1. You Are At:
  2. Hindi News
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. TCS 16,000 करोड़ रुपए के पुनर्खरीद से पहले शेयरधारकों को देगी 12 रुपए/शेयर का लाभांश, कर्मचारियों की बढ़ेगी सैलरी

TCS 16,000 करोड़ रुपए के पुनर्खरीद से पहले शेयरधारकों को देगी 12 रुपए/शेयर का लाभांश, कर्मचारियों की बढ़ेगी सैलरी

कंपनी ने एक अक्टूबर 2020 से अपने कर्मचारियों को प्रदर्शन आधारित वेतन वृद्धि देने की भी घोषणा की है। इस साल कोरोना वायरस महामारी के कारण कंपनी ने अप्रैल में होने वाली नियमित वेतन वृद्धि को टाल दिया था।

India TV Paisa Desk India TV Paisa Desk
Updated on: October 08, 2020 8:38 IST
TCS announces dividend of Rs12/share, Rs 16,000 crore buyback plan and increments- India TV Paisa
Photo:TATA GROUP

TCS announces dividend of Rs12/share, Rs 16,000 crore buyback plan and increments

नई दिल्‍ली। देश की सबसे बड़ी सॉफ्टवेयर सेवा प्रदाता कंपनी टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) ने बुधवार को 16,000 करोड़ रुपए मूल्य के शेयर पुनर्खरीद की बड़ी योजना की घोषणा की है। कंपनी ने अपने वित्‍तीय परिणामों की घोषणा करते हुए कहा कि चालू वित्‍त वर्ष 2020-21 की दूसरी तिमाही जुलाई-सितंबर में उसका एकीकृत शुद्ध लाभ 4.9 प्रतिशत बढ़कर 8,433 करोड़ रुपए रहा। कंपनी ने बताया कि शेयरों की पुनर्खरीद 3,000 रुपए प्रति इक्विटी शेयर के भाव पर की जाएगी। वर्ष 2017 और 2018 में भी टीसीएस ने इतनी ही राशि के शेयर पुनर्खरीद की थी। टीसीएस ने बुधवार को शेयर बाजार को दी सूचना में कहा कि कंपनी के निदेश्क मंडल की बुधवार को हुई बैठक में 5,33,33,333 इक्विटी शेयर के पुनर्खरीद प्रस्ताव को मंजूरी दी गई है। यह कंपनी की कुल चुकता शेयर पूंजी का 1.42 प्रतिशत है। यह पुनर्खरीद 3,000 रुपए प्रति इक्विटी शेयर पर होगी और 16,000 करोड़ रुपए से अधिक की नहीं होगी। कंपनी ने एक अक्‍टूबर 2020 से अपने कर्मचारियों को प्रदर्शन आधारित वेतन वृद्धि देने की भी घोषणा की है। इस साल कोरोना वायरस महामारी के कारण कंपनी ने अप्रैल में होने वाली नियमित वेतन वृद्धि को टाल दिया था।

पुनर्खरीद शेयर बाजार व्यवस्था का उपयोग कर निविदा पेशकश के जरिये होगा। कंपनी के अनुसार पुनर्खरीद डाक मत पत्र के जरिये विशेष प्रस्ताव को सदस्यों की मंजूरी पर निर्भर है। इस बारे में प्रक्रिया, समयसीमा और अन्य जरूरी जानकारी की घोषणा उपयुक्त समय में की जाएगी। इस बीच, विप्रो ने भी कहा कि निदेशक मंडल 13 अक्टूबर को पुनर्खरीद प्रस्ताव पर विचार करेगा। हालांकि कंपनी ने इस बारे में और कोई ब्योरा नहीं दिया। टीसीएस का 3,000 रुपए प्रति इक्विटी शेयर की पेशकश बीएसई में बुधवार को बंद कंपनी के शेयर भाव 2,737.4 रुपए के मुकाबले 9 प्रतिशत अधिक है।

इससे पहले, टीसीएस ने 2018 में भी 16,000 करोड़ रुपए मूल्य के शेयरों की पुनर्खरीद की थी। इसमें 2,100 रुपए प्रति शेयर की पेशकश की गई थी। कंपनी ने 2017 में भी इतने ही मूल्य के शेयरों की पुनर्खरीद की थी। टीसीएस ने अलग से दी सूचना में कहा कि उसके मुख्य वित्त अधिकारी वी रामकृष्णन 30 अप्रैल, 2021 को सेवानिवृत्त होंगे। निदेशक मंडल ने समिति की सिफारिश के आधार पर समीर सेकसरिया को मुख्य वित्त अधिकारी मनोनीत किया है। वह एक मई, 2021 से मुख्य वित्त अधिकारी का पदभार संभालेंगे। 

टीसीएस देगी 12 रुपए प्रति शेयर का लाभांश 

टीसीएस का एकीकृत शुद्ध लाभ चालू वित्त वर्ष 2020-21 की दूसरी तिमाही जुलाई-सितंबर में 4.9 प्रतिशत बढ़कर 8,433 करोड़ रुपए रहा। कंपनी ने बुधवार को शेयर बाजार को दी सूचना में कहा कि शुद्ध लाभ में कानूनी दावे से जुड़े 1,218 करोड़ रुपए के प्रावधान को शामिल नहीं किया गया है। इन प्रावधानों को घटाने पर शुद्ध लाभ 7,475 करोड़ रुपए बनता है। इससे पूर्व वित्त वर्ष 2019-20 की दूसरी तिमाही में कंपनी को 8,042 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ हुआ था। कंपनी ने 12 रुपए प्रति शेयर अंतरिम लाभांश की भी सिफारिश की है।

कंपनी की आय चालू वित्त वर्ष की जुलाई-सितंबर तिमाही में 3 प्रतिशत बढ़कर 40,135 करोड़ रुपए रही जो एक साल पहले इसी तिमाही में 38,977 करोड़ रुपए थी।  टीसीएस के मुख्य कार्यपालक अधिकारी और प्रबंध निदेशक राजेश गोपीनाथ ने कहा कि मजबूत ऑर्डर, कई अच्‍छे सौदों के पाइपलाइन में होने और निरंतर बाजार में हिस्सेदारी के लाभ ने हमें भविष्य को लेकर भरोसा दिया है।

Write a comment