1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. Reliance Jio 2021 में लॉन्‍च करेगी अपनी 5G सर्विस, मुकेश अंबानी ने किया ऐलान

Reliance Jio 2021 में लॉन्‍च करेगी अपनी 5G सर्विस, मुकेश अंबानी ने किया ऐलान

अंबानी ने कहा कि मैं आपको आश्वस्त करता हूं कि भारत में 5जी क्रांति में जियो सबसे आगे होगी और 2021 की दूसरी छमाही में हम अपनी 5जी सेवाओं की शुरुआत करेंगे।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Updated on: December 08, 2020 12:32 IST
Jio to launch 5G services in second half of 2021, says Mukesh Ambani - India TV Paisa

Jio to launch 5G services in second half of 2021, says Mukesh Ambani

नई दिल्‍ली। रिलायंस इंडस्‍ट्रीज (Reliance Industries) के चेयरमैन मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) ने मंगलवार को घोषणा की है कि रिलायंस जियो (Reliance Jio) ने 2021 की दूसरी छमाही में देश में अपनी 5जी सर्विस लॉन्‍च करने की योजना बनाई है। इंडियन मोबाइल कांग्रेस (India Mobile Congress) में बोलते हुए मुकेश अंबानी ने कहा कि देश में 5जी सेवाओं की शीघ्र शुरुआत करने और इसे हर जगह उपलब्‍ध कराने के लिए किफायती बनाने हेतु नीतियों की आवश्‍यकता है।

अंबानी ने कहा कि मैं आपको आश्‍वस्‍त करता हूं कि भारत में 5जी क्रांति में जियो सबसे आगे होगी और 2021 की दूसरी छमाही में हम अपनी 5जी सेवाओं की शुरुआत करेंगे। उन्‍होंने कहा कि घरेलू स्‍तर पर विकसित नेटवर्क, हार्डवेयर और टेक्‍नोलॉजी उपकरणों का इसमें इस्‍तेमाल किया जाएगा। जियो की 5जी सर्विस (Jio's 5G service) आत्‍मनिर्भर भारत की दिशा में उठाया गया अबतक का सबसे बड़ा कदम होगा।

30 करोड़ ग्राहक अभी भी 2जी में फंसे

मुकेश अंबानी ने कहा कि भारत में 30 करोड़ फोन ग्राहक अभी भी 2जी नेटवर्क में ही फंसे हुए हैं। उन्हें स्मार्टफोन में लाने के लिए नीतिगत कदमों की जरूरत है ताकि वह भी डिजिटल बदलाव की इस यात्रा में शामिल हो सकें। .

अंबानी ने कहा कि आज भारत दुनिया के बेस्‍ट डिजिटली-कनेक्‍टेड देशों में शामिल है। लेकिन यहां 30 करोड़ फोन यूजर्स अभी भी 2जी में फंसे हुए हैं और इन्‍हें स्‍मार्टफोन की दुनिया में लाने के लिए नीतिगत कदमों की जरूरत है ताकि वह भी डिजिटल लेनदेन में सक्षम बन सकें। उन्‍होंने कहा कि भारत सेमीकंडक्‍टर के विनिर्माण केंद्र के रूप में विकसित होने की पूरी क्षमता रखता है। हम बड़ी मात्रा में आयात पर निर्भर नहीं रह सकते हैं।   

उन्होंने कहा कि दुनिया की कई बड़ी कंपनियां भारत में विनिर्माण सुविधाएं लगा रही हैं। भारत ने चिप डिजाइन में विश्वस्तरीय क्षमता हासिल की है। उन्होंने कहा कि मेरा मानना है कि भारत अत्याधुनिक सेमीकंडक्टर उद्योग का प्रमुख केंद्र बन सकता है। जब सभी अंशधारक मिलकर काम करेंगे तो भारत हार्डवेयर में भी सॉफ्टवेयर जैसी सफलता सुनिश्चित कर सकेगा।

Write a comment
टोक्यो ओलंपिक 2020 कवरेज
X