एक चश्मदीद ने बताया, "हम अपने गांव से पत्नी को लेकर ससुराल खागा राखी बंधवाने के लिए जा रहे थे। जब नदी के किनारे पहुंचे तो सिर्फ एक ही नाव थी। दोपहर 3 बजे का समय था नदी पार जाने वालों की भीड़ ज्यादा थी। देखते देखते नाव में करीब 40 लोग सवार हो गए और कुछ मोटर साइकिल भी नाव पर रख दी गईं।" आगे उन्होंने बताया कि नाव जब बीच नदी में पहुंची तो हिचकोले खाने लगी जिसके बाद लोग डर गए और इधर उधर खिसकने लगे।

उन्होंने बताया, ''इसी बीच एक तरफ लोगों की संख्या ज्यादा हो गई और नाव एक दम से पलट गई। कुछ लोग तो तैरने लगे लेकिन महिलाएं और बच्चे डूबने लगे। देखते-देखते बीच धार में लोग बहते चले जा रहे थे। इसी बीच पास में आई एक दो नाव ने कुछ लोगों को खींचना शुरू कर दिया। इसी में मैं भी एक नाव पर चढ़ गया। लेकिन कई महिलाएं और बच्चे बह गए।"

CM योगी ने जताया दुख
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घटना पर दुख व्यक्त किया है और जिला अधिकारियों को बचाव अभियान शुरू करने और लापता लोगों को बचाने के लिए हर संभव प्रयास करने का निर्देश दिया है।

Latest Uttar Pradesh News

navratri-2022