1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. ऑटो
  5. महिंद्रा लॉजिस्टिक्‍स ने किया मेरू कैब्‍स का अधिग्रहण, टाटा मोटर्स ने बैंक ऑफ इंडिया के साथ मिलाया हाथ

महिंद्रा लॉजिस्टिक्‍स ने किया मेरू कैब्‍स का अधिग्रहण, टाटा मोटर्स ने बैंक ऑफ इंडिया के साथ मिलाया हाथ

मेरू का अधिग्रहण करने के बाद महिंद्रा लॉजिस्टिक्स के मोबिलिटी बिजनेस में वृद्धि होगी। एमएलएल पहले ही एंटरप्राइज मोबिलिटी सर्विसेस बिजनेस में लीडर है।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Published on: November 09, 2021 16:53 IST
Mahindra Logistics acquires Meru Cabs, Tata Motors ties up with Bank of India for vehicle financing- India TV Paisa
Photo:MERU

Mahindra Logistics acquires Meru Cabs, Tata Motors ties up with Bank of India for vehicle financing

नई दिल्‍ली। महिंद्रा लॉजिस्टिक्‍स ने मंगलवार को मेरू कैब्‍स का अधिग्रहण करने की घोषणा की। एंटरप्राइज मोबिलिटी क्षेत्र में महिंद्रा लॉजिस्टिक्‍स लिमिटेड के कारोबार का एकीकरण और विस्‍तार के लिए यह अधिग्रहण एक रणनीतिक कदम है। कंपनी ने एक बयान में कहा कि महिंद्रा लॉजिस्टिक्‍स ने मेरू ट्रैवल सॉल्‍यूसंश प्रा. लि. (एमटीएसपीएल) से मेरू मोबिलिटी टेक प्राइवेट लिमिटेड, वी-लिंक फ्लीट सॉल्‍यूसंश प्राइवेट लिमिटेड और वी-लिंग ऑटोमोटिव सर्विसेस प्रा. लि. की 100 प्रतिशत इक्विटी शेयर कैपिटल और महिंद्रा एंड महिंद्रा लि. से एमटीएसएपीएल की 100 प्रतिशत इक्विटी शेयर कैपिटल का अधिग्रहण किया है।  

राइडशेयरिंग कंपनी मेरू कैब्‍स की स्‍थापना 2006 में हुई थी। एयरपोर्ट राइड हैलिंग सेगमेंट में मेरू की महत्‍वपूर्ण उपस्थिति है। यह देश में ऑन-कॉल और कॉरपोरेट्स के लिए इम्‍प्‍लॉई मोबिलिटी सर्विसेस उपलब्‍ध कराती है। मेरू के पास उसके बेड़े में सबसे ज्‍यादा इलेक्ट्रिक वाहन भी हैं।  मेरू का अधिग्रहण करने के बाद महिंद्रा लॉजिस्टिक्‍स के मोबिलिटी बिजनेस में वृद्धि होगी। एमएलएल पहले ही एंटरप्राइज मोबिलिटी सर्विसेस बिजनेस में लीडर है।

टाटा मोटर्स ने वाहन ऋण के लिए बैंक ऑफ इंडिया के साथ समझौता किया

टाटा मोटर्स ने अपने यात्री वाहनों के ग्राहकों को ऋण का विकल्प प्रदान करने के लिए बैंक ऑफ इंडिया (बीओआई) के साथ साझेदारी की है। कंपनी ने एक बयान में कहा कि इस साझेदारी के तहत बीओआई टाटा मोटर्स के ग्राहकों को 6.85 प्रतिशत के निचले स्तर से शुरू होनी वाली ब्याज दर पर ऋण मुहैया कराएगा। इसके अलावा इस योजना के तहत वाहन की कुल लागत पर अधिकतम 90 प्रतिशत ऋण दिया जाएगा, जिसमें बीमा और पंजीकरण भी शामिल होंगे।

कंपनी ने कहा कि ग्राहक सात साल की भुगतान अवधि पर 1,502 रुपये प्रति लाख से शुरू होने वाली मासिक किस्त (ईएमआई) का विकल्प भी चुन सकते हैं। टाटा मोटर्स के यात्री वाहन कारोबार इकाई (बिक्री, विपणन, कस्टमर केयर) के उपाध्यक्ष राजन अंबा ने कहा कि यह साझेदारी हमारे ‘फाइनेंस ईजी फेस्टिवल’ के अनुरूप है, जिसमें हम भारत भर में कई वित्तपोषण साझेदार के साथ भागीदारी करते हैं ताकि कारों के मालिकाना हक को सुलभ बनाया जा सके। बयान में कहा गया है कि इस साझेदारी के तहत पारंपरिक कारों और एसयूवी की नई फोरएवर रेंज के खरीदारों को लाभ होगा। इसके अलावा देशभर में व्यक्तिगत खंड में इलेक्ट्रिक वाहन खरीदने वाले ग्राहकों को इस पेशकश का लाभ मिलेगा। 

Write a comment
bigg boss 15