1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. एयर इंडिया के लिये बोली लगाने के बारे अभी कुछ कहना जल्दबाजी: टाटा संस प्रमुख चंद्रशेखरन

एयर इंडिया के लिये बोली लगाने के बारे अभी कुछ कहना जल्दबाजी: टाटा संस प्रमुख चंद्रशेखरन

टाटा संस के चेयरमैन एन. चंद्रशेखरन ने बुधवार को कहा कि एयर इंडिया के बारे में अभी कुछ कहना जल्दबाजी होगी। सरकार ने एयरलाइन में पूरी 100 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचने का निर्णय किया है।

India TV Business Desk India TV Business Desk
Published on: February 06, 2020 10:53 IST
Tata Sons, Chairman, N Chandrasekaran, SUV segment, Auto Expo 2020- India TV Paisa
Photo:PTI

Tata Sons Chairman N Chandrasekaran (R) unveils the Tata Gravitas in the SUV segment, at the Auto Expo 2020 in Greater Noida on Wednesday.

ग्रेटर नोएडा। टाटा संस के चेयरमैन एन. चंद्रशेखरन ने बुधवार को कहा कि एयर इंडिया के बारे में अभी कुछ कहना जल्दबाजी होगी। सरकार ने एयरलाइन में पूरी 100 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचने का निर्णय किया है। यहां शुरू हुई वाहन प्रदर्शनी के दौरान यह पूछे जाने पर कि क्या टाटा समूह एयर इंडिया में हिस्सेदारी लेने के लिये बोली लगाएगा? चंद्रशेखरन ने कहा, 'अभी इस बारे में कहना जल्दबाजी होगी।' 

टाटा संस के चेयरमैन चंद्रशेखरन ने यह बात ऐसे समय कही है जब कुछ मीडिया में यह रिपोर्ट आयी है कि सिंगापुर एयरलाइंस के साथ मिलकर टाटा समूह, एयर इंडिया के लिये बोली लगाने को लेकर आगे बढ़ रही है। इसमें कहा गया है कि टाटा समूह ने एयर एशिया इंडिया के एयर इंडिया एक्सप्रेस में विलय सहित इस खरीदारी को लेकर काम शुरू किया है। 

एयर एशिया इंडिया में टाटा समूह की 51 प्रतिशत हिस्सेदारी है जबकि एयर इंडिया एक्सप्रेस सार्वजनिक क्षेत्र की एयर इंडिया की पूर्ण स्वामित्व वाली अनुषंगी है। सरकार ने एयर इंडिया के साथ ही एयर इंडिया एक्सप्रेस के विनिवेश का भी फैसला किया है। केंद्र सरकार ने पिछले महीने प्रारंभिक सूचना ज्ञापन (पीआईएम) जारी किया है और राष्ट्रीय एयरलाइन में पूरी हिस्सेदारी बेचने की प्रक्रिया शुरू की है। 

टाटा मोटर्स अगले डेढ़-दो साल में पेश करेगी चार और वाहन: चंद्रशेखरन

टाटा समूह के चेयरमैन एन. चंद्रशेखरन ने बुधवार को कहा कि टाटा मोटर्स अगले डेढ़ से दो साल में चार और वाहन पेश करेगी। कंपनी ‘सेस’ (सीईएसएस) पर जोर दे रही है। सेस से आशय वाहनों के ‘कनेक्टेड’, ‘इलेक्ट्रिक’, ‘शेयर्ड’ और ‘सेफ‘ होने से है। यह भविष्य के परिवहन साधन होंगे। चंद्रशेखरन ने कहा, ‘‘टाटा मोटर्स समूह की अन्य कंपनियों के साथ मिलकर सुरक्षा पर विशेष जोर दे रहा है। वर्ष 2017 में टिगॉर को पेश करने के बाद हमने पिछले हफ्ते नेक्सा को पेश किया है। अगले डेढ़ से दो साल में हम चार और उत्पाद पेश करेंगे।’’ उन्होंने कहा कि टाटा मोटर्स, टाटा समूह की सात और कंपनियों के साथ मिलकर देश में इलेक्ट्रिक वाहन और भविष्य के सतत परिवहन के विस्तार पर काम कर रहा है। कंपनी के इस क्षेत्र में लगातार निवेश करते रहने की उम्मीद है।

Tata Motors, Sierra, Auto Expo 2020, Greater Noida

Image Source : PTI
Tata Motors Sierra, during the Auto Expo 2020 in Greater Noida on Wednesday.

कंपनी ने बुधवार को यहां ऑटो एक्सपो में चार वैश्विक लॉन्च किए। इसमें से एक कार बनने की प्रक्रिया में है जबकि एक को कंपनी ने बाजार में उतारा है। कंपनी ने 13.69 लाख रुपए में ‘हैरियर’ का मैनुअल संस्करण पेश किया। जबकि इसके ऑटोमैटिक संस्करण की कीमत 16.25 लाख रुपए रखी है। इसके अलावा कंपनी ने ग्रेविटास को भी पेश किया जो बाजार में 2020-21 की पहली छमाही में आएगी। नयी विंगर और प्राइमा के अलावा कंपनी नेक्सॉन ईवी की टेस्ट ड्राइव भी लोगों को उपलब्ध करा रही है। कंपनी ने यहां अपनी एचबीएक्स शो कार, सिएरा ईवी और हेक्सा सफारी को भी पेश किया है। 

Write a comment
X